Connect with us

सेहत

सर्दियों में क्यों बढ़ जाता है जोड़ों का दर्द, ये होते हैं कारण, जानें कैसे पाएं राहत

Published

on



सर्दी जोड़ों के दर्द से परेशान लोगों की समस्या को और बढ़ा देती है. इस मौसम में ब्लड अच्छी तरह से संचरित नहीं हो पाता है और शरीर के अगले भागों में खून का बहाव बहुत कम हो जाता है. यही कारण है कि सर्दी के मौसम में एक छोटी सी चोट भी तेज और चुभन वाला दर्द पैदा कर सकती है. बैरोमीटर के दबाव में बदलाव होने से जोड़ों में सूजन हो सकती है. ज्यादा तला भुना खाने, व्यायाम न करना और डिहाइड्रेशन इस समस्या को और बढ़ा देते हैं. सर्दी के मौसम में जोड़ों में दर्द की परेशानी काफी ज्यादा हो सकती है. मौसम से संबंधित जोड़ों का दर्द आमतौर पर ऑस्टियोआर्थराइटिस और रुमेटाइइड गठिया से पीड़ित रोगियों में देखा जाता है और यह आमतौर पर कूल्हों , घुटनों , कोहनी , कंधों और हाथों को प्रभावित करता है.

गठिया से पीड़ित रोगी वायुदाब परिवर्तनों के प्रति अधिक संवेदनशील लगते हैं. तो कैसे पाएं सर्दियों में जोड़ों के दर्द से राहत. क्या खाने से जोड़ों का दर्द रहेगा ठीक. हम आपके सारे सवालों का जवाब दे रहे हैं कि सर्दियों में सर्दियों में जोड़ों के दर्द से कैसे बचा जा सकता है…

READ  स्वास्थ्य सेवा के लिए छत्तीसगढ़ को मिला प्रथम स्थान, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से डॉ. प्रियंका शुक्ला और निहारिका बारिक ने प्राप्त किया सम्मान

सर्दियों  में जोड़ों का दर्द बढ़ने के कारण

सर्दियों में शरीर हार्ट के पास के ब्लड को गर्म रखना चाहता है और इसके कारण जाइंट्स में ब्लड का सर्कुलेशन कम हो जाता है. इसके कारण जोड़ों में अधिक दर्द जकड़न होती है. सर्दियों में उन लोगों को जोड़ों में अधिक दर्द होता है जिन्हें पहले कभी आर्थोपेडिक संबंधी चोट लगी हो, फ्रैक्चर या मोच की समस्या हुई हो या जिनकी हड्डियों को जोड़ा गया हो.

  • नसों में खिंचाव आना

बारिश और सर्दी में ‘एटमॉसफेरिक प्रेशर’ यानी वायुमंडलीय दबाव कम हो जाता है. इससे जोड़ों में सूजन बढ़ने लगती है. ये जोड़ टखने, घुटने, नितम्ब, रीढ़, उंगलियों या शरीर के किसी भी हिस्से के हो सकते हैं. कई बार ये सूजन अंदरूनी होती है. सूजन आने से नसों में खिंचाव पैदा होता है. वे नाजुक हो जाती हैं.

  • जोड़ों का कसाव
READ  नागरिक संशोधन बिल के विरोध में कांग्रेस का एक दिवसीय धरना 

गर्मी में चीजें फैलती हैं और ठंड में सिकुड़ती हैं. अगर जीवनशैली सुस्त है तो जोड़ों के ऊपर ठंड का असर ज्यादा पड़ता है. कोशिकाएं और मांसपेशियां सिकुड़ने लगती हैं. जोड़ कठोर हो जाते हैं. उनके लचीलेपन में कमी आती है.

  • मिलता है कम ऑक्सीजन

सर्दी के दौरान खून की धमनियां संकुचित हो जाती हैं, जिससे खून का प्रवाह सामान्य ढंग से नहीं हो पाता. शरीर के विभिन्न अंगों तक खून,पानी और ऑक्सीजन की पूर्ति कम हो जाती है. इसकी वजह है कि खून में हिमोग्लोबिन होता है, जो ऑक्सीजन को एक जगह से दूसरी जगह तक ले जाता है.

