रायपुर :  स्ट्रीट वेंडर  रोजी-रोटी कमाने को परेशान,किसी को सुध नही  – Channelindia News
Connect with us

Special News

रायपुर :  स्ट्रीट वेंडर  रोजी-रोटी कमाने को परेशान,किसी को सुध नही 

Published

on


रायपुर | कोरोना में रोजगार का सबसे बड़ा संकट स्ट्रीट वेंडरों यानी सड़क पर ठेले-गुमटियां लगाकर कारोबार करनेवालों के सामने आया है। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में वेंडरों को कर्ज देने की बात आई है। राजधानी में लगभग 6 हजार वेंडर हैं। हर वेंडर को अधिकतम 10 हजार रुपए के हिसाब से राजधानी में ही 6 करोड़ रुपए का कर्ज बांटने का प्लान फाइनल हुआ और सर्वे शुरू होने ही वाला था कि संबंधित एजेंसी यानी शहरी आजीविका मिशन के दफ्तर में ताला लग गया। वहां के कुछ कर्मचारी कोरोना पाजिटिव निकले, इसलिए दफ्तर तो सील हुआ ही, सर्वे भी बेमुद्दत रोकना पड़ गया। अब यह भी स्पष्ट नहीं है कि सर्वे कब शुरू होगा और वेंडरों को कब तक कर्ज मिल पाएगा, क्योंकि कई का तो कारोबार ही हफ्तों से बंद है। राजधानी में सड़क किनारे ठेलों पर या फुटपाथ पर दुकान सजाकर बैठने वाले वेंडरों का आखिरी बार सर्वे दो साल पहले हुआ था। उस सर्वे में करीब 6 हजार स्ट्रीट वेंडर पाए गए थे। इनमें से 1800 से ज्यादा चाय-पान गुपचुप, पावभाजी, ऑमलेट या अन्य स्ट्रीट फूड बेचने वाले थे। 4 हजार से ज्यादा लोग सब्जी-फल या इसी तरह के दूसरे कारोबारों से जुड़े लोग थे। अभी तो प्रशासन ने योजना के लिए इसी को आधार माना है। लॉकडाउन में इसी वर्ग को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है, इसलिए स्ट्रीट वेंडरों को राहत देने के लिए पीएम स्वनिधि योजना को लांच किया गया है। केंद्रीय शहरी मंत्रालय ने शहरी आजीविका कार्यक्रम यानी डे-एनयूएलएम के तहत इस स्कीम को नगरीय निकायों के तहत लागू करने के लिए कहा है।

इसे भी पढ़े   लॉकडाउन मे ‘‘चुप्पी तोड़‘‘मुहिम का रायपुर पुलिस ने किया शुभारंभ, घरेलू हिंसा से पीड़ित महिला इस नंबर पर दर्ज करा सकती हैं शिकायत

रायपुर निगम के अपर आयुक्त पुलक भट्टाचार्य ने सभी 10 जोन और आजीविका मिशन के अधिकारियों को शहर के स्ट्रीट वेंडरों की तादाद के आंकलन के लिए सर्वे करने के निर्देश दिए थे। सर्वे शुरू होने ही वाला था कि आजीविका मिशन के करीब आधा दर्जन कर्मचारी पाजिटिव निकल गए। इस वजह से निगम मुख्यालय में इसका दफ्तर तो बंद हुआ ही, इससे जुड़ी सारी प्रक्रिया रोकनी पड़ गई है।

इसे भी पढ़े   Supreme Court ने पंजाब, हरियाणा और UP में पराली जलाने की निगरानी के लिए रिटायर्ड जज को नियुक्त किया

मूल काम बंद होने से लॉकडाउन में बढ़ गई वेंडरों की संख्या
दो साल के सर्वे के मुताबिक शहर में 6 हजार से ज्यादा फुटपाथ पर व्यवसाय करने वाले लोग हैं। लॉकडाउन के कारण बहुत से लोगों ने अपने मूल कामों को बदलकर अन्य व्यवसाय में तब्दील कर लिया है। शहर में फुटपाथ पर छोटे काम धंधे करने वालों में बड़ी संख्या सब्जी-फल बेचने वालों की है। चूंकि लॉकडाउन में इस काम को करने वालों की संख्या बढ़ गयी है, लिहाजा सर्वे के जरिए इसका आंकलन भी किया जाना है। स्ट्रीट वेंडरों के लिए शहर में 44 नये वेडिंग जोन बनाने का प्लान फाइनल हो चुका है। रायपुर नगर निगम क्षेत्र के दस जोन में अब इनका बंटवारा होना बाकी है।

इसे भी पढ़े   आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में गैस लीक की वजह से 8 लोगों ने गँवाई जान, 1000 से ज्यादा अस्पताल में भर्ती, 10 प्वाइंट में जानें विशाखापट्टनम गैस लीक में कब-क्या हुआ

“स्वनिधि योजना का लाभ ज्यादातर स्ट्रीट वेंडरों को मिले, इसकी रणनीति बनाई गई है। सर्वे के जरिए इनकी कुल तादाद का व्यवसाय आधारित आंकलन भी होना है।”
पुलक भट्टाचार्य, अपर आयुक्त-नगर निगम

 

Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING12 hours ago

बंगाल में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले, जल्द लागू होगा CAA

सिलीगुड़(चैनल इंडिया)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सोमवार को यहां कहा कि नागरिकता संशोधन कानून...

channel india13 hours ago

लेमरू एलीफेंट रिजर्व से किसी का नहीं होगा विस्थापन, गांवों और वनवासियों के अधिकार रहेंगे बरकरार: वन मंत्री अकबर

रायपुर(चैनल इंडिया)। वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा है कि लेमरू एलीफेंट रिजर्व से किसी का विस्थापन नहीं होगा। गांवों...

reading and writing campaign.channelindia.news reading and writing campaign.channelindia.news
BREAKING13 hours ago

पढ़ना-लिखना अभियान के क्रियान्वयन के लिए जिला साक्षरता मिशन का होगा गठन, पांच वर्ष में प्रदेश के एक तिहाई असाक्षरों को साक्षर किए जाने का लक्ष्य

रायपुर(चैनल इंडिया)। पढ़ना-लिखना अभियान यह अभियान बुनियादी साक्षरता पर केंद्रित होगा। प्रत्येक जिले में राज्य साक्षरता मिशन की तर्ज पर...

channel india13 hours ago

शिवसेना द्वारा निर्माणाधीन बंद मार्ग को पुनः चालू करने लोक निर्माण विभाग को सौंपा गया ज्ञापन, कार्य शीघ्र चालू नहीं करने घेराव की दी चेतावनी

छत्तीसगढ़ ( चैनल इंडिया)। शिवसेना अंतागढ इकाई द्वारा विगत दिनों अनुविभागीय अधिकारी लोक निर्माण विभाग अंतागढ को ज्ञापन सौंपकर निर्माणाधीन...

ambikapur13 hours ago

कोरोना को मात देकर घर लौटे 10 व्यक्ति, कोविड अस्पताल में 53 मरीजों का ईलाज जारी

अम्बिकापुर(चैनल इंडिया)। संयुक्त संचालक एवं मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक ने बताया है कि अम्बिकापुर नगर निगम अंतर्गत अम्बिकापुर के अजिरमा...

खबरे अब तक

Advertisement