प्रदेश में जलभराव को लेकर सीएम बघेल ने कहा- बारिश को रोक नहीं सकते, इसलिए जो जहां है वहीं रहें… – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

प्रदेश में जलभराव को लेकर सीएम बघेल ने कहा- बारिश को रोक नहीं सकते, इसलिए जो जहां है वहीं रहें…

Published

on

रायपुर(चैनल इंडिया)। छत्तीसगढ़ में बीते कुछ दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है. जिस कारण करीब सभी जिलों में जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है. नदी-नाले ऊफान पर हैं. आवागमन बाधित हो गया है. राजधानी रायपुर में भी जलभराव के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि जहां तेज बारिश होगी, उसे रोका नहीं जा सकता है. इसके लिए सिस्टम काम नहीं करता है. इसलिए लोग अभी यात्रा न करें. जहां है वहां ही रहें. क्योंकि अभी ज्यादा बारिश हो रही है. जिम्मेदार अधिकारी और जनप्रतिनिधि है, वो जलभराव की स्थिति को देख रहे हैं.
दरअसल प्रदेश में पिछले कई दिनों से तेज बारिश हो रही है. जिलों में भारी बारिश की वजह से शहरें जलमग्न हो गई हैं. चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है. गरियाबंद जिले के छोटे नदी नालों से लेकर पैरी और सोंढूर जैसी बड़ी नदियां उफान पर हैं. सिकासार बांध पूरी तरह लबालब हो गया है. मौसम विभाग ने भी अलर्ट जारी कर रखा है.
राजधानी रायपुर में भी एक अदभुत नजारा देखने को मिला. पुरानी बस्ती स्थित महामाया मंदिर में जलभराव की स्थिति निर्मित हो गई. महामाया मंदिर प्रांगण के समलेश्वरी देवी के मंदिर में भी पानी भर गया है. ये पहली बार है, जब ऐसा नजारा मंदिर प्रांगण में देखने को मिला है. इसके अलावा कई इलाके जलमग्न हो गए हैं.
धमतरी जिले के अर्जुनी थाना में भी बारिश का पानी घुस गया है. यहां भी बीती रात से लगातार तेज बारिश हो रही है. सड़कों पर जलभराव के बाद थाने में बारिश का पानी घुस गया है. थाने में घुटनों तक पानी भर गया है, जिसके बाद पुलिस कर्मचारी थाने का सामान सुरक्षित रखने में जुटे हुए हैं. जिले के कई इलाके में पानी भरा हुआ है.
गरियाबंद जिले के घटारानी जलप्रपात भी इन दिनों पूरे शबाब पर है. पिछले दो दिनों से अंचल सहित क्षेत्र में दिन रात हो रही लगातार बारिश के चलते मां घटारानी का जलप्रपात लोगों को मंत्र मुग्ध कर आकर्षित कर रहा है. यहां पहाड़ों से होकर गिरने वाली तेज धार की शक्ल झरने में तब्दील हो गया है. जो अब लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है. यही वजह है कि अंचल सहित प्रदेश भर के दूर-दराज से लोग धार्मिक स्थल माँ घटारानी के दर्शन के साथ प्राकृतिक सौंदर्य का लुत्फ उठाने यहां पहुँच रहे हैं.
बता दें कि मौसम विभाग ने 14 सितंबर के लिए भी चेतावनी जारी किया है. छत्तीसगढ़ के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने और गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. प्रदेश के बिलासपुर संभाग और उससे लगे सरगुजा, दुर्ग और रायपुर संभाग के जिलों में भारी वर्षा होने की प्रबल संभावना है. प्रदेश में अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है.
15 सितंबर को छत्तीसगढ़ के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने और गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. प्रदेश के बिलासपुर संभाग के पूर्वी मध्यप्रदेश से लगे जिलों में और सरगुजा संभाग के कुछ जिलों में एक दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की प्रबल संभावना है. प्रदेश में अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है.

 


Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING7 hours ago

UP में ‘अब्बाजान’ के बाद छग में ‘चचाजान’ पर सियासत…

रायपुर(चैनल इंडिया)। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अब्बाजान वाले बयान के बाद अब छत्तीसगढ़ में चचाजान पर सियासत तेज...

BREAKING8 hours ago

सरायपाली संयुक्त शिक्षक संघ की बैठक हुई आज ,समस्याओं को लेकर बीईओ से मिलेंगे

सरायपाली(चैनल इंडिया)|  आज 18 सितंबर को छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ब्लॉक इकाई सरायपाली के सदस्यों की आवश्यक बैठक बीआरसीसी...

 सक्ती8 hours ago

प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिवस के शुभ अवसर पर भाजपा महिला मोर्चा ने जिला चिकित्सालय में किया फल वितरण…

सक्ती(चैनल इंडिया)। हमारे गौरव राष्ट्रहित सर्वोपरी को मानकर कार्य करने वाले हमारे आदर्श  भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र  मोदी जी...

 सक्ती8 hours ago

शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में फेरी कर चूड़ी बेचने वाले निकले आरोपी, जानिए क्या है पूरा मामला…

मोहन अग्रवाल की रिपोर्ट… सक्ती(चैनल इंडिया)|  विगत 15 सितंबर को नगर के व्यस्त मार्ग नवधाचौक में स्थित मयंक मोबाइल दुकान...

channel india8 hours ago

हाथी ने साइकिल सवार युवक को पटक-पटक कर उतारा मौत के घाट….

जशपुर(चैनल इंडिया)। प्रदेश में हाथियों का उत्पात लगातार जारी है। एक बार फिर हाथी ने 2 दिन के अंदर 3...

Advertisement
Advertisement