किसी ने हंसाया तो कोई नम कर गया आंखें, देखिए 2020 के वो वीडियो जिन्‍होंने जीते सबके दिल – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

किसी ने हंसाया तो कोई नम कर गया आंखें, देखिए 2020 के वो वीडियो जिन्‍होंने जीते सबके दिल

Published

on

2020… आने वाले वक्‍त में जब भी इस साल का जिक्र होगा, लोग शायद सिहर जाएंगे। कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में ऐसा कहर बरपाया कि उससे उबरने में शायद दशकों लगें। हर तरफ वायरस का खतरा और एक-दूसरे को शक की नजरों से देखते लोग… इन सबके बीच कुछ-कुछ बातें ऐसी भी हुईं जो न सिर्फ इंसानियत में लोगों के भरोसे को पुख्‍ता कर गईं, बल्कि जीवटता की मिसाल भी बनीं। भारतीय सोशल मीडिया में कोविड के अलावा कुछ ऐसे पल भी रहे जिन्‍होंने लोगों के चेहरे पर मुस्‍कान बिखेरी। साल के आखिरी दिन, ऐसी ही चार सच्‍ची कहानियों से आपको रूबरू कराते हैं।

Viral Videos of 2020: साल 2020 हम सबके लिए बेहद भारी रहा। इस बुरे दौर के बीच भारतीय सोशल मीडिया पर कुछ ऐसी कहानियां सामने आईं जिन्‍होंने न सिर्फ इंसानियत पर हमारा भरोसा बढ़ाया, बल्कि आंखों को नम भी किया।

2020… आने वाले वक्‍त में जब भी इस साल का जिक्र होगा, लोग शायद सिहर जाएंगे। कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में ऐसा कहर बरपाया कि उससे उबरने में शायद दशकों लगें। हर तरफ वायरस का खतरा और एक-दूसरे को शक की नजरों से देखते लोग… इन सबके बीच कुछ-कुछ बातें ऐसी भी हुईं जो न सिर्फ इंसानियत में लोगों के भरोसे को पुख्‍ता कर गईं, बल्कि जीवटता की मिसाल भी बनीं। भारतीय सोशल मीडिया में कोविड के अलावा कुछ ऐसे पल भी रहे जिन्‍होंने लोगों के चेहरे पर मुस्‍कान बिखेरी। साल के आखिरी दिन, ऐसी ही चार सच्‍ची कहानियों से आपको रूबरू कराते हैं।

इसे भी पढ़े   ब्लॉगः दर्जन में पहुंचेगी ओलिंपिक मेडल की गिनती

पुलिस केक लेकर घर पहुंची तो रो दिए करण पुरी
पुलिस केक लेकर घर पहुंची तो रो दिए करण पुरी

भारत में 25 मार्च से लॉकडाउन लग गया था। सब घरों में कैद थे। कुछ बुजुर्ग ऐसे थे जो परिवार और दोस्‍तों से कट गए। अकेलापन काटने दौड़ता था। ऐसे में हरियाणा के पंचकूला के रहने वाले करण पुरी के घर जब 28 अप्रैल को पुलिस पहुंची तो वे भी हैरान थे। पुलिस देखकर बोले, ‘मैं करण पुरी हूं, अकेला रहता हूं और सीनियर सिटिजन हूं।’ मगर फिर जो हुआ, उसने न सिर्फ पुरी की आंखों से आंसुओं की धारा बहाई, बल्कि देश-विदेश के लोगों को भी भावुक कर दिया। उस दिन करण पुरी का जन्‍मदिन था। पुलिसवाले केक लेकर पहुंचे थे। न सिर्फ केक कटवाया, बल्कि ‘हैप्‍पी बर्थडे टू यू…’ भी गाया। आंसुओं में डूबे करण पुलिस को बताते रहे कि उनका बेटा विदेश रहता है और वह बेहद अकेला महसूस कर रहे थे। पुलिसवालों ने भरोसा दिया कि ‘हम भी आपका परिवार ही हैं।’

 

कोरोना को हराने पर बहनों के साथ झूमा पूरा देशकोरोना को हराने पर बहनों के साथ झूमा पूरा देश

जुलाई का महीना था। देश में कोविड मामलों की संख्‍या बढ़ती जा रही थी। स्‍नेहल सतपुते कोविड को मात देकर घर लौटी थीं। दरवाजे पर उनकी 23 साल की बहन सलोनी खड़ी थीं। जैसे ही उन्‍होंने स्‍नेहल को देखा, नाचना शुरू कर दिया। कोरोना को हराने की खुशी में दोनों बहनें जमकर नाचीं। धीमे-धीमे बाकी लोग भी जुटे और रोड पर जैसे समां बंध गया। उनका वीडियो इस बात का सबूत था कि कोई महामारी हमारे जज्‍बे को खत्‍म नहीं कर सकती। वीडियो खूब वायरल हुआ जिसे आप अगली स्‍लाइड में देख सकते हैं।

