खबरे अब तक

balodabazar c.g.BREAKINGchannel indiaCHANNEL INDIA NEWSखबरे छत्तीसगढ़

एनडीआरएफ के अधिकारियों के साथ हुआ टेबल टॉप मीटिंग,राहत एवं बचाव का बालसमुन्द में 26 को मांक ड्रिल



बलौदाबाजार| राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ओडिशा से आये वरिष्ठ अफसरों ने आज यहां जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ टेबल टॉप मीटिंग कर जिले में संभावित आपदा एवं इससे निपटने की तैयारियों के संदर्भ में विचार-विमर्श किया। उन्होंने आपदा के आकलन एवं इसके बचाव के लिए विभिन्न उपायों से संबंधित महत्वपूर्ण टिप्स भी अफसरों के साथ साझा किये। बैठक में जिला पंचायत सीईटो डॉ फरिहा आलम सिद्धिकी एवं अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े   केशकाल घाट के पास हुई सड़क दुर्घटना में एक की मौत, एक गंभीर... पीसीसी प्रेसिडेंट मोहन मरकाम ने अपने वाहन में घायल को पहुँचाया अस्पताल

एनडीआरएफ के डिप्टी कमाण्डेण्ट धनंजय कुमार ने एनडीआरएफ की कार्यप्रणाली से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि केवल आपदा से निपटने के लिए इस फोर्स का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि कल 26 फरवरी को पलारी के बालसमुन्द तालाब में आपदा एवं बचाव का डेमो किया जायेगा। दोपहर 11.45 बजे से डेमो शुरू होगा। बाढ़ से बचाव के विभिन्न उपायों का बल के जवानों द्वारा प्रदर्शन कर लोगों को संदेश दिया जायेगा। बैठक में आपदा के समय कार्य करने वाले सभी विभागों के प्रतिनिधियों ने अपनी-अपनी विभागों की क्षमताओं और संसाधनों के बारे में बताया। अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि मैदानी इलाका होने के कारण बाढ़ एक प्रमुख आपदा होती है। हालांकि आपदा पूर्व में सूचित करके नहीं आती है। इसलिए इससे निपटने की पूर्व तैयारी हमेशा रखनी चाहिए। इस अवसर पर एसडीएम महेश राजपूत, जिला कमाण्डेण्ट नागेन्द्र सिंह,एसडीओपी सुभाष दास, जिला शिक्षा अधिकारी चैनसिंह धु्रव, एसडीओ फारेस्ट ए.के.व्यास वेटरिनरी विभाग से एस.एन.जायसवाल, ईई बिजली विभाग राठिया, जिला खाद्य अधिकारी चित्रकान्त धु्रव, तहसीलदार गौतम सिंह, सीएमओ राजेश्वरी पटेल आदि अधिकारी उपस्थित थे।

 

इसे भी पढ़े   पहले पति की हत्या, फिर फेसबुक पर कुबूलनामा, उसके बाद आत्महत्या की कोशिश... जानें दिल दहलाने वाली दास्तां