रायपुर की आबादी 15 लाख पार, महानगर पालिका बनाने का प्रस्ताव ठण्डे बस्ते में… – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

रायपुर की आबादी 15 लाख पार, महानगर पालिका बनाने का प्रस्ताव ठण्डे बस्ते में…

Published

on

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ औद्योगिक व व्यापारिक नजरिए से देश के नक्शे में तेजी से उभरा है। यह व्यापारियों के लिए पसंदीदा स्थल बन चुका है। औद्योगिक दृष्टि से यहां निवेशक भी निवेश करने हेतु खिंचे चले आ रहे हैं। मगर रायपुर शहर की बात करें तो आज भी यहां विकास की रफ्तार अब भी सुस्त हैं।

वर्तमान में राजधानी रायपुर की जनसंख्या करीब 15 लाख के करीब पहुंच चुकी है। इतनी बड़ी जनसंख्या के लिए विकास कार्यों की गति को रफ्तार देने के लिए नगर निगम को महानगर पालिका बनाए जाने की आवश्यकता महसूस हो रही है। 2014 में नगर निगम की सामान्य सभा में रायपुर को महानगर पालिका बनाने का प्रस्ताव रखा गया था। तब यह विशेष प्रस्ताव जिससे शहर के लोगों का भल होता निगम में हंगामें की भेंट चढ़ गया। 2014 में रायपुर और बीरगांव को मिलाकर महानगर पालिका बनाने का प्रस्ताव तैयार किया गया था। वर्तमान में बिरगांव खुद नगर निगम बन चुका है। साथ ही रायपुर नगर निगम को महानगर पालिका बनाने का प्रस्ताव भी ठंडे बस्ते में चला गया है।

रायपुर नगर निगम को महानगर पालिका बनाने के लिए शहर राजधानी के 70 वार्डों का परिसीमन नए सिरे से करना होगा। बता दें कि 12 साल पहले रायपुर नगर निगम में पहले 54 वार्ड थे, लेकिन बढ़ती आबादी के बाद अब 70 वार्ड हो गए हैं। निगम को महानगर पालिका बनाने के लिए 100 वार्ड शामिल किए जाएंगे। मगर अबतक नगर निगम में महानगर पालिका बनाए जाने को लेकर कोई प्रस्ताव ही तैयार नहीं किया गया है। बता दें कि पिछला परिसीमन वर्ष 2011 की जनगणना के मुताबिक वार्डों में जनसंख्या को बराबर किया गया है। 2011 में शहर की जनसंख्या करीब 11 लाख थी। यह अभी 15 लाख के पार पहुंच चुकी है।

23 नवंबर को निगम में सामान्य सभा प्रस्तावित है। महानगर पालिका बनाने का प्रस्ताव सबसे पहले एमआईसी की बैठक में पारित किया जाएगा। इसके बाद सामान्य सभा से पास किए जाने के बाद यह प्रस्ताव राज्य सरकार के पास फिर केंद्र के पास सहमति के लिए जाएगा। वर्तमान में रायपुर 215 वर्ग मीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है। मगर महानगर पालिका के लिए इसका दायरा करीब 400 वर्ग मीटर तक बढ़ाया जाएगा। जिसमें डूंडा से सेजबहार के आगे तक का बड़ा क्षेत्र शामिल किया जाएगा। इसके अलावा जोरा और पुराने धमतरी क्षेत्र को भी शामिल किया जाएगा।

नगर निगम के सभापति प्रमोद दुबे के कहना है कि  वर्तमान में राजधानी रायपुर से 26 से ज्यादा विमानों की सुविधा है। रायपुर हर मायने में एक बड़ा व्यापारिक केंद्र बन चुका है। ऐसे में जो सुविधाएं शहर के लोगों को मिलनी चाहिए वह सुविधाएं फिलहाल नहीं मिल पा रही है। शहर के लोगों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए रायपुर नगर निगम को महानगर पालिका बनाने की कवायद अब जरूरी है।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING9 mins ago

नासा ने किया दावा: चांद के ऑक्सीजन से लाखों साल तक सांस ले सकते हैं लोग…

ऑस्ट्रेलियन अंतरिक्ष एजेंसी का मुख्य उद्देश्य है कि वह अपने लूनर रोवर के जरिए चांद की सतह से पत्थर जमा...

BREAKING24 mins ago

आश्रम अधीक्षक ने पढ़ने आए बच्चों को कराई मजदूरी

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में बाल मजदूरी का मामला सामने आया है। आश्रम अधीक्षक खुद के खेत में आश्रम के...

BREAKING41 mins ago

कंगना रनौत ने दर्ज कराई FIR, जाने क्या है पूरा मामला…

अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है, जिसके जरिए एक्ट्रेस ने बताया कि उन्होंने उन...

BREAKING54 mins ago

CG News: निर्वाचन आयोग ने इन 103 लोगों के चुनाव लड़ने पर लगाई रोक

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के नगरीय निकायों में आम और उप चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। इस बीच राज्य...

BREAKING57 mins ago

Cm योगी ने दिए निर्देश, विदेश से आने वालों की पड़ताल हो और कहा- हर स्तर पर बरतें सावधानी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्चाधिकारियों को कोविड के ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर हर स्तर पर सावधानी बरतने के निर्देश दिए...

Advertisement
Advertisement