इसे भी पढ़े   Exclusive: सोशल मीडिया ट्रायल पर बरसे अर्जुन रामपाल, कहा- 5 मिनट में फुस्‍स हो जाता है जोश

 

बाबा के ढाबा को मिली नई पहचान
बाबा के ढाबा को मिली नई पहचान

इस साल की शायद सबसे मशहूर और विवादित सोशल मीडिया स्‍टोरी। गौरव वासन नाम के एक फूड ब्‍लॉगर ने इंस्‍टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया। एक बुजुर्ग दंपती जो कि दिल्‍ली के मालवीय नगर में स्‍टॉल लगाते थे, रोते हुए बता रहे थे कि कैसे महामारी में उनका खाना खाने कोई नहीं आ रहा है। 80 साल के कांता प्रसाद और उनकी पत्‍नी बादामी देवी का स्‍टॉल ‘बाबा का ढाबा’ 1990 से यहीं पर था। गौरव का यह वीडियो जल्‍द ही ट्विटर पर पहुंचा और वहां से पूरे देश में। लोगों की भीड़ ‘बाबा के ढाबा’ पर जुटने लगी और मीडिया के कैमरे भी। ‘बाबा के ढाबा’ की सूरत ही बदल चुकी थी। लोगों ने खूब मदद की, पैसों से भी और श्रमदान देकर भी। मगर कहानी में मोड़ तब आया जब प्रसाद ने वासन पर उन्‍हें धोखा देने का आरोप लगाया। ब्‍लॉगर पर ‘बाबा के ढाबा’ के नाम पर जमा पैसों में हेरफेर का आरोप लगा जिससे उसने साफ इनकार किया। पुलिस तक मामला पहुंचा लेकिन शायद बाहर बात बन गई।

इसे भी पढ़े   सिंधु ने बताया, कोविड-19 ब्रेक के दौरान क्या रहा उनका सबसे अच्छा कदम

डॉक्‍टर का ऐसा डांस‍ क‍ि ऋतिक भी हो गए फैन
डॉक्‍टर का ऐसा डांस‍ क‍ि ऋतिक भी हो गए फैन

असम के डॉक्‍टर अरूप सेनापति ने अप्रैल में बतौर कोविड डॉक्‍टर काम करना शुरू किया था। जैसे-जैसे महामारी बढ़ी, डॉ. सेनापति और उनके जैसे हजारों डॉक्‍टर्स, हेल्‍थ वर्कर्स का काम बढ़ता चला गया। बिना ब्रेक लिए, 24-24 घंटे काम करते रहे। डॉ. सेनापति ने अपने कोविड मरीजों को खुश करने का अनूठा तरीका निकाला। वह बॉलिवुड की धुनों पर नाचते और पेशंट्स का दिल बहलाते। अक्‍टूबर में उनके ही एक साथी ने वीडियो बना लिया। जब यह वीडियो सोशल मीडिया पर आया तो धूम मच गई। खुद ऋतिक रोशन ने डॉ. सेनापति के डांस मूव्‍स की तारीफ की।

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

R.O. No. 11359/53

CG Trending News

BREAKING13 hours ago

छतीसगढ़ ब्रकिंग ;रायपुर के 240 निजी स्कूलों की मान्यता रद्द

रायपुर ;जिला शिक्षा नें अधिकारी  जिले के 240 निजी स्कूलों की मान्यता तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दी है| इसके...

channel india14 hours ago

धान से लदा ट्रेक्टर अचानक पलटा

चिरमिरी – ग्राम मेंड्रा में उस समय अफरातफरी का माहौल बन गया जब धान से लदा ट्रेक्टर अचानक पलट गया।...

channel india14 hours ago

वेब सीरीज “तांडव” पर छतीसगढ़ में भी मंचा तांडव, भारतीय जनता युवा मोर्चा ने किया पुतला दहन

रायपुर। वेब सीरीज  पर जब से “तांडव” आई है तब से इस वेब सीरीज नें देश के हर कोनें में...

बेरोजगार किसान रैली महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक बेरोजगार किसान रैली महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक
channel india15 hours ago

बेरोजगार किसान मोर्चा: महाराष्ट्र से रैली कर रायपुर वापस लौटे शिवसैनिक

रायपुर। छत्तीसगढ़ से शिव सेना के प्रदेश सचिव संजय नाग ने प्रेस को जानकारी देते हुए बताया कि शिवसेना प्रदेश...

channel india15 hours ago

औघड़ आश्रम स्थापना दिवस कार्यक्रम: जरूरतमंदों को बांटा गया कंबल वितरण

जशपुर। जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे एवं पुलिस अधीक्षक बालाजी राव पत्थलगांव विकासखंड के शेखरपुर में स्थित औघड़ आश्रम  एवं औघड़...

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement