कोरोना और बेरोजगारी झेल रहे देश पर महंगाई की मार बर्दाश्त से बाहर, पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर पूरे देश में गहरी नाराजगी: मोहन मरकाम, छत्तीसगढ़ में ब्लाक स्तर पर मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन जारी – Channelindia News
Connect with us

channel india

कोरोना और बेरोजगारी झेल रहे देश पर महंगाई की मार बर्दाश्त से बाहर, पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर पूरे देश में गहरी नाराजगी: मोहन मरकाम, छत्तीसगढ़ में ब्लाक स्तर पर मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन जारी

Published

on


रायपुर। पूरे देश में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामो के विरोध में मोदी सरकार की आर्थिक लूट पर तंज कसते हुये प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में जिला कांग्रेस के प्रदर्शन के बाद ब्लाको में पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के खिलाफ कांग्रेस का धरना प्रदर्शन जारी है जो 4 जुलाई तक चलेगा। पेट्रोल-डीजल के महंगे दामों की मार गरीब आदमी और मध्यम वर्ग झेल रहा है। डीजल का उपयोग सिंचाई पंपों में और ट्रेक्टर से खेतों की जुताई में होता है। डीजल महंगा होने के कारण खेती की लागत बढ़ गयी है। किसान के धान का दाम केन्द्र सरकार बढ़ाती ठीक से नहीं और महंगाई बढ़ाती जा रही है। डीजल महंगा होने से परिवहन की लागत बढ़ गयी है। किसान अनाज सब्जी हर वस्तु के दाम बढ़े है। आम उपभोक्ता महंगाई से त्रस्त है। गृहणियों के घर का बजट बिगड़ गया है। आज से रसोई गैस सिलेंडर भी महंगे हो गये।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि आज देश का हर एक व्यक्ति कोरोना की महामारी से लड़ रहा है। साथ-साथ बेरोजगारी से लड़ रहा है। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमईआई) यह दावा करती है कि अप्रैल के तीसरे हफ्ते में देश में बेरोजगारी दर 26.2 प्रतिशत पहुंच गई है। आकलन है कि अब तक देश में 14 करोड़ लोग अपना काम गंवा चुके हैं। देश के युवाओं को 2 करोड़ रोजगार हर साल के अनुसार 6 साल में 12 करोड़ रोजगार मिलने थे। लेकिन हुआ ठीक उल्टा बेरोजगारी 45 साल में सर्वाधिक 27 प्रतिशत तक पहुंच गयी।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि 130 करोड़ भारतीय कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। रोजी-रोटी की मार झेल रहे हैं। आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं और संकट के इस समय में भी जनविरोधी केंद्र की भाजपा सरकार देशवासियों की खून पसीने की कमाई डीजल-पेट्रोल का दमा बढ़ाकर लूटने में लगी है। आज कच्चे तेल की कीमतें पूरी दुनिया में अपने न्यूनतम स्तर पर हैं। उनका लाभ 130 करोड़ देशवासियों को देने की बजाए मोदी सरकार पेट्रोल और डीज़ल पर निर्दयी तरीके से टैक्स लगाकर मुनाफाखोरी कर रही है। विपदा के समय इस प्रकार पेट्रोल-डीज़ल पर टैक्स लगाकर देशवासियों की गाढ़ी कमाई को लूटना ‘आर्थिक अराजकता’ है। कोरोना महामारी व गंभीर संकट के इस काल में पूरी दुनिया की सरकारें जनता की जेब में पैसा डाल रही हैं, पर इसके विपरीत केंद्र की भाजपा सरकार देशवासियों से मुनाफाखोरी व जबरन वसूली की हर रोज नई मिसाल पेश कर रही है। देश की जनता का खून चूसकर अपना खजाना भरना कहां तक सही या तर्कसंगत है। मोदी सरकार “जबरन वसूली“ की सब हदें पार कर गई। कड़वा सच तो यह है कि आज भारत में तेल पर 70 प्रतिशत टैक्स। जबकि अमेरिका में 19 प्रतिशत, जापान में 47 प्रतिशत, ब्रिटेन में 62 प्रतिशत, फ्रांस में 63 प्रतिशत, और जर्मनी में 65 प्रतिशत टैक्स है। पूरी दुनिया में भारत पेट्रोल-डीजल में सबसे ज्यादा टैक्स वसूलने वाला देश बन चुका है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि आज अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल का रेट 40 डॉलर प्रति बैरल मतलब 20 रुपए लीटर है, यह रिफाइन होने के बाद पेट्रोल 24.62 पैसे, और डीजल 26 रुपए पड़ रहा है। लेकिन मोदी की सरकार ने आज पेट्रोल 80.53 पैसे और डीजल का दाम 80.83 पैसे है। गौर करने वाली बात यह है कि इन 23 दिनों में 22 बार रेट बढ़े है। ऐसे ही क्रूड आइल के दाम 2004 में हुआ था तब यूपीए की सरकार ने डीजल 24.16 पैसे और पेट्रोल 36.81 पैसे बेचा था।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि मोदी जी सिर्फ नारा देते है कि ONE NATION-ONE TAX. लेकिन सच यह है कि मोदी सरकार जब मई 2014 में सत्ता में आई तो यूपीए सरकार के समय का पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क केवल 9.20 रुपये प्रति लीटर और 3.46 रुपये प्रति लीटर था। पिछले 6 साल में पेट्रोल पर 23.78 प्रति लीटर और डीजल पर 28.37 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी मोदी सरकार द्वारा की गयी है, जो यूपीए की तुलना में क्रमशः 258 प्रतिशत और 820 प्रतिशत ज्यादा है।

इसे भी पढ़े   बड़ी खबर: कैबिनेट मंत्री की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव!!

