मानसून जनित बीमारियों के रोकथाम की तैयारियां पूर्ण,संक्रमण को रोकनें जिला एवं ब्लाक स्तरीय पर होगा रैपिड रेस्पॉन्स टीम का गठन – Channelindia News
Connect with us

balodabazar c.g.

मानसून जनित बीमारियों के रोकथाम की तैयारियां पूर्ण,संक्रमण को रोकनें जिला एवं ब्लाक स्तरीय पर होगा रैपिड रेस्पॉन्स टीम का गठन

Published

on


बलौदाबाजार(चैनल इंडिया)| कलेक्टर सुनील कुमार जैन के निर्देश पर जिला पंचायत सीईओ डॉ फरिहा आलम सिद्की ने आज मानसून पूर्व संक्रामक रोगों से बचाव की तैयारियां हेतु स्वास्थ्य,पंचायत एवं राजस्व विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में मानसून जनित बीमारियों के रोकथाम की तैयारियां शीघ्र ही पूरी करनें एवं संक्रमण को रोकनें जिला एवं ब्लाक स्तरीय पर रैपिड रेस्पॉन्स टीम का गठन पर जोर दिया गया। उन्होंने कहा की बरसात लगतें ही पानी से जनित रोगों की संभावना अधिक बढ़ जाती है। इसलिए मानसून के पूर्व ही पेयजल स्रोतों की सफाई,क्लोरिन,ब्लीचिंग पाउडर का भण्डारण सहित मितानिनों के पास दवाइयों की ग्राम स्तर पर उलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश डॉ सिद्की ने सभी बीएमओ,ई ई पीएचई एवं सभी जनपद सीईओ को दिए है।

इसे भी पढ़े   PM केयर फंड में लगातार सहयोग कर रही भारतीय जनता पार्टी!!

जिला मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने प्रजेंटेशन के माध्यम से मानसून जनित रोगों से बचाव के लिए  विस्तृत रणनीति प्रस्तुत किया जिसमें अंतर्विभागीय समन्वय पर बल दिया गया। उन्होंने बताया विगत वर्ष कुल 184 मलेरिया केस जिले में पाए गए थे जो इस वर्ष अप्रैल माह तक मात्र 3 ही हैं। इसी प्रकार डेंगू के वर्ष 2019 में 20, 2020 में 1 और 2021 में अब तक कोई भी केस जिले में नहीं मिला है। ऐसे में उक्त रोगों की रोकथाम के लिए ग्राम स्तर पर रैपिड फीवर सर्वे के साथ- साथ निजी अस्पतालों से भी केस की जानकारी ली जानी आवश्यक है। उन्होंने आगें कहा कि मच्छर जनित उक्त रोगों के रोकथाम के लिए पंचायत और पीएचई विभाग से भी आपसी समन्वय के माध्यम से जल जमाव को रोक सकतें है। इसके साथ ही समुदाय में साफ़-सफाई पर प्रचार-प्रसार कर पर बल देनें की बात कहा गया। उन्होंने बरसात में दूषित जल के पीने से पीलिया और डायरिया की संभावना अधिक रहती है। इसलिए समय रहतें जल स्रोतों की सफाई,पाइप लाइन लीकेज को ठीक करने पर जोर दिया गया। साथ ही ब्लीचिंग पाउडर और क्लोरिन टेबलेट का उपयोग,साथ ही दवाइयों के भण्डारण,सर्पदंश और रेबीज से बचाव की व्यवस्था सभी बीएमओ को सुनिश्चित करने कहा गया। साथ ही डॉक्टर सहित सभी नर्सिंग स्टाफ को हेपेटाइटिस बी का टीका लगाना सुनिश्चित करने को कहा गया। उक्त बैठक ऑनलाइन माध्यम से आयोजित की गई जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्रीमती सृष्टी मिश्रा, सभी एसडीएम,सीईओ,बीएमओ एवं अन्य कार्यक्रम प्रबंधक उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े   गरीबों को लूटने से नहीं आ रहे बाज सरकारी राशन दुकान संचालक, मिट्टी तेल और शक्कर में हर कार्ड के पीछे ले रहे अतिरिक्त रुपये!!
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING1 hour ago

अगर आपके पास भी है एक्सपायरी ड्राइविंग लाइसेंस तो घबराने की जरूरत नहीं, रिन्यू करवाने के लिए करें ये काम

अगर आप सड़कों पर वाहन चलाने के शौकीन हैं, तो आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस होना बेहद जरूरी है। आप यह...

BREAKING1 hour ago

तहसील परिसर में युवक ने सोशल मीडिया में लाइव आकार खुद को मारी गोली, पूर्व SDM पर लगाए गंभीर आरोप

मध्य प्रदेश के रायसेन में एक शख्स ने फेसबुक लाइव के दौरान खुद को गोली मार ली. इस घटना का...

BREAKING1 hour ago

टीका लगवाने के और भी हैं फायदे, ये बड़ी कंपनियां दे रही हैं शानदार ऑफर, पढ़े पूरी खबर…

वैक्सीनेशन ड्राइव को लेकर निजी कंपनियों भी उत्साहित हैं। वजह ये है कि जितनी ज्यादा संख्या में लोगों को टीका...

BREAKING2 hours ago

अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर किया ब्लैकमेल, फरार आरोपी हुआ गिरफ्तार…

धरसींवा(चैनल इंडिया)|  जून माह के प्रथम सप्ताह में थाना ख़रोरा अंतर्गत ग्राम के सरपंच पति को उसका अश्लील विडीओ वायरल...

BREAKING2 hours ago

चीन सीमा से लगे उत्तराखंड के इस छोटे से गांव का कभी भी मिट सकता है नामों निशान, लोगों में दहशत का माहौल, जानिए क्यों?

हर साल उत्तराखंड में मानसून अपने साथ खतरा भी साथ लाता है. बारिश होते ही कई गांव और कस्बों में...

Advertisement
Advertisement