नियमों को तोड़ने वालों में खौफ, जिन्न की तरह प्रकट होते हैं तहसीलदार विभोर यादव… – Channelindia News
Connect with us

channel india

नियमों को तोड़ने वालों में खौफ, जिन्न की तरह प्रकट होते हैं तहसीलदार विभोर यादव…

Published

on


चिरमिरी(चैनल इंडिया)| लाकडाउन की स्थिति में वैसे तो नगर की जनता स्वयं ही जागरूक होकर नियमों का पालन कर रही है किंतु कहीं कहीं नियमों की अवहेलना भी देखी जा सकती है।

इन दिनों नगर में नियमों की अवहेलना करने वालों में एक खौफ छाया हुआ है। नियमों को तोड़ने से पहले ऐसे लोग भयातुर हो रहे हैं कि कहीं तहसीलदार साहब ना मिल जाएं। लगातार कार्यवाही होने की वजह से नियम तोड़ने वालों में खौफ व्यापत है। ऐसे लोग अब यह कहने लगे हैं कि यह तहसीलदार तो जिन्न की तरह प्रकट हो जाते हैं। नियमों को मानकर ही चलना सही है। अगर नियम तोड़ने की कोशिश की तो जिन्न की तरह प्रकट होकर कार्यवाही कर रहे तहसीलदार विभोर यादव।

क्या नगर क्या गांव क्या अमीर क्या गरीब हर वर्ग के लोगों पर तहसीलदार की कार्यवाही का खौफ छाया हुआ है।

जहाँ बड़ी बाजार चिरमिरी में अनुदित्या पेट्रोल पंप पर औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान यह पाया गया कि निजी वाहन को बिना आईडी/ पास /अनुमति/एवं बिना इमरजेंसी के भी बिना उसके पास की जांच किए पेट्रोल दिया जा रहा था। तहसीलदार के द्वारा बिना नंबर की गाड़ी को देख कर पूछताछ की गई । पूछने पर पास नहीं होना पाया गया। कलेक्टर महोदय के आदेशानुसार लॉकडाउन में पेट्रोल पंप को कुछ शर्तों के साथ ही पेट्रोल डीजल देने की अनुमति थी।तहसीलदार विभोर यादव के द्वारा पेट्रोल पंप  संचालक को  कड़ी समझाइश देते हुए एवं कार्यवाही देते हुए ₹ 1000 का अर्थदंड लगाया गया।

वहीं ग्राम भूकभूकी में घर में लोगों को बुलाकर खाना खिला रहा था। ज्यादा भीड़ इकट्ठा होने की शिकायत पर मौके पर तहसीलदार विभोर द्वारा पहुंचकर कार्रवाई करते हुए 500 का अर्थदंड  लगाया गया।

तेज कार्रवाही की ऐसी रफ्तार जैसे तहसीलदार विभोर यादव आदमी ना होकर कोई भूत हों। क्षण में नगर में कार्यवाही कर अर्थ दंड तो अगले ही क्षण गांव में।

वस्तुतः ऐसी कार्यवाही की आवश्यकता भी है आज कोविड के प्रसार को रोकने के लिए। कारण लोगों की मानसिकता। भारतीय लोग नियमों को तोड़ने में अपनी शान समझते हैं।

समस्या है भारत देश की कि

लोग समझना ही नहीं चाहते कि नियम उनकी सुरक्षा के लिए ही बनाए गए हैं।

कोई व्यक्ति नियमों को गरीब बेचारा मासूम बन कर तोड़ता है।

कोई राजनीति का धौंस दिखा कर, और कोई चमचागीरी करके।

लोग टोल गेट पर घंटो समय बरबाद कर देते हैं यह बताने में कि पहचानते नहीं हम कौन हैं। लेकिन आई कार्ड दिखाने में अपनी तौहीन समझते हैं।

10 लाख की गाड़ी में चलते हैं लेकिन पार्किंग में 10 रुपये देने में जान निकली जाती है।

साथ ही घंटो समय बरबाद करेंगे यह बताने में कि हम बहुत बड़े आदमी हैं।असल में लोग यह समझते ही नहीं कि

असल में बड़ा होना और बड़प्पन होना दो अलग अलग चीजें हैं।यह बात उन लोगों को समझना चाहिए जो अकारण अपनी पहुंच और सामर्थ्य का प्रदर्शन करते हैं।

कार्यवाही की इस तेजी को देख नगर का एक वर्ग प्रसन्न है तो एक वर्ग ऐसा भी है जो अप्रसन्न है। आरोप प्रत्यारोप का भी सिलसिला चल निकला है।

कुछ परिस्थितियों में नियमों के पालन हेतु सख्ती की आवश्यकता बन जाती है।

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING17 mins ago

साइंस फिक्शन : 2041 तक बदल जाएगी पूरी दुनिया, जानिए क्या होगा धरती का हाल?

20 साल तक सोए रह जाएं और फिर उठें तो दुनिया कैसी दिखेगी? यह बात आपको किसी साइंस फिक्शन मूवी...

 सक्ती32 mins ago

छत्तीसगढ़ को नहीं बनने देंगे अडानीगढ़ – अर्जुन राठौर

सक्ती(चैनल इंडिया)|  जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे विधान  सभा सक्ती के पुर्व प्रभारी  ने कहा कि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के...

channel india36 mins ago

नपा लोहारा के शासकीय भूमि पर जनप्रतिनिधियों की नजर   हड़पने का प्रक्रिया जारी प्रशासन मौन

कवर्धा(चैनल इंडिया)| राजीवगांधी आश्रय योजना  अंतर्गत राज्य सरकार के निर्देशों के तहत शहरी क्षेत्रों में  पट्टा प्रदान किया जाना है।जिसमें...

 बलरामपुर39 mins ago

कार्य में लापरवाही बरतने पर कलेक्टर ने पर्यवेक्षक की दो वेतन वृद्धि में रोकी, एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की सेवा समाप्त

बलरामपुर(चैनल इंडिया)| विकासखण्ड राजपुर के आंगनबाड़ी केन्द्र बाड़ी चलगली पटेलपारा में विगत 10 महीने से गोदाम में रेडी-टू-ईट सड़ने, बच्चों...

 बलरामपुर43 mins ago

वनाधिकार पट्टाधारी निरंजन गोड़ को मनरेगा से मिली डबरी, सिंचाई के लिए वर्षा पर निर्भरता होगी कम

बलरामपुर(चैनल इंडिया)| शासन के मंशानुरूप वनभूमियों में पीढ़ियों से काबिज तथा आजीविका के साधन के रूप में उपयोग करने वाले...

Advertisement
Advertisement