प्रोडक्ट्स के बारे में जरूरी सूचना नहीं देने पर फ्लिपकार्ट- अमेजन को सरकार का नोटिस, 15 दिन में मांगा जवाब – Channelindia News
Connect with us

channel india

प्रोडक्ट्स के बारे में जरूरी सूचना नहीं देने पर फ्लिपकार्ट- अमेजन को सरकार का नोटिस, 15 दिन में मांगा जवाब

Published

on


सरकार ने ई-कॉमर्स कंपनियों के प्लेटफॉर्म से बिकने वाले सामानों पर उनकी ऑरिजन कंट्री की जानकारी और अन्य जरूरी सूचनाएं नहीं दिए जाने को लेकर कदम उठाते हुए फ्लिपकार्ट- अमेजन को नोटिस जारी किया है. ये नोटिस उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं जन वितरण मंत्रालय के तहत आने वाले उपभोक्ता मामलों के विभाग द्वारा जारी किए गए. इस बारे में फिलहाल दोनों कंपनियों से कोई टिप्पणी नहीं मिल पायी है |

15 दिन में मांगा जवाब
विभाग ने सभी ई-कॉमर्स कंपनियों से ‘लीगल मेट्रोलॉजी (पैकेज्ड कमोडिटीज) रूल्स’, 2011 का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है. दोनों कंपनियों से 15 दिन के अंदर नोटिस का जवाब देने को कहा गया है. कंपनियों को एक जैसे शब्दों वाले इस नोटिस में कहा गया है, “यह पाया गया कि कुछ ई-कॉमर्स कंपनियां अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म से बिकने वाले प्रोडक्ट्स पर जरूरी जानकारी नहीं दे रही हैं जबकि यह ‘लीगल मेट्रोलॉजी (पैकेज्ड कमोडिटीज) रूल्स’, 2011 के तहत जरूरी है.”

इसे भी पढ़े   Raipur Crime: युवतियों की वेशभूषा में बदमाश लूट रहे थे  मोबाइल और चेन, सभी आरोपी गिरफ्तार....

दोनों कंपनियों ने नहीं दी सूचना
फ्लिपकार्ट इंडिया प्राइवेट लि. और अमेजन डेवलपमेंट सेंटर इंडिया प्राइवेट लि. को भेजे गये नोटिस के अनुसार वे ई-कॉमर्स यूनिट्स हैं और इसीलिए उन्हें यह सुनिश्चित करना है कि ई-कॉमर्स डील्स के लिए उपयोग होने वाले डिजिटल और इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क पर सभी जरूरी जानकारी दी जाए. नोटिस के अनुसार दोनों कंपनियों ने जरूरी सूचना नहीं दी और कानून का उल्लंघन किया  |

इसे भी पढ़े   सजा पूरी करने, पैरोल और अंतरिम जमानत पर विभिन्न जेलों से रिहा किये गए 390 कैदी!!

देनी होगी ये जानकारी
ई-कॉमर्स कंपनियों की वेबसाइट पर विज्ञापनों का जिक्र करते हुए नोटिस में कहा गया है, “विज्ञापनों की जांच में पाया गया कि जो जरूरी घोषणाएं हैं, वे नहीं की जा रही हैं.” नियम के तहत ई-कॉमर्स कंपनियों को अनिवार्य रूप से वस्तु की ऑरिजिन कंट्री समेत अन्य जरूरी जानकारी देनी है. उन्हें इसके बारे में डिजिटल और इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क पर सूचना देनी है, जिसके जरिये वे लेन-देन करते हैं |

इसे भी पढ़े   जो ट्रैक्टर जलाते हैं वो किसान किसी हाल में नहीं हो सकते : प्रधानमंत्री मोदी

 

Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india6 hours ago

सुकमा : सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में 8 नक्सलियों को लगी गोली, एसपी ने किया दावा

सुकमा(चैनल इंडिया)। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले के दुलेड इलाके में हुई सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में सुकमा एसपी...

channel india6 hours ago

रायपुर रेलवे मंडल में सतर्कता जागरूकता वेबिनार का आयोजन, सतर्कता जागरूकता सप्ताह में रेलवे नियमानुसार सतर्कता के साथ रेल राजस्व को समृद्ध बनाने पर चर्चा

रायपुर(चैनल इंडिया)। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर मंड़ल में रेलवे के प्रतिदिन के कार्यकलापों में पारदर्शिता को बरकरार रखने एवं...

channel india7 hours ago

उत्तराखंड के सीएम को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, अदालत ने CBI जांच पर लगाई रोक

नई दिल्ली | उत्तराखंड के सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत को आज सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने...

channel india8 hours ago

भारत का सबसे तेज़ मोबाइल नेटवर्क बना Vi, Airtel दूसरे नंबर, तीसरे पर Jio

चैनल इंडिया। भारतीय लीडिंग टेलीकॉम VI (Vodafone Idea) भारत का सबसे तेज़ नेटवर्क बन कर उभरा है. 2020 के तीसरी...

channel india8 hours ago

शादी थी नेहा कक्कड़ की और उर्वशी रौतेला ने पहन लिया 55 लाख का लहंगा…..अब हो रहा उर्वसी के ड्रेस की कीमत खूब वायरल…शादी में हुई थी शरीक

मुंबई । नेहा कक्कड़ और रोहनप्रीत की शादी में बॉलीवुड अभिनेत्री उर्वशी रौतेला शरीक हुई थीं। इस खास मौके पर...

खबरे अब तक

Advertisement