सावन महिने में मौसम हुआ सुहावना, खेती कार्य में जुटे किसान – Channelindia News
Connect with us

chhattisgarh news

सावन महिने में मौसम हुआ सुहावना, खेती कार्य में जुटे किसान

Published

on

राजिम(चैनल इंडिया)। सावन लगते हुए ही मौसम सुहाना हो गया है। 30 घंटे से अधिक समय से क्षेत्र में रिमझिम बारिश हो रही है। किसान अब खेती कार्य में तेजी से जुट रहे हैं। बारिश नहीं होने से क्षेत्र में कृषि कार्य बेहद पिछडने लगे थे, लेकिन सावन महिना लगते ही रिमझिम बारिश शुरू हो गई। इससे पौधो में हरियाली आ गई है। वही कई खेतों में पानी भरा हुआ है। किसानो के चेहरो पर भी खुशी छा गई है। एक लम्बे अंतराल के बाद हुई इस बारिश से किसानों की चिंता खत्म हो गई है। बारिश के अभाव में हताश और निराश हो चुके किसानो की जान में जान आ गई है। बारिश का असर राजिम नवापारा क्षेत्र के तमाम गांवो में देखा गया। कहीं पर रोपा का काम चल रहा है, तो कहीं पर निंदाई का। कहीं-कहीं बियासी नांगर शुरू हो चुका था और कईयों जगह खाद डालने की भी तैयारी किसानों द्वारा किया जा रहा था।

खाद को लेकर किसानों की समस्या बढ़ी
किसानी कार्य में तेजी से जुटे किसानों के सामने अब नई समस्या से जूझना पड़ रहा है। जिले में कई स्थानों पर किसान खाद के लिए परेशान होते देखे जा रहे हैं इससे उनमें रोष पनप रहा है। दरअसल किसानों में इस वक्त यूरिया और डीएपी खाद की मांग की जा रही है। लेकिन जिले के अनेक स्थानों में इन खादों की कमी होने के कारण किल्लत शुरू हो गई है। किसानों का कहना है कि इस वक्त उन्हें खाद की बेहद आवश्यकता है। यदि समय पर खाद नहीं मिली तो उनकी समस्या और अधिक बढ़ जाएगी। खाद की कमी अपने चरम पर पहुंचे इससे पहले ही विभाग को खाद की रैक बुलवानी चहिए।

कांग्रेस राज में किसान हमेशा परेशान हुआ है – श्याम अग्रवाल
किसानों की समस्या को देखते हुए सांसद प्रतिनिधि रेल उपभोक्ता सलाहकार समिति एवं भाजपा आर्थिक प्रकोष्ठ के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य श्याम अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस के राज में किसान हरदम परेशान हुआ है, कभी बारदाने को लेकर परेशानी होती है, कभी धान बेचने व भुगतान को लेकर परेशानी होती है। अभी खाद को लेकर छत्तीसगढ़ के किसान परेशान हैं। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में किसानों के सामने यूरिया का संकट शुरू हो गया है। यहां गोदामों में खाद नहीं है, किसानो को वापस लौटाया जाने लगा है। ऐसी परिस्थिति में किसानों को सही समय पर खाद का इंतजाम करने के लिए बाजार से खरीदने के अलावा कोई विकल्प नहीं बच रहा, जिससे खाद की कीमत भी बढ़ गई है। समिति से खाद मिल जाने की आस में बैठे किसानों को अब खाद खरीदने के लिए नगद राशि का इंतजाम करना पड़ रहा है जिससे कई छोटे किसान ब्याज के चक्रव्यूह में भी फंस जा रहे हैं। प्रदेश भर के किसान रासायनिक खाद की कमी से जुझ रहे है। श्री अग्रवाल ने बताया कि केंद्र सरकार राज्य की मांग अनुरूप खाद की पूर्ति कर चुकी है, लेकिन राज्य सरकार समितियों को जानबूझकर खाद उपलब्ध नहीं करा रही है, ताकि इनके समर्थक व्यापारियों को फायदा पहंचाया जा सके। दूसरी ओर कांग्रेस सरकार किसानों को बोल रही है आप जैविक खेती करिए और कम्पोस्ट खाद बेच रही है। कुल मिलाकर प्रदेश सरकार खाद की कालाबाजारी कर रही है। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार ने किसान वर्ग के साथ ही सबसे बड़ा छल किया है।


Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

 सक्ती14 hours ago

भाजपा ग्रामीण मंडल द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय  की जयंती मनाई

सक्ती(चैनल इंडिया)| भारतीय जनता पार्टी ग्रामीण मंडल समिति द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती ग्रामीण मंडल सक्ती  के ग्राम पंचायत...

channel india14 hours ago

आबकारी विभाग की में बड़ी कार्रवाई, शराब बनाने की अवैध फैक्ट्रीं का पर्दाफाश

रायपुर(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नरदाह विधानसभा रोड स्थित अवैध शराब फैक्ट्री बनाने का राजफाश हुआ है। वहां...

channel india14 hours ago

बंगाल की खाड़ी से आने वाला है एक और बड़ा खतरा, जानिए क्या है पूरा मामला….

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चेतावनी दी है कि बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का सिस्टम, जो...

 अंबिकापुर14 hours ago

यहाँ शख्स की हत्या कर लाश को क्रेन से लटकाया, VIDEO वायरल…

काबुल. तालिबान के सत्ता में आने के बाद अफगानिस्तान के हालात अब तेजी से बदल रहे हैं. तालिबान ने शरिया...

balod district15 hours ago

छत्तीसगढ़ के VVIP सिटी में रेवेन्यू इंस्पेक्टर के साथ लूट…

दुर्ग.(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में महिला अधिकारी के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है. लूट...

Advertisement
Advertisement