वन मंत्री की पहल पर कवर्धा में कोरोना की रोकथाम के लिए 50 लाख रूपए की मंजूरी सहित भेजे जा रहे 100 अतिरिक्त ऑक्सीजन गैस सिलेण्डर – Channelindia News
Connect with us

ambikapur

वन मंत्री की पहल पर कवर्धा में कोरोना की रोकथाम के लिए 50 लाख रूपए की मंजूरी सहित भेजे जा रहे 100 अतिरिक्त ऑक्सीजन गैस सिलेण्डर

Published

on


कवर्धा(चैनल इंडिया)| वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री तथा कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री मोहम्मद अकबर ने आज राजधानी के शंकर नगर स्थित अपने निवास कार्यालय में वर्चुअल बैठक के माध्यम से कबीरधाम जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में चर्चा करते हुए जिला कलेक्टर कबीरधाम को जिले में कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के बेहतर इलाज के लिए हर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसके तहत उन्होंने अस्पतालों में आवश्यक संसाधनों को बढ़ाने सहित उनके शीघ्र आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए भी निर्देशित किया।
उल्लेखनीय है कि वन मंत्री श्री अकबर स्वयं होम आइसोलेशन में रहते हुए दूरभाष से कोरोना संक्रमण की स्थिति के बारे में प्रतिदिन लगातार समीक्षा करते रहे हैं। उनके प्रयासों का परिणाम है कि कबीरधाम जिला में कोई भी संक्रमित व्यक्ति चिकित्सा सुविधा से वंचित नहीं है। इन्हें ऑक्सीजन युक्त बेड का अभाव भी नहीं हुआ। उन्होंने समीक्षा के दौरान टेस्टिंग किट, रेमडेसिविर, स्टेरायड तथा ऑक्सीजन आदि जिन दवाईयों की व्यवस्था जिला स्तर के प्रयासों से संभव नहीं हो रही है, उनकी भी व्यवस्था उच्च स्तर से शीघ्र करने के लिए आश्वस्त किया। वन मंत्री श्री अकबर ने इस दौरान कवर्धा जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज कर रहे निजी अस्पतालों के संचालकों तथा डॉक्टरों से भी चर्चा की। उन्होंने कोरोना संक्रमित मरीजों के तत्परता से इलाज सुविधा के लिए निजी अस्पतालों की मांग के अनुरूप ऑक्सीजन सिलेण्डर तथा रेमडेसिविर आदि आवश्यक दवाईयों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के संबंध में कलेक्टर को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने निजी अस्पतालों के डॉक्टरों से भी चर्चा करते हुए कहा कि वे शासकीय अस्पतालों में आवश्यकता के अनुरूप कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए अपना समय देवें। जिस पर निजी अस्पताल डॉक्टरों द्वारा अपनी सहमति जताई गई।
वन मंत्री श्री अकबर ने समीक्षा करते हुए कबीरधाम जिले में कोरोना से संक्रमित मरीजों के बेहतर उपचार और वहां संचालित कोविड केयर सेंटरों में मेडिकल तथा मानव संसाधनों बढ़ाने और महामारी से निपटने के लिए हर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि वन मंत्री श्री अकबर की पहल पर कबीरधाम जिले में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम और पीड़ितों की सहायता के लिए हाल ही में 50 लाख रूपए की मंजूरी दी गई है। इस राशि का जिले में स्थित कोविड अस्पतालों में वेंटिलेटर, आईसीयू और ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था पर खर्च किया जाएगा। इसी तरह कोरोना संक्रमित सभी जरूरतमंद मरीजों को ऑक्सीजन की सुगम आपूर्ति हो, इसके लिए 85 नग ऑक्सीजन सिलेण्डर भी उपलब्ध करा दिया गया है। इसके अलावा आज 100 ऑक्सीजन सिलेण्डर अतिरिक्त रूप से भेजा जा रहा है। बैठक में कलेक्टर कबीधाम श्री रमेश कुमार शर्मा ने जिले में कोरोना के संक्रमण की स्थिति और रोकथाम के उपायों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर संबंधित विभागीय अधिकारी तथा निजी अस्पताल के संचालक तथा चिकित्सा अधिकारी, मोहित महेश्वरी, आदि उपस्थित थे।

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india5 hours ago

अगर खड़ी कार पर पेड़ गिर जाए तो इंश्योरेंस का पैसा मिलेगा या नहीं? जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर…

अभी मॉनसून चल रहा है. बारिश और तेज हवाओं का दौर जारी है. ये मौसम वैसे तो काफी अच्छा लगता...

 सक्ती5 hours ago

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को सौंपा ज्ञापन

सक्ती(चैनल इंडिया)| बाराद्वार क्षेत्र अंतर्गत संचालित  क्रेशर श्री गुरु मिनरल एवं चुनाव भट्ठा सिंह केसर डोलोमाइट माइंस बालाजी मिनरल एवं ...

channel india5 hours ago

सरायपाली आँचलिक महासभा द्वारा आज से 3 अगस्त तक बच्चों की स्पीच थैरेपी का निःशुक्ल उपचार शिविर…

सरायपाली(चैनल इंडिया)| आंचलिक महासभा सरायपाली के संयुक्त तत्वावधान में आज गीता भवन सरायपाली में तुतलाने वाले बच्चों को स्पीच थेरेपी...

BREAKING5 hours ago

केंद्र सरकार के इस काम को करने पर मिल रहे हैं 15 लाख रुपये, क्या आप कर सकते हैं?

केंद्र सरकार समय समय पर कई कॉन्टेस्ट का आयोजन करती है, जिसमें जीतने वाले प्रतिभागियों को कई नगद इनाम भी...

BREAKING5 hours ago

26 साल पहले आज के ही दिन भारत में हुई थी पहली मोबाइल फोन कॉल, जानिए किन दो लोगों ने की थी बात और कितने रुपये करने पड़े थे खर्च

आज के समय में हर किसी के पास फोन है. अब मोाबइल फोन का इस्ते़माल केवल कॉल करने के लिए...

Advertisement
Advertisement