14 मई 2014

मई 2020

पेट्रोल

9.20 रूपये प्रति लीटर

32.98 रूपये प्रति लीटर

इसे भी पढ़े   वैश्विक आपातकाल को मद्देनजर रखते हुए पुलिस चौकन्नी, लगातार पेट्रोलिंग जारी,पुलिस अधीक्षक GPM सूरज सिंह परिहार, आईपीएस ख़ुद सड़क पर उतरे 

डीजल

3.46 रूपये प्रति लीटर

31.83 रूपये प्रति लीटर

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि वर्ष 2014-15 से वर्ष 2019-20 तक 6 वर्षों की अवधि के बीच, केंद्रीय भाजपा सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर करों में वृद्धि की और जनता से 6 साल में 20,00,000 करोड़ रुपए वसूले। हम सरकार से निवेदन करते है कि इन पैसों को हर गरीब परिवार को हर माह 7500 रू. सरकार दें। आज की कठिन परिस्थितियों में जब लोगों का गुजर-बसर मुश्किल हो रहा हो तब किसी भी सरकार को लोगों पर भारी कर लगाने का कोई अधिकार नहीं है। सस्ता पेट्रोल और डीजल के वायदे कर सत्ता पर काबिज हुई मोदी सरकार यदि पिछले छह वर्षों के दौरान स्वयं के द्वारा बढ़ाए गये। छत्तीसगढ़ प्रदेश के हर एक जिले और ब्लाक में कांग्रेस के धरना प्रदर्शन में यह मांग की है कि:-

इसे भी पढ़े   ट्रैफिक जवान ने किया दोबारा कोरोना फाइट, स्वस्थ होकर पुनः किया ड्यूटी ज्वाइन, यातायात उप पुलिस अधीक्षक सतीश  ठाकुर एवं अन्य अधिकारी कर्मचारियों ने पुष्प वर्षा कर किया स्वागत

1 घटे हुए अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों का लाभ आम लोगों को मिलना चाहिए और पेट्रोल-डीजल-एलपीजी गैस की कीमतों को 2004 के स्तर पर लाना चाहिए।
2 पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के अंतर्गत लाया जाना चाहिए।
3 पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के अंतर्गत लाये जाने तक मोदी सरकार द्वारा बढ़ाए गए उत्पाद शुल्क वृद्धि को तुरंत वापस लिया जाए।

Advertisement
Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india13 hours ago

कमिश्नर ने किया निर्माणाधीन पंचायत भवन और धान खरीदी केन्द्रों का किया निरीक्षण…RIS के SDO को कारण बताओ सूचना

अम्बिकापुर: कमिश्नर जिनेविवा किंडो ने आज मैनपाट एवं सीतापुर विकासखण्ड के निर्माणाधीन पंचायत भवन तथा धान खरीदी केंद्र का निरीक्षण...

channel india14 hours ago

केबिनेट बैठक में सभी प्रस्तावों पर छत्तीसगढ़ी में हुई चर्चा, धान-मक्का खरीदी सहित विभिन्न मुद्दों पर लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज निवास कार्यालय में मंत्री परिषद की बैठक आयोजित की गई। छत्तीसगढ़ी राजभाषा...

channel india14 hours ago

मंत्री परिषद की बैठक में सेवानिवृत्त हो रहे मुख्य सचिव आर.पी.मण्डल को दी गई बिदाई 

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज उनके निवास कार्यालय में आयोजित मंत्री परिषद की बैठक में 30 नवम्बर...

channel india14 hours ago

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के अंतर्गत लोन के लिए 8 दिसम्बर तक आमंत्रित किए जाएंगे आवेदन

बलरामपुर: मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत जिले के युवाओं को स्व-उद्यम की स्थापना कर आर्थिक दृष्टि से स्वावलम्बी एवं...

channel india14 hours ago

ब्लॉक स्तरीय नि:शुल्क आयुष स्वास्थ्य मेला का हुआ आयोजन, कोरोना वायरस के संबंध में दिए गए दिशा-निर्देश

गढ़गोढी  : ब्लॉक स्तरीय नि:शुल्क  आयुष स्वास्थ्य मेला का आयोजन ग्राम पंचायत गढ़गोढी में पंचायत भवन के सामने 28 नवंबर शनिवार को सुबह 11:00...

खबरे अब तक

Advertisement