Google play store पर मौजूद इन 14 ऐप्स ने लीक किया यूजर्स का डेटा – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

Google play store पर मौजूद इन 14 ऐप्स ने लीक किया यूजर्स का डेटा

Published

on

गूगल प्ले स्टोर पर कई लाखों ऐप्स हैं. कुछ ऐप्स मुफ्त हैं तो वहीं कुछ के लिए पैसे देने पड़ते हैं. ऐसे में ज्यादातर एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स यहीं से ऐप्स को इंस्टॉल करते हैं और चलाते हैं. लेकिन कई बार ये एंड्रॉयड ऐप्स यूजर्स के लिए दिक्कत खड़ी कर देते हैं जिससे उनकी पर्सनल जानकारी लीक हो जाती है. डेटा लीक के मामले में ऐप डेवलपर्स कई बार इसे ठीक भी कर देते हैं लेकिन लगातार ऐसे ऐप्स का इस्तेमाल करना आपके लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है.

साइबरन्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार फायरबेस कॉन्फिग्रेशन के गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद 14 एंड्रॉयड ऐप्स यूजर्स का डेटा लीक कर रहे हैं. ये ऐप्स यूजर्स की प्राइवेट जानकारी को ऑनलाइन लीक कर रहे हैं. फायरबेस प्लेटफॉर्म गूगल का ही है. इसका फायदा सीधे डेवलपर्स को होता है जिससे वो ऐप्स के भीतर बदलाव कर सकें. रिपोर्ट में बताया गया है कि, ये ऐप्स काफी मशहूर हैं और इन्हें 140 मिलियन से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है.

रिसर्चर्स ने यहां 1100 सबसे मशहूर ऐप्स का खुलासा किया जो प्लेस्टोर पर 55 कैटेगरी में मौजूद हैं. इन्हें इनके डिफॉल्ट फायरबेस एड्रेस की मदद से पहचाना गया. रिसर्चर्स ने कहा कि, एड्रेस का पता करने के बाद हमने डेटाबेस परमिशन कॉन्फिगरेशन को चेक किया और फिर गूगल के REST API की मदद से एक्सेस करने की कोशिश की.

रिपोर्ट में आगे बताया गया कि, इन ऐप्स को सही तरीके से फायरबेस को कंफिगर नहीं किया था जिस कारण यूजर्स का डेटा लीक हो सकता है. इस डेटा में यूजर्स का अकाउंट्स, ईमेल एड्रेस, और यूजर का रियल नाम शामिल है. रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि, कोई भी जो यूआरएल को जानता है वो इन डेटाबेस तक पहुंच सकता है. रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि, गूगल ने अब तक इस मामले में कोई रिएक्शन नहीं दिया है. ऐसे में अगर आपने भी अपने फोन में इस तरह के ऐप्स डाउनलोड किए हैं तो ये बेहद खतरनाक है.

इसका मतलब है कि यदि आपके पास यूनिवर्सल टीवी रिमोट कंट्रोल है, जिसे 100 मिलियन से अधिक यूजर्स ने इंस्टॉल किया है, तो आपको पता होना चाहिए कि साइबरन्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, आपका पर्सनल डेटा लीक हो सकता है. इसी तरह, फाइंड माई किड्स: चाइल्ड जीपीएस वॉच ऐप और फोन ट्रैकर के 10 मिलियन से अधिक डाउनलोड हैं, लेकिन यह भी गलत कॉन्फिगरेशन से प्रभावित हुआ है, रिपोर्ट के अनुसार, यूजर्स को हाइब्रिड वॉरियर के बारे में भी पता होना चाहिए, Dungeon of the Overlord एंड Remote फॉर Roku: Codematics कुछ ऐसे ऐप्स हैं जिनमें इस तरह की गड़बड़ी होने की आंशका है.

 

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING4 hours ago

दो नवजात की मौत, मेडिकल कॉलेज में चार दिन में आठ जानें गईं

अंबिकापुर(चैनल इंडिया)। जिले के मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां दो...

खबरे छत्तीसगढ़5 hours ago

ईईएचवी वायरस के चपेट में आया एक और हाथी का शावक, हुई मौत,2 साल थी उम्र

सूरजपुर(चैनल इंडिया)|  ईईएचवी वायरस से रेस्क्यू सेंटर में दो शावकों की मौत के बाद अब एक और शावक की मौत...

BREAKING6 hours ago

सीएम भूपेश ने किया श्री धन्वन्तरी जेनरिक मेडिकल स्टोर योजना का शुभारंभ, अब प्रदेशवासियों को मिलेगी आधी कीमत पर दवा

रायपुर (चैनल इंडिया)| मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फे्रंसिंग के जरिए श्री धन्वन्तरी जेनरिक...

channel india6 hours ago

JioPhone Next को लेकर नया खुलासा, अब यूजर्स को मिलेंगे कई खास फीचर्स, कीमत जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

JioPhone Next को लेकर नई जनकारी सामने आई है, जिसकी मदद से यूजर्स को कई अच्छे फीचर्स और बेहतर वर्जन...

BREAKING6 hours ago

शासकीय आयुर्वेद के द्वारा निःशुल्क आयुष स्वास्थ्य एवं जन जागरूकता शिविर का आयोजन 200 लोगों ने उठाया लाभ

धरसीवां(चैनल इंडिया)|शासकीय आयुर्वेद के द्वारा ग्राम सांकरा में निःशुल्क आयुष स्वास्थ्य व जन जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया जिसमें...

Advertisement
Advertisement