देश को नई ऊंचाइयों पर लेकर जाना है लक्ष्य, बोले PM मोदी – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

देश को नई ऊंचाइयों पर लेकर जाना है लक्ष्य, बोले PM मोदी

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शिमला में आयोजित अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन को डिजिटल माध्यम से संबोधित किया. उस दौरान उन्होंने कहा, हमें देश को नई ऊंचाइयों पर लेकर जाना है. असाधारण लक्ष्य हासिल करने हैं.ये अमृत संकल्प ‘सबके प्रयास’ से ही पूरे होंगे. लोकतंत्र में, भारत की संघीय व्यवस्था में जब हम ‘सबका प्रयास’ की बात करते हैं तो सभी राज्यों की भूमिका उसका बड़ा आधार होती है.
उन्होंने आगे कहा, चाहे पूर्वोत्तर की दशकों पुरानी समस्याओं का समाधान हो, दशकों से अटकी-लटकी विकास की तमाम बड़ी परियोजनाओं को पूरा करना हो. ऐसे कितने ही काम हैं जो देश ने बीते सालों में किए हैं, सबके प्रयास से किए गए हैं. पीएम मोदी ने कोरोना का जिक्र करते हुए कहा, अभी सबसे बड़ा उदाहरण हमारे सामने कोरोना का भी है. भारत 110 करोड़ वैक्सीन डोज का आंकड़ा पार कर चुका है.

सदन में आचार-व्यवहार सही हो, ये सबकी जिम्मेदारी’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह समय अपनी सफलताओं को आगे बढ़ाने का है और साथ ही नए विजन के साथ नए नियम और नीतियां भी बनानी हैं. हमारे सदन की परंपराएं और व्यवस्थाएं स्वभाव से भारतीय हों. हमारी नीतियां, कानून भारतीयता के भाव को, ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ के संकल्प को मजबूत करने वाले हों.
सबसे महत्वपूर्ण, सदन में हमारा खुद का भी आचार-व्यवहार भारतीय मूल्यों के हिसाब से हो. पीएम मोदी ने कहा कि ये हम सबकी ज़िम्मेदारी है. भारत विविधताओं से भरा है. एकता की यही अखंड धारा, हमारी विविधता को संजोती है, उसका संरक्षण करती है.पीएम ने कहा कि हम विधानसभा सदनों में साल में तीन चार दिन ऐसे रखे जा सकते हैं जिनमें समाज के लिए कुछ विशेष कर रहे जनप्रतिनिधि अपने अनुभव बताएं. सदन में सार्थक चर्चा और परिचर्चा बहुत जरूरी है.

युवा, महिला जनप्रतिनिधियों को सदन में ज्यादा से ज्यादा बोलने का मौका मिलना चाहिए. पीएम मोदी ने वन नेशन, वन लेजिस्लेशन का मंत्र भी दिया. उन्होंने कहा कि एक ऐसा डिजिटल प्लेटफॉर्म/पोर्टल बनाया जाए जिसमें केवल संसदीय व्यवस्था की जानकारी मिल सके. सभी राज्य डिजिटल तकनीक पर काम करें. बता दें एआईपीओसी का शताब्दी वर्ष मनाने के लिए अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्मेईलन के 82वें संस्कएरण का आयोजन 17-18 नवम्बकर, 2021 को शिमला में किया जा रहा है. प्रथम सम्मेअलन का आयोजन भी शिमला में 1921 में किया गया था. इस सम्मेलन का समापन हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ अर्लेकर करेंगे.

 

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING17 mins ago

यहां के कलेक्टर ने ध्वनि विस्तारक यंत्रों पर लगाया प्रतिबंध

धमतरी(चैनल इंडिया)। छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नगरीय निकायों के उप निर्वाचन 2021 सम्पन्न कराने के लिए घोषित कार्यक्रम को...

BREAKING47 mins ago

कांग्रेस नेता ने खड़ी फसलो पर चलवाई JCB किसानों में दिखा आक्रोश…

जबलपुर(चैनल इंडिया)। प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में कांग्रेस नेता जितेन्द्र अवस्थी की दबंई सामने आई है। किसानों पर अवैध कब्जा...

BREAKING2 hours ago

CM योगी ने विपक्ष पर किया हमला, कहा-जिन्ना के अनुयायी नहीं समझेंगे गन्ने की मिठास…

गोंडा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को गोंडा जिले में 450 रुपये करोड़ की लागत से 65.61...

BREAKING2 hours ago

बड़ी कामयाबी: छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण की दिशा में देश में अव्वल

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ ने वायु, जल प्रदूषण, ठोस कचरे के प्रबंधन और वनों के संरक्षण और संवर्धन की दिशा...

BREAKING2 hours ago

पत्नी के सामने घर में घुसकर पुलिसकर्मी की हत्या, आरोपी फरार…

जगदलपुर (चैनल इंडिया)| बीजापुर जिले में अज्ञात लोगों ने भैरमगढ़ थाना में पदस्थ सहायक आरक्षक की हत्या कर दी है।...

Advertisement
Advertisement