अब तक 55981 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार, देश में 100 दिनों का रोजगार हासिल करने वाले कुल परिवारों में अकेले छत्तीसगढ़ की हिस्सेदारी 41 प्रतिशत – Channelindia News
Connect with us

channel india

अब तक 55981 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार, देश में 100 दिनों का रोजगार हासिल करने वाले कुल परिवारों में अकेले छत्तीसगढ़ की हिस्सेदारी 41 प्रतिशत

Published

on


छत्तीसगढ़ मनरेगा जॉबकॉर्डधारी परिवारों को 100 दिनों का रोजगार देने में देश में शीर्ष पर,

लक्ष्य के विरूद्ध रोजगार सृजन में देश में दूसरे स्थान पर, पहली तिमाही में ही 8.85 करोड़ मानव दिवस का रोजगार,

प्रदेश में रोजगार सृजन के सालभर के लक्ष्य का 66 प्रतिशत पूरा, 10 जिलों में लक्ष्य का 70 प्रतिशत से अधिक काम,

लक्ष्य हासिल करने में नक्सल प्रभावित जिले आगे, पहले पांच स्थानों में बस्तर संभाग के जिले

रायपुर |  मनरेगा (महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना) कार्यों में छत्तीसगढ़ का उत्कृष्ट प्रदर्शन लगातार जारी है। चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में मनरेगा जॉबकॉर्डधारी परिवारों को 100 दिनों का रोजगार देने में छत्तीसगढ़ देश में प्रथम स्थान पर है। अप्रैल, मई और जून में कुल 55 हजार 981 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराया गया है। देश में 100 दिनों का रोजगार हासिल करने वाले कुल परिवारों में अकेले छत्तीसगढ़ की हिस्सेदारी करीब 41 प्रतिशत है।

इसे भी पढ़े   बिग ब्रेकिंग : पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत बिगड़ी , अस्पताल मे भर्ती

चालू वित्तीय वर्ष में लक्ष्य के विरूद्ध रोजगार सृजन के मामले में छत्तीसगढ़ देश में दूसरे स्थान पर है। शुरूआती तीन महीनों में ही यहां सालभर के लक्ष्य का 66 प्रतिशत काम पूर्ण कर लिया गया है। इस दौरान आठ करोड़ 84 लाख 50 हजार मानव दिवस रोजगार का सृजन किया गया है। ग्रामीणों को रोजगार देने में नक्सल प्रभावित जिलों ने अच्छा काम किया है। प्रदेश में लक्ष्य के विरूद्ध सर्वाधिक रोजगार देने वाले पहले पांच जिले बस्तर संभाग के हैं। प्रदेश के दस जिलों ने इस वर्ष के लिए स्वीकृत लेबर बजट का 70 प्रतिशत से अधिक काम पूर्ण कर लिया है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने मनरेगा में लगातार अच्छे प्रदर्शन के लिए विभागीय अधिकारियों-कर्मचारियों तथा पंचायत प्रतिनिधियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चलते लाक-डाउन के बावजूद मनरेगा के अंतर्गत तत्परता से शुरू हुए कार्यों से ग्रामीणों को बड़ी संख्या में सीधे रोजगार मिला। मनरेगा कार्यों ने विपरीत परिस्थितियों में भी ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गतिशील रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने उम्मीद जताई कि पंचायत प्रतिनिधियों की जागरूकता और मनरेगा टीम की सक्रियता से प्रदेश में आगे भी मनरेगा के तहत बेहतरीन कार्य होंगे।

इसे भी पढ़े   UGC कर रही है छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ :- आकाश शर्मा

भारत सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष में छत्तीसगढ़ के लिए कुल 13 करोड़ 50 लाख मानव दिवस का लेबर बजट स्वीकृत किया है। वर्ष के प्रथम तीन महीनों में ही प्रदेश ने आठ करोड़ 84 लाख 50 हजार मानव दिवस रोजगार का सृजन कर 66 प्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया है। पहली तिमाही में रोजगार सृजन का राष्ट्रीय औसत 39 प्रतिशत है। प्रदेश में लक्ष्य के विरूद्ध रोजगार देने में नारायणपुर जिला सबसे आगे है। वहां 84 प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण कर लिया गया है। प्रदेश के नौ अन्य जिलों ने भी 70 प्रतिशत से अधिक काम पूर्ण कर लिया है। सुकमा 78 प्रतिशत, बीजापुर 77 प्रतिशत, बस्तर 74 प्रतिशत, कोंडागांव और रायगढ़ 73-73 प्रतिशत, कांकेर और दंतेवाड़ा 72-72 प्रतिशत, कोरबा और गरियाबंद 71-71 प्रतिशत ने भी इस साल के लक्ष्य का 70 प्रतिशत से अधिक हासिल कर लिया है। शेष 18 जिलों ने भी 60 प्रतिशत से अधिक रोजगार सृजन कर लिया है।

इसे भी पढ़े   चीनी राष्ट्रपति का पुतला दहन कर चीन को सबक सिखाने शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद मोदी से किया अपील

जरूरतमंद परिवारों को मनरेगा के तहत 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराने में भी प्रदेश में अच्छा काम हुआ है। देश में 100 दिनों का रोजगार प्राप्त करने वाले परिवारों की कुल संख्या एक लाख 37 हजार 365 है। इनमें से 40.75 प्रतिशत यानि 55 हजार 981 परिवार अकेले छत्तीसगढ़ के हैं। प्रदेश में कबीरधाम जिले में सर्वाधिक 6139 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराया गया है। इस साल अब तक बिलासपुर में 4410 परिवारों, राजनांदगांव में 3804, धमतरी में 3261, बलौदाबाजार-भाटापारा में 3240, और मुंगेली में 3037 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है।

Advertisement
Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india7 mins ago

छत्तीसगढ़ स्टेट पाॅवर कंपनी के कार्यपालक निदेशक पाण्डे एवं अंसारी की हुई भावभीनी विदाई, चेयरमेन सुब्रत साहू ने कहा- ‘दक्ष अभियंताओं के बूते सुदृढ़ बनी विद्युत प्रणाली’

रायपुर: छत्तीसगढ़ स्टेट पाॅवर कंपनीज मुख्यालय में कार्यपालक निदेशक एच.के. पाण्डेय एवं एम.ए. अंसारी की सेवानिवृत्ति पर भावभीनी विदाई दी...

BREAKING22 mins ago

Big Breaking: सुकमा में CAF के जवान ने कि अत्महत्या, सर्विस बंदूक से मारी खुद को गोली…मौके पर हुई मौत

सुकमा: सुकमा में बीते रात CRPF के आधा दर्जन जवान IED ब्लास्ट में झुलस गए जहां असिस्टेंट कमंडेड शहीद हो...

BREAKING43 mins ago

सीएम बघेल ने सुकमा नक्सली मुठभेड़ कि कड़ी निंदा की, सहायक कमांडेंट की शहादत को नमन करते हुए दी श्रद्धांजलि

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुकमा जिले में हुये नक्सली मुठभेड़ की कड़ी निंदा करते हुये इसमें सीआरपीएफ के कोबरा...

BREAKING1 hour ago

19 साल के लड़के ने आग लगाकर की आत्महत्या: नशे के गिरफ्त में बच्चे, जिम्मेदार मौन… आखिर नशे के सौदागरों पर कारावाही कब

धरसीवां-(चैनल इंडिया) धरसीवां क्षेत्र के ग्राम सांकरा में आज एक युवक ने आग लगाकर खुदकुशी कर ली खुदकुशी करने का...

BREAKING2 hours ago

कोरोना अपडेट: छत्तीसगढ़ में बढ़ा कोरोना का ग्राफ, मिले 1890 नए पॉज़िटिव मरीज… 13 मरीजों ने तोड़ा दम

रायपुर: पिछले 24 घंटों में कोरोना के कुल 1890 नए पॉज़िटिव मरीजों की पहचान हुई है। साथ ही अस्पताल से...

खबरे अब तक

Advertisement