निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर सुपेबेड़ा के ग्रामीणों ने जिले के प्रभारी मंत्री को दिया आवेदन, मंत्री ने तत्काल कलेक्टर से बात कर कार्यवाही का दिया निर्देश – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर सुपेबेड़ा के ग्रामीणों ने जिले के प्रभारी मंत्री को दिया आवेदन, मंत्री ने तत्काल कलेक्टर से बात कर कार्यवाही का दिया निर्देश

Published

on


देवभोग(चैनल इंडिया)| किडनी पीड़ित सुपेबेड़ा गांव की समस्याओं का समाधान थमने का नाम  नहीं ले पा रहा है। इस बार ग्रामीण किडनी बिमार से नहीं बल्कि सुपेबेड़ा के सरपंच व सचिव पर जमकर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाकर 13 बिंदुओं पर जांच की मांग की है।

गौरतलब है कि सुपेबड़ा के ग्रामीण पंचायत में हो रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ 13 बिंदुओं में पंचायत खिलाफ शिकायत की थी। जिससे पंचायत उपसंचालक पद्मिनी हरदेल के नेतृत्व में 4 सदस्य टीम सुपेबेड़ा जाकर 13 बिंदुओं पर जांच 22/06/ 2021 मैं की थी। लेकिन जुलाई 9 तारीख हो गया जांच किए करीब 15 से 16 दिन बीत चुके हैं। जाँच मै  किसी प्रकार की कोई निष्कर्ष सामने नहीं आने से व  ग्रामीणों ने जांच कमेटी के जांच से असंतुष्ट होकर दोबारा निष्पक्ष जांच के लिए जिले के प्रभारी मंत्री से मिलकर उन्हें दोबारा जांच करने हेतु आवेदन प्रस्तुत किए हैं।

गौरतलब है कि 31 मई को 200 ग्रामीणों का हस्ताक्षर युक्त आवेदन पीएम से लेकर मुख्य सचिव व एसडीएम से किया गया था तत्पश्चात जिला पंचायत सीईओ संदीप अग्रवाल ने पंचायत उपसंचालक पदमिनी हरदेल  के नेतृत्व में 4 सदस्य कमेटी 13 बिंदुओं पर एक-एक करके जांच पड़ताल करना शुरू कर दिया।

लेकिन आज जांच किए 16 दिन बीत चुके हैं जांच के कुछ नतीजे नहीं निकलने पर उक्त ग्रामीणों ने पुनः शिकायत करने जिले के नए प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत के पास अपनी 13 बिंदु जांच पर आवेदन दिए और उक्त ग्रामीणों ने प्रभारी मंत्री से शिकायत कर ग्राम पंचायत सुपेबेड़ा में हो रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ निष्पक्ष जांच कर दोषी को कार्रवाई करने की अपील की।

सिसी सड़क, पुलिया व  ग्राम सभा में फर्जी हस्ताक्षर, निर्माण कार्य में जमकर हुई थी हेरा फेरी….

शिकायत पत्र के मुताबिक ग्रामीणों ने मुख्य रूप से छोटी गुड़ी पुलिया निर्माण ,दो सीसी सड़क, अधूरे रंगमंच मुक्तिधाम के पुराने काम का रूपये  आहरण ,अहाता निर्माण व पंचायत मद से खरीदे गए लाखों के सामग्री का उपयोग सरपंच व सचिव द्वारा निजी उपयोग में लाए जाने व पेंशनरों को भुगतान नहीं करने समेत 13 बिंदुओं के खिलाफ सरपंच चंद्रकला मसरा व सचिव देवीराम सोनवानी पर मनमानी कर फर्जी करने का आरोप लगाया है।

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india32 mins ago

राज्य गौ सेवा आयोग के नव पदाधिकारियों का पदभार ग्रहण कार्यक्रम, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित मंत्री रविन्द्र चौबे भी हुए शामिल

जशपुर(चैनल इंडिया)|  राज्य गौ सेवा आयोग के नव पदाधिकारियों के पदभार  ग्रहण कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा...

channel india1 hour ago

कलेक्टर ने एसडीएम, लोक निर्माण विभाग राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों की ली समीक्षा बैठक

जशपुरनगर(चैनल इंडिया)|  कलेक्टर महादेव कावरे ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में अनुविभागीय दंडाधिकारी, लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों की...

BREAKING1 hour ago

शोध में खुलासा : Covid-19 महामारी में इन्फ्लूएंजा वैक्सीान दे रहा है सुरक्षा कवच, कोरोना के गंभीर प्रभावों से कर रहा बचाव

कोरोना संक्रमण से बचाव में इन्फ्लूएंजा वैक्सीन काफी असरदार साबित हो रहा है. यह बात एक शोध में सामने आई...

channel india2 hours ago

लैंसेट की स्टडी में दावा- कोरोना से ठीक होने के बाद मरीजों में 2 हफ्तों तक हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा तीन गुना ज्यादा

देशभर में कोरोना का लहर जारी है. अभी भारत में संभावित तिसरी लहर के आने की चेतावनी भी जारी की...

BREAKING2 hours ago

इन सरकारी और प्राइवेट स्कूलों के प्रिंसिपलों को मिला नोटिस, जानिए क्या है वजह…

उत्तराखंड सरकार प्रदेश के स्कूलों में क्वालिटी एजुकेशन और अनुशासन के भले ही लाख दावे करे लेकिन टीचरों का रवैया...

Advertisement
Advertisement