पुलवामा अटैक का आतंकी देना चाहता था NEET की परीक्षा, अदालत ने खारिज किया जमानत याचिका…. – Channelindia News
Connect with us

channel india

पुलवामा अटैक का आतंकी देना चाहता था NEET की परीक्षा, अदालत ने खारिज किया जमानत याचिका….

Published

on


जम्मू कश्मीर(चैनल इंडिया)|   पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के एक आरोपी की याचिका को जम्मू की एनआईए अदालत ने खारिज कर दिया. दरअसल, वह आरोपी एनईईटी परीक्षा में बैठना चाहता था. इसके लिए उसने अदालत से जमानत मांगी थी. आरोपी पर धमाके से संबंधित सामान मंगाने का आरोप है.

पूरे देश को हिलाकर रख देने वाले पुलवामा हमले की साजिश में शामिल होने के आरोप में वैज उल इस्लाम को गिरफ्तार किया गया था. वह श्रीनगर का रहने वाला है. उसकी उम्र अब 20 साल है. उसने हाल ही में एनआईए की विशेष अदालत में एक जमानत याचिका दाखिल की थी.

इसे भी पढ़े   कोरोना वायरस के मद्देनज़र मंत्रिपरिषद की बैठक पहली बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिये हुई>>>>

आरोपी वैज उल इस्लाम ने एनआईए कोर्ट में दाखिल की गई याचिका में कहा था कि उसे आगामी 13 सितंबर को आयोजित होने वाली NEET परीक्षा में बैठने के लिए जमानत दे दी जाए. वह जेल में परीक्षा की तैयारी कर रहा था.

गुरुवार को अदालत ने उसकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया. वैज उल इस्लाम पर आरोप है कि उसने IED के लिए अमेजन अकाउंट के माध्यम से सामान खरीदा था. इसलिए उस पर इस आत्मघाती हमले में शामिल होने का आरोप है. फिलहाल, उसे कोई कोर्ट से कोई राहत नहीं मिलेगी.

इसे भी पढ़े   जाने सोने से पहले दूध पीने के क्या हैं फायदे?

आपको बताते चलें कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड कामरान उर्फ गाजी राशिद था. जिसके मोबाइल से कुछ जानकारी हासिल हुई थी. कामरान को हमले के चार दिन बाद 18 फरवरी को एनकाउंट में मार गिराया गया था. उसके मोबाइल में कुछ वीडियो मिले थे. जिसमें RDX का इस्तेमाल करके बम बनाने का तरीका बताया गया था.

एनआईए के पास इस बात के ठोस सबूत थे कि विस्फोटक पाकिस्तान से आया था. जैश कमांडर के कुछ फोन नंबरों की जानकारी भी एजेंसी को मिली थी. एक नाम जैश के आतंकी उमर के रूप में पहचाना गया था. जबकि इससे पहले मोहम्मद इश्फाक भट को एनआईए ने गिरफ्तार किया था, जिसके पास से विस्फोटक बरामद किया गया था.

इसे भी पढ़े   PM नरेंद्र मोदी ने किया स्वामित्व योजना का ऐलान, गांवों में प्रॉपर्टी की मैपिंग ड्रोन के ज़रिये होगी, मिलेगा संपत्ति का प्रमाणपत्र

बता दें कि बीते साल 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला हुआ था, जिसमें 40 भारतीय जवान शहीद हो गए थे. इस घटना से पूरा देश सन्न रह गया था. इस हमले की जांच एनआईए कर रही है.

Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

balrampur4 hours ago

एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में प्रवेश के लिए तृतीय काउंसलिंग 31 अक्टूबर को

बलरामपुर 27 अक्टूबर 2020।  शैक्षणिक सत्र 2020-21 अंतर्गत बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में कक्षा 6वीं में...

balrampur5 hours ago

समय-सीमा की बैठक सम्पन्न, लंबित प्रकरणों को प्राथमिकता के साथ निराकरण करने कलेक्टर का निर्देश

बलरामपुर 27 अक्टूबर 2020। कलेक्टर श्याम धावड़े ने समय-सीमा की बैठक में विभिन्न विभागों में लंबित प्रकरणों की समीक्षा की।...

ambikapur5 hours ago

वर्मी कम्पोष्ट खाद बनाने में लापरवाही पर जनपद सीईओ को कारण बताओ नोटिस, साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक सम्पन्न

अम्बिकापुर 27 अक्टूबर 2020। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में...

ambikapur5 hours ago

ई-मेगा कैम्प में बड़े पैमाने पर किया जाएगा प्रकरणों का निराकरण,31 अक्टूबर को होगा आयोजन

अम्बिकापुर 27 अक्टूबर 2020। जिला एवं सत्र न्यायाधीश बी.पी. वर्मा के निर्देशानुसार राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 31 अक्टूबर को...

channel india5 hours ago

मुख्यमंत्री का निर्देश हुआ बेअसर ,पटवारी मस्त,, किसान त्रस्त

रिपोर्टर एसके द्विवेदी की रिपोर्ट बलरामपुर   | जिले के वाड्रफनगर विकासखंड में पटवारियों का दबदबा देखते ही बन रहा है...

खबरे अब तक

Advertisement