  • कुछ अन्य कारण 

– जोड़ों पर यूरिक एसिड का इकट्ठा होना.
– कभी-कभी दर्द अनुवांशिक कारणों से भी जोड़ों में दर्द होता है.
– दर्द कमजोरी के चलते भी होते हैं.
– बासी खाना खाने, अपच, ठंडी सीलन भरी जगहों में रहना, तनाव इसके प्रमुख कारण हैं.

सर्दियों में जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए खाएं ये चीजें

  1. खाने में उन चीजों को शामिल करें, जो शरीर को गर्म रखें और वजन न बढ़ने दें. वजन बढ़ना, जोड़ों पर अधिक दबाव डालता है.
  2. मसालों में काली मिर्च, हल्दी, दाल चीनी शरीर को गर्म रखते हैं. अखरोट, पिस्ता, काजू, किशमिश, मूंगफली और बादाम मिला कर एक या दो मुट्ठी सूखे मेवे खाना भी फायदेमंद हो सकता है.
  3. मौसम्बी, संतरा, कीनू जैसे मौसमी फल और ब्रोकली, हरी सब्जियां या साग जैसे पालक, सरसों या राई का साग जरूर खाएं. इससे गठिया या जोड़ों के दर्द में भी आराम मिल सकता है.
  4. जोड़ों के दर्द से परेशान रहने वालों को विटामिन के, विटामिन सी और विटामिन डी, ज्यादा मात्रा में लेने चाहिए. संतरा, पालक, पत्तागोभी और टमाटर खाने से भी राहत मिल सकती है.
  5. हर रोज गुड़ खाएं. यह शरीर में खून की कमी को दूर करने में मदद कर सकता है.
  6. खजूर में विटामिन ए और बी के अलावा पोटैशियम, मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. इसका सेवन करना भी फायदेमंद हो सकता है.
READ  video : रायपुर नगर निगम नवनिर्वाचित पार्षद सीमा साहू ने अपने जीत का श्रेय कार्यकर्ताओं को दिया, विकास को लेकर कैसी रहेगी रणनीति पढ़िए पूरी खबर

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

खबरे छत्तीसगढ़3 hours ago

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने किया ध्वजारोहण

रायपुर ।मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती रीना बाबासाहेब कंगाले ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में ध्वजारोहण...

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर 100% मतदान वाले मतदान केन्द्र की बी.एल.ओ. श्रीमती गौरी सारथी को पुरस्कार*

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर 100% मतदान वाले मतदान केन्द्र की बी.एल.ओ. श्रीमती गौरी सारथी को पुरस्कार रायपुर। राष्ट्रीय मतदाता दिवस...

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

*राष्ट्रीय मतदाता दिवस : रोचक खेलों, प्रदर्शनी, ईवीएम और वीवीपैट के जरिए युवाओं ने जाना निर्वाचन प्रक्रियाओं के बारे में*

*राष्ट्रीय मतदाता दिवस : रोचक खेलों, प्रदर्शनी, ईवीएम और वीवीपैट के जरिए युवाओं ने जाना निर्वाचन प्रक्रियाओं के बारे में*...

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

*लोकसभा निर्वाचन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 10 अधिकारी पुरस्कृत*

  *निर्वाचन कार्यों के समग्र संपादन के लिए बीजापुर और ‘स्वीप’ में अच्छे कार्य के लिए धमतरी को पुरस्कार* *100%...

खबरे छत्तीसगढ़8 hours ago

‘मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदाता साक्षरता’ की थीम पर मनाया गया 10वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस*

  *रोचक खेलों, प्रदर्शनी और लघु फिल्मों के जरिए मतदाताओं को किया गया जागरूक, उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी सम्मानित*...

खबरे अब तक