केंद्र सरकार ने राज्यों को एडवायजरी, कहा- अगर लोग नहीं मान रहे कोविड प्रोटोकॉल तो… – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

केंद्र सरकार ने राज्यों को एडवायजरी, कहा- अगर लोग नहीं मान रहे कोविड प्रोटोकॉल तो…

Published

on

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कोविड-19 के घोर उल्लंघन को लेकर राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को एडवायजरी जारी की है. केंद्र ने कहा कि “हमें खुद पर निगरानी करने की जरूरत है और इसमें जरा भी ढील की गुंजाइश नहीं है. ये सोचकर हम अपने व्यवहार में बदलाव नहीं ला सकते कि पॉजिटिविटी रेट गिर रहा है.” केंद्र ने राज्यों को यह भी कहा है कि कोविड उपयुक्त व्यवहार के पालन में किसी भी ढिलाई के लिए अधिकारियों को व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार बनाने के लिए भी कहा.

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला की ओर से जारी की गई एडवायजरी में कहा गया कि, “अगर किसी प्रतिष्ठान/परिसर/बाजार आदि में कोविड-19 के उचित व्यवहार के मानदंडों को बनाए नहीं रखा जाता है, तो ऐसी जगहों पर कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए प्रतिबंधों को फिर से लागू करने और कोविड-19 को फैलाने के लिए उत्तरदायी होंगे जिन पर संबंधित कानूनों के तहत कार्रवाई की जाएगी.”
एडवायजरी में कही गई ये बातें
इसमें कहा गया है कि देश के कई हिस्सों में लोगों को विशेष रूप से सार्वजनिक परिवहन और हिल स्टेशनों पर कोविड -19 मानदंडों का उल्लंघन करते पाया गया है. मंत्रालय ने कहा, “सामाजिक दूरी के मानदंडों का उल्लंघन करते हुए, बाजारों और अन्य जगहों पर भी भारी भीड़ उमड़ रही है.”इसने यह भी कहा कि कुछ राज्यों में आर-फैक्टर (प्रजनन संख्या जो संक्रमण के फैलने की गति को बताते हैं) में बढ़ोतरी चिंता का विषय है.

एडवायजरी में कहा गया कि आपको शायद पता हो कि आर-फैक्टर में 1.0 से ज्यादा किसी भी तरह की बढ़ोतरी कोविड-19 के फैलने की ओर इशारा करती है.
केंद्र ने आगे कहा कि “इस बात पर जोर दिया जाता रहा है कि कोविड की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है. हमें यह याद रखना चाहिए कि जहां टीकाकरण की पहुंच काफी बढ़ रही है, वहां ढील की कोई गुंजाइश नहीं है और इसलिए कोविड उपयुक्त व्यवहार हमारी ‘दवाई भी और कड़ाई भी’ फिलॉसफी के अनुरूप जारी रहना चाहिए. परीक्षण को उसी जोश के साथ जारी रखने की जरूरत है, क्योंकि वायरस की जांच और मामलों की जल्द पहचान के मामले में पर्याप्त परीक्षण बेहद जरूरी है.”
गृह मंत्रालय की ये एडवायजरी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्वोत्तर राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत के एक दिन आई है. प्रधानमंत्री मोदी ने इस बैठक में लोकप्रिय स्थलों पर पर्यटकों की भीड़ के बारे में चिंता जताई थी.


Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING12 mins ago

कोल ब्लॉक नीलामी के लिए दबाव बना रहा केंद्र सरकार : मंत्री रविंद्र चौबे

रायपुर(चैनल इंडिया)। छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने सीएम भूपेश बघेल के दिल्ली दौरे को लेकर बड़ी जानकारी दी...

BREAKING34 mins ago

बदमाशों के हौसले बुलंद, 3 दिनों में चाकूबाजी की तीसरी बड़ी वारदात, 4 आरोपी गिरफ्तार…

रायपुर(चैनल इंडिया)। राजधानी रायपुर में चाकूबाजी की वारदातें अब आम हो गई हैं. बेखौफ बदमाश रोजाना बेधड़क होकर लोगों को...

 सक्ती58 mins ago

अमलडीहा  में निःशुल्क चिकित्सा एवं आयुष मेला सम्पन्न

सक्ती(चैनल इंडिया)|  छत्तीसगढ़ शासन आयुष विभाग द्वारा आज अमलडीहा (सक्ती) में आयुष मेला तथा नि:शुल्क चिकित्सा व दवा वितरण का...

BREAKING1 hour ago

इस राज्य में अब स्पा सेंटर के बंद कमरों में आप नहीं करा पाएंगे मसाज

नई दिल्ली(चैनल इंडिया)। फिजियोथेरेपी, एक्यूप्रेशर या व्यावसायिक चिकित्सा डिग्री, डिप्लोमा प्रमाण पत्र के बगैर अब स्पा सेंटरों में यूं ही...

BREAKING1 hour ago

दूध पीने की जिद कर रहा था बच्चा,मां ने जमीन पर दिया पटक, मौत

कोरबा(चैनल इंडिया)। बालको थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक मां ने अपने ढाई साल के मासूम बच्चे को मौत के घाट...

Advertisement
Advertisement