जिले के 28 समितियों में 12369.3 मेट्रिक टन खाद का भण्डारण कृषकों द्वारा अब तक 9705.3 मेट्रिक टन रासायनिक खाद का उठाव – Channelindia News
Connect with us

channel india

जिले के 28 समितियों में 12369.3 मेट्रिक टन खाद का भण्डारण कृषकों द्वारा अब तक 9705.3 मेट्रिक टन रासायनिक खाद का उठाव

Published

on


एस.के.द्विवेदी की रिपोर्ट
बलरामपुर (चैनल इंडिया)– कृषकों के लिए खरीफ वर्ष 2020 में 12369.3 मेट्रिक टन खाद का भण्डारण जिले के 28 समिति केन्द्रों में किया गया है। कृषकों के लिए आगामी खरीफ मौसम में खेतों में उपयोग करने हेतु रासायनिक खाद यूरिया 4593.3 मेट्रिक टन, डीएपी 3579.4 मेट्रिक टन, एस.एस.पी. 492.9 मेट्रिक टन, एम.ओ.पी. 51 मेट्रिक टन, इफ्को 3652.8 मेट्रिक टन का भण्डारण कर लिया गया है। जिले में अब तक कृषकों द्वारा 9705.3 मेट्रिक टन रासायनिक खाद का उठाव किया जा चुका है।
विकासखण्ड बलरामपुर के सहकारी समिति बलरामपुर में 283.6 मेट्रिक टन यूरिया, 57.0 मेट्रिक टन डीएपी, 8.2 मेट्रिक टन एस.एस.पी., 286 मेट्रिक टन इफ्को, तातापानी में 115.7 मेट्रिक टन यूरिया, 95 मेट्रिक टन डीएपी, 10.7 मेट्रिक टन एस.एस.पी., 180 मेट्रिक टन इफ्को, पस्ता में 167.0 मेट्रिक टन यूरिया, 65 मेट्रिक टन डीएपी, 194 मेट्रिक टन इफ्को, कपिलदेवपुर में 187.2 मेट्रिक टन यूरिया, 168 मेट्रिक टन डीएपी, 30 मेट्रिक टन इफ्को रासायनिक खाद का भण्डारण किया गया है। विकासखण्ड रामचन्द्रपुर के सहकारी समिति के भवंरमाल 272.7 मेट्रिक टन यूरिया, 54.9 मेट्रिक टन डीएपी, 5 मेट्रिक टन एस.एस.पी, 155 मेट्रिक टन इफ्को, त्रिकुण्डा में 253.2 मेट्रिक टन यूरिया, 350 मेट्रिक टन डीएपी, 62 मेट्रिक टन इफ्को, रामचन्द्रपुर में 104.5 मेट्रिक टन यूरिया, 60.5 मेट्रिक टन डीएपी, 30 मेट्रिक टन एस.एस.पी, 110 मेट्रिक टन इफ्को, कामेश्वरनगर में 122.3 मेट्रिक टन यूरिया, 111 मेट्रिक टन डीएपी, 114 मेट्रिक टन इफ्को, विकासखण्ड राजपुर के सहकारी समिति राजपुर में 227.2 मेट्रिक टन यूरिया, 62 मेट्रिक टन डीएपी, 10.2 मेट्रिक टन एसएसपी, 300 मेट्रिक टन इफ्को, बरियों में 204.4 मेट्रिक टन यूरिया, 210 मेट्रिक टन डीएपी, 162.4 मेट्रिक टन इफ्को, धंधापुर में 227.1 मेट्रिक टन यूरिया, 177.6 मेट्रिक टन डीएपी, 81.1 मेट्रिक टन एसएसपी, 5 मेट्रिक टन एमओपी, 160.4 मेट्रिक टन इफ्को, गोपालपुर में 85.2 मेट्रिक टन यूरिया, 115 मेट्रिक टन डीएपी, 7.0 मेट्रिक टन एस.एस.पी, 162.8 मेट्रिक टन इफ्को तथा सेवारी में 239.4 मेट्रिक टन यूरिया, 266 मेट्रिक टन डीएपी, 40 मेट्रिक टन एस.एस.पी., 2 मेट्रिक टन एमओपी, 119 मेट्रिक टन इफ्को रासायनिक खाद का भण्डारण किया गया है। इसी प्रकार विकासखण्ड शंकरगढ़ के सहकारी समिति जमड़ी में 295.1 मेट्रिक टन यूरिया, 333 मेट्रिक टन डीएपी, 27.8 मेट्रिक टन एसएसपी, 10 मेट्रिक टन एमओपी, 99.7 मेट्रिक टन इफ्को, भरतपुर 52.9 मेट्रिक टन यूरिया, 98 मेट्रिक टन डीएपी, 20.6 मेट्रिक टन एसएसपी, 8.4 मेट्रिक टन इफ्को, डीपाडीह में 137.5 मेट्रिक टन यूरिया, 104 मेट्रिक टन डीएपी, 0.5 मेट्रिक टन इफ्को, रेहड़ा में 63 मेट्रिक टन यूरिया, 28.8 मेट्रिक टन डीएपी, 53 मेट्रिक टन इफ्को, विकासखण्ड कुसमी के सहकारी समिति कुसमी में 130.5 मेट्रिक टन यूरिया, 292.9 मेट्रिक टन डीएपी, 100 मेट्रिक टन एसएसपी, 34 मेट्रिक टन एमओपी, 101 मेट्रिक टन इफ्को, सामरी में 90.4 मेट्रिक टन यूरिया, 125.7 मेट्रिक टन डीएपी, 2 मेट्रिक टन एस.एस.पी., 95 मेट्रिक टन इफ्को, चांदो में 148 मेट्रिक टन यूरिया, 57 मेट्रिक टन डीएपी, 80.3 मेट्रिक टन एसएसपी, 58 मेट्रिक टन इफ्को, भुलसीकला में 247.7 मेट्रिक टन यूरिया, 77.5 मेट्रिक टन डीएपी, 68.5 मेट्रिक टन एसएसपी, 264 मेट्रिक टन इफ्को, विकासखण्ड वाड्रफनगर के सहकारी समिति विरेन्द्रनगर में 159.3 मेट्रिक टन यूरिया, 60 मेट्रिक टन डीएपी, 212 मेट्रिक टन इफ्को, वाड्रफनगर में 189.4 मेट्रिक टन यूरिया, 62.6 मेट्रिक टन डीएपी, 223.5 मेट्रिक टन इफ्को, बरतीकला में 61.5 मेट्रिक टन यूरिया, 198 मेट्रिक टन डीएपी, 188 मेट्रिक टन इफ्को, चलगली (डोंगरो) 165.2 मेट्रिक टन यूरिया, 196.9 मेट्रिक टन डीएपी, 60 मेट्रिक टन इफ्को, रामनगर में 170.6 मेट्रिक टन यूरिया, 61.2 मेट्रिक टन डीएपी, 94.2 मेट्रिक टन इफ्को, रघुनाथनगर में 132.7 मेट्रिक यूरिया, 92.6 मेट्रिक टन डीएपी, 86 मेट्रिक टन इफ्को, तथा सहकारी समिति बलंगी में 60.3 मेट्रिक टन यूरिया, 1.6 मेट्रिक टन एसएसपी, 73.9 मेट्रिक टन इफ्को रासायनिक खाद का भण्डारण किया गया है।
कृषकों द्वारा विकासखण्ड बलरामपुर के सहकारी समितियों से 1560.4 मेट्रिक टन, रामचन्द्रपुर के सहकारी समितियों से 1064.7 मेट्रिक टन, राजपुर के सहकारी समितियों से 2450.2 मेट्रिक टन, शंकरगढ़ के सहकारी समितियों में 988.9, कुसमी के सहकारी समितियों से 1524.6 मेट्रिक टन तथा वाड्रफनगर के सहकारी समितियों में 2116.5 मेट्रिक टन रासायनिक खाद का उठाव किया गया है।

इसे भी पढ़े   गौरव विद्या मंदिर स्कूल का बारहवीं के परिणाम सर्वश्रेष्ठ रहा ■ 61 में 57 छात्र प्रथम श्रेणी में पास हुवे
Advertisement
Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india5 mins ago

प्रभारी कलेक्टर ने किया खैरबार एवं सरगवां उपार्जन केन्द्र का निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

अम्बिकापुर: प्रभारी कलेक्टर कुलदीप शर्मा ने आज अम्बिकापुर जनपद के खैरबार एवं सरगवां उपार्जन केन्द्र का औचक निरीक्षण कर धान...

channel india9 mins ago

अवैध तरीके से धान खपाने वालों पर होगी कड़ी कार्यवाही, एसीएस ने ली धान खरीदी की तैयारी बैठक

अम्बिकापुर: अतिरिक्त मुख्य सचिव अमिताभ जैन की अध्यक्षता में आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से धान खरीदी की तैयारियों की...

BREAKING32 mins ago

रिटायर्ड पैरा एसएफ एवं मार्कोस कमांडो करेंगे दिव्यांगो को प्रशिक्षित, स्कूबा, स्काई डाइविंग और पर्वतारोहण में बनाएँगे तीन विश्व रिकॉर्ड

रायपुर(चैनल इण्डिया)। ‘ऑपरेशन ब्लू फ्रीडम’ दिव्यांगो के मज़बूत हौसलों और उनकी योग्यताओं को व्यक्त करने के लिए एक आंदोलन हैं,...

BREAKING1 hour ago

कलेक्टर ने अधिकारी और कर्मचारियों को दिलाई संविधान की शपथ

जशपुरनगर(चैनल इंडिया)। कलेक्टर महादेव कावरे ने आज कलेक्ट्रेट परिसर में अधिकारी कर्मचारियों को संविधान दिवस की शपथ दिलाई एवं बधाई...

BREAKING1 hour ago

शराब की ऑनलाइन बुकिंग शुरू, होमडिलीवरी की भी मिली सुविधा उपलब्ध…ऐसे करें बुकिंग

जशपुरनगर: जिले में देशी-विदेशी मदिरा की ऑनलाइ्रन होम डिलीवरी की सुविधा हेतु मदिरा की बुकिंग के लिए वेबसाईट एवं एन्ड्रॉयड...

खबरे अब तक

Advertisement