जहर उगल रहे अवैध ईंट भट्ठों पर कयों नहीं हो पा रही कार्यवाही? – Channelindia News
Connect with us

Special News

जहर उगल रहे अवैध ईंट भट्ठों पर कयों नहीं हो पा रही कार्यवाही?

Published

on



चिरमिरी| प्रदूषण का जहर उगल रहे अवैध ईंट भट्ठों पर कार्यवाही क्यों नहीं होती यह सोचने का एक गंभीर विषय है।जिले के भारी संख्या में अवैध ईंट भट्ठों का संचालन हो रहा है। इसके संचालक नियम कायदे को धत्ता बताकर धडल्ले से प्रदूषण का जहर फैला इन भट्ठों का संचालन कर रहे हैं। कायदे से चिमनी भट्ठों के संचालन के लिए जिला खनन विभाग से अनापत्ति पत्र लेने की आवश्यकता है। इसी तरह बंगला भट्ठा पूरी तरह अवैध है। बावजूद इनका संचालन हो रहा है।

इसे भी पढ़े   पीएम मोदी आज मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे बैठक, वैक्सीन पर उठेंगे कई सवाल

ईंट भट्ठा के संचालन में पंचायत के प्रतिनिधियों की भूमिका भी अहम होती है। ईंट निर्माण के लिए मिट्टी की होनेवाली खुदाई में खेतों की उर्वरता एवं स्थानीय पर्यावरण का ख्याल नहीं रखा जा रहा है। प्रदूषण परिषद से अनुमति लिए बगैर जिले के कई ग्राम पंचायतों में अवैध ईंट भट्ठों का संचालन किया जा रहा है।जिले में भारी संख्या में नियमों को धता बताकर प्रदूषण का जहर उगलने वाले अवैध ईंट भट्ठों का संचालन किया जा रहा है।

भट्ठा संचालन का क्या है नियम

इसे भी पढ़े   जम्मू-कश्मीर: घुसपैठ की कोशिश कर रहे 2 आतंकियों को सेना ने किया ढेर, खतरनाक हथियार सहित गोलाबारूद बरामद

ईंट भट्ठे का संचालन आबादी से 2 सौ मीटर दूर होना चाहिए। मिट्टी खनन के लिए खनन विभाग की अनुमति जरुरी है। चिमनी रहना चाहिए जो लोहे के बजाय सीमेंट की होनी चाहिए। पर्यावरण लाइसेंस व प्रदूषण विभाग से अनुमति होना चाहिए। ईंट भट्ठा चलाने के लिए जिला पंचायत प्रदूषण विभाग एवं पर्यावरण विभाग की अनुमति जरूरी है। एक ईंट भट्ठा से सामान्यतया 750 एसएमसी तक प्रदूषण होता है।

इसे भी पढ़े   हिटमैन रोहित शर्मा, मनिका बत्रा, विनेश फोगाट और थंगावेलू को मिलेगा राजीव गांधी खेलरत्न पुरस्कार…. Channelindia.news
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india8 hours ago

पुलिस चौकी के सामने खड़ी एंबुलेंस अचानक लगी हिलने, पास जा कर देखा तो उड़ गए लोगों के होश…

एक तरफ कोरोना से हाहाकार मचा है। शहरों से लेकर गांवों तक देश का शायद ही कोई ऐसा कोना हो...

CHANNEL INDIA NEWS9 hours ago

प्रदेश के इस जिले में करना है प्रवेश तो देना होगा स्टेमिना टेस्ट, जानिए क्या करना पड़ेगा?

मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिला सीमा पर प्रवेश पर सख्ती दिखाने के लिए पुलिस अधीक्षक निवाड़ी आलोक कुमार सिंह ने...

channel india10 hours ago

10 साल की बच्ची को ब्लैक फंगस ने जकड़ा, इलाज जारी…

रायपुर(चैनल इंडिया)। कोरोना संक्रमण के बाद अब ब्लैक फंगस का खतरा बढ़ गया है. छत्तीसगढ़ में इसके चौकाने वाले मामले...

BREAKING10 hours ago

ब्रेकिंग न्यूज़: कोविड -19 के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए संपूर्ण कबीरधाम जिले में आगामी 31 मई सुबह 6 बजे तक कन्टेन्टमेंट क्षेत्र की समय सीमा बढ़ाई

कवर्धा(चैनल इंडिया)|  कलेक्टर एवं जिला  दंडाधिकारी रमेश कुमार शर्मा ने आज इस आदेश के आदेश एवं विस्तृत दिशा- निर्देश जारी...

BREAKING11 hours ago

बुजुर्ग ने किया कुत्ते का रेप, पुलिस ने दर्ज किया केस…

महाराष्ट्र के नालासोपारा जिले से चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक शख्स ने इंसानियत को शर्मशार कर कुत्ते...

Advertisement
Advertisement