क्या होता है जब लगती है ‘कोरोना वैक्सीन’, जानें ट्रायल में शामिल रिपोर्टर की कहानी – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

क्या होता है जब लगती है ‘कोरोना वैक्सीन’, जानें ट्रायल में शामिल रिपोर्टर की कहानी

Published

on

नई दिल्ली। ‘कोविड महामारी में अभी सारी उम्मीदें वैक्सीन पर टिकी हैं। इसलिए बुधवार को वैक्सीन के ट्रायल में शामिल होने के लिए मैं भी पहुंच गया। वैक्सीन को लेकर पिछले कुछ दिनों से बहुत पढ़ा है और लिखा भी है। इसलिए मन में कोई संशय नहीं था। एम्स के वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचा और वहां के स्टाफ को मैंने बताया कि ट्रायल में शामिल होना चाहता हूं। उन्होंने बिना समय गंवाए एक फॉर्म दिया। 9 पेज के इस फॉर्म पर वैक्सीन के बारे में जानकारी दी गई थी और उसमें कुछ पर्सनल डिटेल्स भरने थे।

यहां पर सब आराम से चल रहा था। न कोई कोरोना की दहशत थी और न ही कोई पैनिक वाली बात। स्टाफ भी बहुत अच्छे और मददगार थे। मैंने फॉर्म भरा, उसमें मुश्किल से 5 मिनट लगे। अपना एक आईकार्ड दिया। इसके बाद मेरा वजन और ब्लड प्रेशर चेक किया गया। फिर डॉक्टर के पास मुझे लेकर गए। वहां पर डॉक्टर ने सारे अपडेट को डिजिटली अपलोड किया और इस दौरान वैक्सीन को लेकर काउंसलिंग भी की। उन्होंने बताया कि यह वैक्सीन क्या है, कैसे काम करती है और वैक्सीनेशन के डोज के बाद अगर कोई दिक्कत होती है तो क्या करना है, सहित अन्य जानकारी दी गई।

इसे भी पढ़े   छत्तीसगढ़: क्वारंटाइन सेंटर से 14 लोग फरार, जिले में मचा हड़कंप, पुलिस तलाश में जुटी!!

इस दौरान वहां पर और भी लोग पहुंच रहे थे जो वैक्सीन में शामिल होना चाहते थे। हालांकि, उम्मीद के अनुसार ट्रायल में शामिल होने कम लोग आ रहे हैं। एक स्टाफ ने बताया कि पहले यह वैक्सीनेशन का ट्रायल साउथ दिल्ली के दक्षिणपुरी में चल रहा था, वहां पर कम लोग आते थे। पिछले कुछ दिनों से यह ट्रायल एम्स के लंग्स डिपार्टमेंट बिल्डिंग के रूम नंबर 5 में चल रहा है। अब यहां पर ट्रायल में शामिल होने वालों की संख्या बढ़ी है। ट्रायल में शामिल हुए सबजेक्ट में मेरा नंबर 477 था। जिस प्रकार सब ट्रायल का प्रोसीजर चल रहा था, उससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ता जा रहा था।

इसे भी पढ़े   बिना वीजा हो आवागमन, इस देश के राष्ट्रपति ने भारत के सामने रखा पस्ताव

इसके बाद मुझे सैंपल के लिए ले जाया गया। जहां पर पहले ब्लड सैंपल लिए गए ताकि मेरे अन्य पैरामीटर बाद में चेक किए जा सकें, उसके बाद एंटीबॉडी कोविड टेस्ट हुआ और इसके बाद वैक्सीन का शॉट दिया गया। कुछ सेकेंड भर का यह शॉट था। एक हल्की सी चुभन और इस महामारी के अंत के इलाज का हिस्सा बनने के अनुभव से अंदर ही अंदर रोमांचित हुआ। पहली बार ऐसा लगा कि मैं देश के काम आ सका। वैक्सीनेशन के बाद एक जूस दिया गया। आधे घंटे के इंतजार के दौरान हमें एक बुकलेट दी गई, जिसमें हमें समय समय पर होने वाली दिक्कत को लिखते रहना है। यह वैक्सीन दो डोज का है और अगली विजिट 27 जनवरी को है। वैक्सीनेशन के बाद घर आया, अभी तक कोई खास दिक्कत महसूस नहीं हुई है। ट्रायल का हिस्सा बन कर अच्छा लग रहा है।’

इसे भी पढ़े   चौकी बलंगी थाना रघुनाथनगर की बड़ी कार्यवाही : शासकीय राशी का गबन का आरोपी भोपाल से गिरफ्तार, पुलिस अधीक्षक द्वारा टीम को ईनाम राशि देने की घोषणा की गई
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

R.O. No. 11359/53

CG Trending News

channel india8 hours ago

गरिमापूर्ण तरीके से मनाया जाएगा गणतंत्र दिवस, कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए आयोजित होंगे कार्यक्रम

कवर्धा। गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 2021 के मुख्य ध्वाजारोहण समारोह आयोजन कवर्धा के पीजी कॉलेज आचार्य पंथ गृंधमुनी नाम साहेब...

channel india8 hours ago

श्रीराम मंदिर निधि समर्पण अभियान में बढ़ चढ़कर सहयोग करें : चंद्रशेखर साहू

गरियाबंद। ग्राम पंचायत श्यामनगर में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए निधि समर्पण अभियान की शुरुआत की गई जिसमें पूरे ग्रामवासियों...

channel india8 hours ago

छतीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री महन्त जी महाराज का जिला धमतरी एवं कांकेर प्रवास

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष राजेश्री डॉक्टर महन्त रामसुन्दर दास जी महाराज पीठाधीश्वर श्री दूधाधारी मठ रायपुर...

channel india8 hours ago

कवर्धा शहर के झुग्गी बस्ती ट्रांसपोर्ट नगर में ओपन हॉउस कार्यक्रम आयोजित

कवर्धा। भारत सरकार मंत्रालय महिला एवं बाल विकास विभाग नई दिल्ली एंव चाइल्ड लाइन इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से आस्था...

channel india8 hours ago

शर्मनाक: माँ ने अपने ही नवजात को कुल्हाड़ी से कई टुकड़ों में काटा, फिर दौड़ी अस्पताल…

भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसने सबका दिल दहला दिया हैं। दरअसल, अशोक...

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement