मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव, रोकथाम व टीकाकरण के संबंध में प्रदेश की जनता को किया संबोधित…. – Channelindia News
Connect with us

bilaspur

मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव, रोकथाम व टीकाकरण के संबंध में प्रदेश की जनता को किया संबोधित….

Published

on


रायपुर(चैनल इंडिया)|  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज कोरोना से बचाव, रोकथाम एवं टीकाकरण के संबंध में प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए  कहा है कि इस समय पूरी दुनिया कोरोना की महामारी से जूझ रही है। तत्कालीन सरकार के 15 वर्षों के शासन काल मे स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाओं को कभी  पर्याप्त महत्व नहीं दिया गया , इन परिस्थितियों में कोरोना जैसी महामारी का सामना करना एक बड़ी चुनौती थी परंतु हमने अब तक इस चुनौती का पूरी सक्षमता से सामना किया है। हमने प्रदेश के स्वास्थ्य सेवाओं के ढांचे एवं व्यवस्था में सुधार हेतु काफी काम किया है जिसके कारण ही कोरोना के प्रबंधन में हमारे राज्य की स्थिति अन्य राज्यो की तुलना में काफी बेहतर हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले साल जब कोरोना की पहली लहर का हम पर हमला हुआ था तो हम सबने मिल जुल कर उसका सामना किया था। वह ऐसा समय था जब हम कोरोना के विषय में ज़्यादा कुछ जानते नहीं थे, न हमारे पास इसके इलाज के लिये दवायें थीं , न इंजेक्शन आये थे, न वैक्सीन विकसित हुई थी और इलाज का प्रोटोकाल भी अपनी प्रारंभिक अवस्था में ही था। परंतु सभी के सहयोग से सभी के भरोसे के साथ और सभी के योगदान के साथ हमने उस कठिन समय पर विजय हासिल की थी।

आज एक बार फिर से कोरोना की दूसरी लहर का हम सामना कर रहे हैं जो पहली लहर की तुलना में ज्यादा संक्रामक और खतरनाक है परंतु हमें पूरा विश्वास है कि हम सब मिलकर अपनी अपनी ज़िम्मेदारी निभाते हुए मज़बूती से इस दूसरी लहर का भी सामना करेंगे और जीतेंगे।

छत्तीसगढ़ में अब तक 7 लाख 13 हजार 706 लोग संक्रमित हुए हैं जिनमें से 5 लाख 87 हजार 484 लोग रिकवर कर चुके हैं। वर्तमान में 1 लाख 17 हजार 910 लोग एक्टिव संक्रमित हैं। प्रदेश में एक्टिव पेशेंट अनुपात 16.5 प्रतिशत है, वहीं रिकवरी की दर 82.3 प्रतिशत है। परंतु यह बात आपके भीतर एक नया विश्वास पैदा करेगी कि छत्तीसगढ़ कोविड वैक्सीनेशन के मामले में देश के कई विकसित और साधन संपन्न राज्यों को पीछे छोड़ चुका है।

प्रदेश में 55 लाख 69 हजार से ज़्यादा डोज़ वैक्सीन के लग चुके हैं और देश के बड़े राज्यों से हम आगे हैं। हमारे राज्य में वैक्सीनेशन 72 प्रतिशत हुआ है जो देश में सर्वाधिक है ये आंकड़े सिर्फ 45 साल से ज़्यादा उम्र के लोगों एवं फ्रंट लाइन वर्कर्स को मिलाकर है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हमने फैसला किया है कि हम प्रदेश के 18 साल से लेकर 44
साल तक के लोगों को मुफ्त में कोविड वैक्सीन लगायेंगे और इसके लिये व्यापक कार्ययोजना और व्यवस्थायें की गई है। 1 मई से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के लिए हमने अपने सभी जिलों में सारी तैयारियां पूरी कर ली है हमारे सभी टीकाकरण केंद्र पूरी तरह से तैयार है।

उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने यह अवगत कराया है कि वह 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों के वैक्सिनेशन के लिए एक लाख तीन हजार चालिस वैक्सिन उपलब्ध करायेगी। चूंकि वैक्सिन की कमी है इसलिए हम अपने राज्य में सबसे गरीब व्यक्ति को जिसके पास अन्योदय कार्ड है से वैक्सिनेशन की शुरूआत करेंगे । इसके लिए हितग्राही को अपना राशन कार्ड और आधार कार्ड लेकर आना होगा। जैसे जैसे हमें वैक्सिन मिलती जाएगी वैसे वैसे हम क्रमशः सभी वर्गों के लोगों के वैक्सिनेशन की दिशा में आगे बढ़ते जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मै अपने प्रदेश की जनता को अवगत कराना चाहता हूं कि 2018 में जब प्रदेश में हमें प्रचंड जनादेश मिला था उस समय प्रदेश में कुल 279 आईसीयू बेड थे जिसे हमने बढ़ाकर 729 कर दिया है। आक्सीजन बेड 1242 थे, हमने इसे बढ़ाकर 7042 तक पहुंचाया है। एचडीयू बेड एक भी नहीं था परंतु आज हमारे पास 515 एचडीयू बेड हैं। प्रदेश के अस्पतालों में 15001 जनरल बेड थे जिसे हमने बढ़ाकर 29667 कर दिया है। प्रदेश में 2018 के अंत में 204 वेंटीलेटर्स थे जिसे हमने बढ़ाकर 593 कर दिया है। इस प्रकार हमने प्रदेश की स्वास्थ्य सुविधाओं में कई गुना की वृद्धि की है जो कि अपने आप में रिकार्ड है।

छत्तीसगढ़ में अब तक हम 71 लाख से अधिक कोविड टेस्ट कर चुके हैं। हम लगातार अपनी टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं , हमने नये आरटीपीसीआर जांच लैबों की स्थापना की मंजूरी देकर प्रक्रिया भी प्रारंभ कर दी है। कोरोना प्रभावितों के लिये लेब टेस्ट और रियायती इलाज हेतु निजी अस्पतालों के लिये पैकेज निर्धारित किये हैं ताकि कमजोर आर्थिक स्थिति का व्यक्ति भी अपना इलाज व जांच करवा सके। दूसरी तरफ हमने प्रदेश में 296 नये डाक्टर्स की भर्ती की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आक्सीजन की भी पर्याप्त उपलब्धता है बल्कि छत्तीसगढ़ में सरप्लस आक्सीजन उपलब्ध है। हमने कोरोना से इस लड़ाई में फंड्स की कमी नहीं होने देने का संकल्प किया है। हमने इन दो वर्षों में स्वास्थ्य बजट में 880 करोड़ रूपये, एसडीआरएफ में इस साल 50 करोड़ रूपये का प्रावधान किया है।  जनता ने बढ़ चढ़ कर मुख्यमंत्री सहायता कोष में सहायता की है जो सरकार पर जनता के अटूट भरोसे का परिचायक है। इस कोष से हमने अभी तक 73 करोड़ 53 लाख रूपये कोविड के खिलाफ़ लड़ाई के लिये जिलों को जारी कर चुके हैं , इस प्रकार हम 1003 करोड़ 53 लाख रूपये अब तक स्वास्थ्य के क्षेत्र में लगा चुके हैं। वहीं अब भी मुख्यमंत्री सहायता कोष में 53 करोड़ 88 लाख रूपये जमा हैं, उनका उपयोग भी कोविड की लड़ाई में किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि विभिन्न जिलों में कई कई संस्थाओं और लोगों ने मुक्त हस्त से मदद की है। विभिन्न विभागों के फंड्स, जिला खनिज न्यास के फंड्स के अलावा उद्योगों से सीएसआर मद में भी सहायता का आश्वाशन मिला है। हमने फैसला लिया है मई और जून महीने का राशन लोगों को एक साथ दिया जायेगा। यह पूरी तरह से मुफ्त दिया जाएगा ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जैसा कि आप जानते हैं हम 1 मई से 18 से 44 साल के 1 करोड़ 30 लाख लोगों को 2 करोड़ 60 लाख वैक्सीन डोज मुफ्त में लगायेंगे , 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिये कोविन प्लेटफार्म या आरोग्य सेतु एप के माध्यम से पंजीकरण करवाना होगा। ये पंजीकरण 28 अप्रेल से प्रारंभ हो गया है। चूंकि वैक्सीन निर्माता कंपनिया केंद्र की तुलना में राज्यों को अधिक दामों पर वैक्सीन उपलब्ध करा रही हैं , इसलिये हमें इसके लिये 800 करोड़ रूपयों से अधिक का व्यय आयेगा जो करने के लिये हम कृत संकल्पित भी हैं।

उन्होंने कहा कि हमने 1 मई से वैक्सीनेशन प्रांरभ करने के लिये 50 लाख डोज़ वैक्सीन का आर्डर भी कर दिया है जिसमें 25 लाख डोज़ सीरम इंस्टीट्यूट को और 25 लाख डोज़ भारत बायोटेक को आर्डर किया गया है। ऐसी आपदा के काल में भी लोग स्वयं होकर सरकार के साथ आ रहे हैं और एक दूसरे की मदद का हाथ बढ़ाना चाहते हैं।

मुख्यमंत्री बघेल ने अपील की है कि जो कोई भी अपना जितना भी आर्थिक योगदान कोविड के विरूद्ध इस लड़ाई में करना चाहता है, वह स्वेच्छा से मुख्यमंत्री सहायता कोष में अपना अंशदान कर सकता है। यह पूरी की पूरी राशि सिर्फ और सिर्फ कोरोना के खिलाफ़ संघर्ष में ही व्यय की जा रही है।

छत्तीसगढ़ की जनता का स्वाभिमान ही उन्हें सबले बढ़िया बनाता है , यह हम जानते हैं। जनता का छोटे से छोटा योगदान भी हमारे लिये अत्यंत सम्मान का विषय है जो हमारे आपसी भ्रातृत्व के जुड़ाव को और मज़बूत करेगा।

मुख्यमंत्री बघेल ने आमजनता से अनुरोध करते हुए कहा है कि आप सभी से फिर से करबद्ध निवेदन है कि  कोरोना से जुड़ी सभी सावधानियों का पालन करें,भीड़ से बचे, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। मास्क पहने , हैंड वाश और सेनिटाईजर का प्रयोग करें। किसी भी प्रकार की अफवाह या नकारात्मक दुष्प्रचार से प्रभावित न हो।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के सभी नागरिकों से  अपील किया है कि अपना वैक्सीन डोज़ अवश्य लगवायें। स्वयं सुरक्षित हों और दूसरों को भी सुरक्षित करें। आशा और विश्वास बनाये रखें। हम सब मिलकर बहुत जल्दी इस कोविड संकट से पार ज़रूर होंगे।

 

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING25 mins ago

अब यहां यातायात नियम तोड़ा तो जब्त होगी गाड़ियां

इंदौर शहर को ट्रैफिक में नंबर वन बनाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। इसको लेकर पुलिस ने शहर...

BREAKING1 hour ago

प्रदेश के इन इलाकों में भारी बारिश के आसार, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

रायपुर(चैनल इंडिया)। छत्तीसगढ़ के कई जिलों में मूसलाधार बारिश का दौर जारी है। वहीं मौसम विभाग ने आज प्रदेश में...

BREAKING1 hour ago

साइंस फिक्शन : 2041 तक बदल जाएगी पूरी दुनिया, जानिए क्या होगा धरती का हाल?

20 साल तक सोए रह जाएं और फिर उठें तो दुनिया कैसी दिखेगी? यह बात आपको किसी साइंस फिक्शन मूवी...

 सक्ती2 hours ago

छत्तीसगढ़ को नहीं बनने देंगे अडानीगढ़ – अर्जुन राठौर

सक्ती(चैनल इंडिया)|  जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे विधान  सभा सक्ती के पुर्व प्रभारी  ने कहा कि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के...

channel india2 hours ago

नपा लोहारा के शासकीय भूमि पर जनप्रतिनिधियों की नजर   हड़पने का प्रक्रिया जारी प्रशासन मौन

कवर्धा(चैनल इंडिया)| राजीवगांधी आश्रय योजना  अंतर्गत राज्य सरकार के निर्देशों के तहत शहरी क्षेत्रों में  पट्टा प्रदान किया जाना है।जिसमें...

Advertisement
Advertisement