दहशत : कबाड़खाना के कर्मचारी गांव गाव घूमकर चार पहिया वाहनों में खरीद रहे कबाड़ी – Channelindia News
Connect with us

channel india

दहशत : कबाड़खाना के कर्मचारी गांव गाव घूमकर चार पहिया वाहनों में खरीद रहे कबाड़ी

Published

on


कवर्धा- जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रो में भी कोविड19 के मरीज लगातार मिल रहे हैं । जिससे कई गांवों में बाहरी व्यक्तियों का गावों में प्रवेश वर्जित कर दिया है लेकिन उत्तरप्रदेश व बिहार से आए व्यक्तियो के द्वारा गांव गांव में चार पहिया वाहनों में घूमकर कबाड़ी खरीद रहे हैं । स्कूल बंद होने के कारण छोटे छोटे बच्चों व वयस्कों के द्वारा चोरी कर इन कबाड़ियों के पास सामान कम दामो में बेच रहे हैं साथ ही कोरोना संक्रमण के बढ़ने के कारण ग्रामीणों में इनसे कोरोना बढ़ने का डर भी बना हुआ ।इनके द्वारा गावो से खरीद कर प्रतिदिन शहरों के बड़े कबाड़खाना में माल को बेचा जाता है मतलब ये लोग भीड़भाड़ व कन्टेनमेण्ट जोन से आनाजाना लगा रहता है । कबाड़खानों की आड़ में अधिकांश कबाड़ी चोरी के माल की खरीद-फरोख्त का ‘काला कारोबार जिला मुख्यालय, शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में बेखौफ चल रहा है। शहर व हाट बाजार से चोरी होने वाले सायकल व दोपहिया वाहन कबाड़खानों में पहुंचते हैं और छोटे-छोटे टुकड़ों में तब्दील हो जाते हैं। पुलिस की शह पर यह धंधा दिनों-दिन फल-फूल रहा है। नतीजा ये है कि चोरी गए अधिकांश वाहन कबाड़ में कट जाते हैं। पुलिस का मुंह बंद कर कबाड़ी धडल्ले से चोरी का माल इधर से उधर कर रहे हैं। शहर व गावो के कई बड़े कबाडि़यों का तो इतना दबदबा है कि पुलिस उनके कबाड़खाने में जाने से बचती है।

इसे भी पढ़े   Arbaaz Khan की गर्लफ्रेंड जॉर्जिया एंड्रियानी(giorgia andriani) की ये तस्वीरें देख आप भी हो जाएंगे खूबसूरती के दीवाने

हाइवे में कबाड़खाना

कबीरधाम जिला के जिला मुख्यालय , चिल्फ़ीघाटी , बोड़ला विकासखंड के पोड़ी में भी बहुत बड़ा कबाड़खाना है जहां पर पंडरिया , कुन्डा , पांडातराई , रुसे , रबेली , बोड़ला , कवर्धा सहित दर्जनों जगह से छोटे छोटे कबाड़ी अपना कबाड़ बेचने आते हैं साथ ही यह कबाड़खाना पुलिस थाना से महज सौ मीटर की दूरी है । अन्य अधिकारियों की नजर इसलिए नही पड़ता क्योंकि वह बस्ती की तरफ अंदर में है ।

इसे भी पढ़े   अभिषेक बच्चन भी हुए कोरोना से संक्रमित

कार्यवाही का आभाव

कबाड़खाना के संचालक के ऊपर प्रशासन इतना मेहरबान है कि कार्यवाही से भी डरते हैं पुलिस नियमित रूप से न कबाड़खानों की जांच करती है और न कबाडि़यों से पूछताछ करती है। यदि कोई वाहन चोरी हो भी जाए, तो पुलिस कभी-कभार ही कबाड़खानों में वाहन तलाशने पहुंचती है। यदि वहां जाती भी है, तो सामान की रसीद नहीं देखती न कबाड़खाना वाले उन्हें दिखाते ।

नजर के सामने कट जाता है चोरी का माल

कबाड़खाने में चोरी के वाहन पहुंचते ही वहां पर लगे मजदूर व मिस्त्री के द्वारा वाहन खोलने में जुट जाते हैं। सायकल व अन्य दोपहिया वाहन के पांच से दस मिनट में एक-एक पुर्जे अलग कर दिए जाते हैं। इसके बाद इंजन नम्बर और चेचिस नम्बर मिटाया या बदला जाता है। इसके बाद कलपुर्जों को या तो फुटकर में या फिर थोक में बेचा जाता है।

इसे भी पढ़े   विकास दुबे के घर से मिला 15 जिंदा बम, पुलिस ने कहा- 'माओवादियों की तरह करता था काम और घर से हिंसा के कई अन्य सामान हुए बरामद  

ये माल खरीदते हैं कबाड़ी

कबाड़ियों के द्वारा आजकल चारपहिया वाहनों में गांव गाँव घूमकर कबाड़ी का समान खरीदने का कार्य किया जाता है । उनके द्वारा एक मोटरसाइकिल का दस्तावेजों में सैकड़ों मोटरसाइकिल खपत कर लेते है वही सायकल का कोई भी दस्तावेज इनके द्वारा नही रखा जाता हैं । इनके द्वारा और कई प्रकार की स्क्रैब की खरीदी भी की जाती हैं ।

Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

balrampur4 hours ago

एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में प्रवेश के लिए तृतीय काउंसलिंग 31 अक्टूबर को

बलरामपुर 27 अक्टूबर 2020।  शैक्षणिक सत्र 2020-21 अंतर्गत बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में कक्षा 6वीं में...

balrampur4 hours ago

समय-सीमा की बैठक सम्पन्न, लंबित प्रकरणों को प्राथमिकता के साथ निराकरण करने कलेक्टर का निर्देश

बलरामपुर 27 अक्टूबर 2020। कलेक्टर श्याम धावड़े ने समय-सीमा की बैठक में विभिन्न विभागों में लंबित प्रकरणों की समीक्षा की।...

ambikapur4 hours ago

वर्मी कम्पोष्ट खाद बनाने में लापरवाही पर जनपद सीईओ को कारण बताओ नोटिस, साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक सम्पन्न

अम्बिकापुर 27 अक्टूबर 2020। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में...

ambikapur5 hours ago

ई-मेगा कैम्प में बड़े पैमाने पर किया जाएगा प्रकरणों का निराकरण,31 अक्टूबर को होगा आयोजन

अम्बिकापुर 27 अक्टूबर 2020। जिला एवं सत्र न्यायाधीश बी.पी. वर्मा के निर्देशानुसार राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 31 अक्टूबर को...

channel india5 hours ago

मुख्यमंत्री का निर्देश हुआ बेअसर ,पटवारी मस्त,, किसान त्रस्त

रिपोर्टर एसके द्विवेदी की रिपोर्ट बलरामपुर   | जिले के वाड्रफनगर विकासखंड में पटवारियों का दबदबा देखते ही बन रहा है...

खबरे अब तक

Advertisement