खबरे अब तक

BREAKINGchannel indiaCHANNEL INDIA NEWSक्राइमदेश-विदेश

दरिंदगी के साथ निर्ममता;दुष्कर्म कि सजा से छूटा आरोपी,पीड़िता को जिंदा जलाया



राजस्थान|प्रदेश के हनुमानगढ़ जिले से दुष्कर्म के बाद हत्या का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है,जहाँ हैवानियत कि सारी हड़े तो पार कि ही गयी वही पीड़िता को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया|बता दुष्कर्म के एक आरोपी ने जमानत पर छूटकर पीड़िता को जिंदा जलाने की कोशिश की।जिससे महिला के शरीर का हिस्सा करीब 70 फीसदी तक झुलस गया है।इस भयानक हादसे कि शिकार बनी महिला पर इस प्रकार का प्राणघात वारदात झकझोर कर रख दिया है,झुलसी हुई महिला को गंभीर हालत में बीकानेर रेफर कर दिया गया है।

इसे भी पढ़े   ₹1247 के लिए गूगल से नंबर लेकर की शिकायत, खाते से निकले 93 हजार

कैमरे मे कैद हुआ आरोपी

इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी प्रदीप बिश्नोई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है,और उससे पूछताछ जारी है। इसके अलावा पुलिस घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरों की भी जांच कर रही है। एक सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, महिला के घर के बाहर घटना के बाद एक युवक धानमंडी में भागता हुआ दिखाई दिया।

दुष्कर्म का परिजनो ने लगाया ठा आरोप

इसे भी पढ़े   एक भी बच्चा सिग्नल पर भीख माँगते दिखा तो इसे माना जाएगा चाइल्ड लाइन की चूक, - जिला बाल संरक्षण समिति की बैठक में कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने दिये स्पष्ट निर्देश, कहा चाइल्ड लाइन और टास्क फोर्स मिल कर सुनिश्चित करें

जानकारी के अनुसार  महिला की नानी की शिकायत के आधार पर रिपोर्ट दर्ज की गई है और पुलिस हर एंगल से इस मामले की जांच कर रही है। महिला की नानी ने बताया कि मेरी नातिन ने प्रदीप बिश्नोई के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। नानी ने बताया कि आरोपी दीवार फांदकर घर में घुसा और इसके बाद भागने के लिए मेन गेट खोल दिया।

नानी की शिकायत के मुताबिक महिला का भाई बाहर के कमरे में सो रहा था और आरोपी ने उसके कमरे के गेट पर रस्सी बांध दी थी ताकि गेट न खुल सके। जिस कमरे में महिला सो रही थी, उसके बाहर भारी मात्रा में मिट्टी का तेल छिड़क दिया और बाहर से महिला के नाम की आवाज लगाकर बुलाने लगा। जैसे ही महिला बाहर आई, तो उसने छड़ी पर कपड़ा लपेटकर केरोसिन तेल छिड़क दिया, जिसके बाद पीड़िता के शरीर का 70 फीसदी आग से झुलस गया।

इसे भी पढ़े   पुलिस के हत्थे चढ़ा गिरोह, चोर बोला- 'भगवान के डर से नहीं बेच पाया चोरी की गई बेशकीमती मूर्तियां'