USA का एक शहर जिसे चलाते हैं, अमेरिकी मुस्लिम – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

USA का एक शहर जिसे चलाते हैं, अमेरिकी मुस्लिम

Published

on

क्या अमेरिका में मुस्लिमों का रहना बहुत मुश्किल है. एक समय था जब अमेरिका दुनिया भर में इस्लामिक आतंकवाद से लड़ रहा था, तब ऐसा माना भी जा सकता था. लेकिन आज अमेरिका में एक शहर ऐसा है जिसे मुस्लिम चलाते हैं. उसका प्रशासन मुस्लिमों के हाथों में है यानि मेयर से लेकर सारे निर्वाचित पदों पर मुस्लिमों को कब्जा है. इस तरह से यह अमेरिका का एकमात्र ऐसा शहर है, जहां मुस्लिम अमेरिकी सरकार है. अमेरिका के मिशिगन राज्य के वेन काउंटी इलाकों में बसे हैमट्रैम्क शहर के नाम ऐसी ही अनोखी उपलब्धि है.

पहले नहीं थे ज्यादा मुस्लिम

मजेदार बात यह है कि यहां केवल मुस्लिम ही रहते हैं ऐसा बिलकुल नहीं हैं, बल्कि यहां दुनिया की 30 भाषा बोलने वाले लोग रहते हैं फिर भी मुस्लिम आबादी यहां सबसे ज्यादा जरूर है. एक समय पर यहां पोलिश कैथोलिक लोग सबसे ज्यादा 90 प्रतिशत आबादी हुआ करते थे. लेकिन आज यहां ऐसा लगता है कि पूरी दुनिया एक गांव की तरह इस शहर में बसी हुई है.

आज है मुस्लिम बहुल

हैमट्रैम्क का क्षेत्रफल केवल 5 वर्ग किलोमीटर ही है और यहां की आबदी करीब 28000 ही है. यहां चर्च की घंटियों से लेकर मस्जिदों से अजान तक की आवाजें सुनाई देती हैं. कभी यहां मुस्लिमों को भेदभाव का सामना करना पड़ता था आज यहां के मुस्लिम बहुल संस्कृति वाले शहर का प्रमुख और एक बड़ा हिस्सा है.

विविधता की मिसाल

वैसे दुनिया भर में भेदभाव, नस्लभेद और रंगभेद के कारण आपसी सौहार्द्र देखने को नहीं मिलता है. लेकिन तमाम आर्थिक चुनौतियों और सांस्कृतिक वाद विवादों के बीच हैमट्रैम्क के अलग अलग धर्मों और संस्कृति वाले रहवासी एक साथ मिलजुलकर रहते हैं और अमेरिका में विविधता का बेहतरीन उदाहरण है.

क्या पहले भी ऐसा ही था हैमट्रैम्क

हैम्ट्रैम्क शहर अपने इतिहास में कई बदलावों से गुजरा है. इसकी शुरुआत जर्मन लोगों के बसने से हुई थी और आज यह शायह अमेरिका का पहला मुस्लिम बहुत शहर बन गया है. आज शहर की दुकानों का डिस्प्ले बोर्ड में अरबी और बंगाली ज्यादा दिखते हैं क्योंकि यहां बांग्लादेशी और यमन और बोस्निया के मुस्लिम प्रवासियों ने यहां की आबादी ज्यादा बढ़ाई है. बांग्लादेशी कपड़ों से लेकर पोलिश पैकज्की जैसे पोलिश डोनट के लिए लाइन लगाए मुस्लिम दिखना आम बात है.10 साल पुराने न्यूक्लिर हादसे से अब क्यों डर रहे हैं जापानी किसान

पहले पोलिश लोग थे ज्यादा

यहां बुरके वाली महिलाओं के साथ-साथ मिनीस्कर्ट और टैटू लगाए लड़कियां भी देखी जा सकती हैं. एक समय ऑटो उद्योग के ले मशहूर हैम्ट्रैम्क 20वी सदी की शुरुआत में लिटिल वरसॉ कहलाने लगा था. यहां पोलिश प्रवासी ब्लू कॉलर वाली नौकरियों के लिए आने लगे थे 1970 में 90 प्रतिशत से ज्यादा लोग पोलिश मूल के थे.

फिर बढ़ते गए मुस्लिम

इसी दशक में अमेरिकी कार उद्योग में मंदी आई और युवा बेहतर आर्थिक स्थिति वाले पोलिश अमेरिकी दूसरे इलाकों में जाने लगे हैम्ट्रैम्क मिशिगन का सबसे गरीब के शहर बनने लगा. लेकिन यहां अप्रवासी लोग बहुत आकर्षित हुए. पिछले 30 सालों में यमन और बांग्लादेश सहित दुनिया के की मुस्लिम यहां आए और आधे से ज्यादा लोग मुस्लिम हो गए. आज यहां की चुनी हुई सरकार में दो बंगाली अमेरिकी, तीन यमनी अमेरिकी और एक पोशिल अमेरिकी है जो इस्लाम अपना चुका है.

जानिए क्या है Eye Five और भारत के लिए क्या है इसकी अहमियत

आमेर गालिब अमेरिका के पहले यमनी अमेरिकन मेयर हैं. वे यहां 68 प्रतिशत वोट हासिल कर जीते हैं. 41 वर्षीय गालिब 24 साल पहले यमन से यहां आए थे. जो अब एक हेल्थकेयर व्यवासायी के तौर पर काम करते हैं. यहां के चुने हुए काउंसिल सदस्य भी यहां की साम्प्रदायिक एकता के बारे में गर्व से बताते हैं. और यहां दुनिया में चल रहे मुस्लिमों के साथ संघर्षों का कोई सरोकार कभी नहीं दिखा. हैरानी की बात तो यह है कि अमेरिका तक में मुस्लिमों के खिलाफ अमेरिका में आने को लेकर बैन लागने जैसी चर्चाओं और घटनाओं से भी हैमट्रैम्क बेअसर ही नजर आता है.

 

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING4 mins ago

कंगना रनौत ने दर्ज कराई FIR, जाने क्या है पूरा मामला…

अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है, जिसके जरिए एक्ट्रेस ने बताया कि उन्होंने उन...

BREAKING16 mins ago

CG News: निर्वाचन आयोग ने इन 103 लोगों के चुनाव लड़ने पर लगाई रोक

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के नगरीय निकायों में आम और उप चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। इस बीच राज्य...

BREAKING19 mins ago

Cm योगी ने दिए निर्देश, विदेश से आने वालों की पड़ताल हो और कहा- हर स्तर पर बरतें सावधानी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्चाधिकारियों को कोविड के ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर हर स्तर पर सावधानी बरतने के निर्देश दिए...

BREAKING3 hours ago

यहां के फैक्टरी में लगी भीषण आग, जवानों ने मौके पर पहुँचकर बचाई लोगों की जान…

पुलवामा में सोमवार देर रात एक फैक्टरी में आग लग गई। काम कर रहे कई मजदूर अंदर फंस गए। सूचना...

bilaspur3 hours ago

बाघ और बाघिन के बीच कातिलाना प्यार! जानिए क्या है पूरा मामला

लोरमी (चैनल इंडिया)| इंसानी रिश्तों में इश्क और फिर कत्ल की कहानी तो सभी ने खूब सुनी होगी, लेकिन छत्तीसगढ़...

Advertisement
Advertisement