इस गांव का नाम सुनते ही छूट जाते हैं लोगों के पसीने, यहां आने से कतराते हैं ग्रामीण...जानिए - Channelindia News
Connect with us

खबरे छत्तीसगढ़

इस गांव का नाम सुनते ही छूट जाते हैं लोगों के पसीने, यहां आने से कतराते हैं ग्रामीण…जानिए

Published

on

मुंगेली. छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में एक भूतों का गांव इन दिनों चर्चा में हैं. भूतकछार नाम का यह गांव भूतों के निवास के लिए जाना जाता है. सुदुर वन इलाके के इस गांव में आने से लोग कतराते हैं. इस गांव का नाम सुनकर ही लोगों के पसीने छूट जाते हैं. भूतकछार गांव सुदुर वन इलाके बसा है. इस गांव का नाम ही ऐसा है इसे सुनकर लोगों के पांव कांपने लगते हैं. यहां लोग डर के मारे गांव में आने से कतराते है. दूसरे जगह के लोग जब भूतकछार का नाम सुनते है तो उनके मन में ऐसा लगता है कि मानो ये गांव दूसरे सामान्य गांव की तरह नहीं बल्कि भूतों का कछार(इलाका) भूतकछार होगा. बात इतने में ही खत्म नहीं होती बल्कि गांव में बेटा-बेटी की शादी के लिए भी भटकना पडता है. इस गांव में कोई भी अपनी रिश्तेदारी नहीं जोड़ना चाहता है. इस गांव में रहने वाले ग्रामीण अपने बच्चों के संबंधों के लिए तरस गए हैं. इससे ग्रामीण परेशान हो रहे हैं.

ग्रामीणों ने बताया भूतों का इतिहास
जबकि ग्रामीणों की मानें तो यहां भूत प्रेत जैसी कोई चीज नहीं है. गांव के बुजुर्ग ये जरूर बताते हैं कि यह गांव टाईगर रिजर्व के जंगल का गांव है. कई दशक पहले जब कोई यहां रहने आया तो वो अकेले ही झोपडी बनाकर रहता था. उस समय इस जगह का कोई नाम नहीं था. तब कुछ लोगों को लगा कि यह घने जंगल में ये एक अकेला इंसान भूतों की तरह रहता है तो इस जगह को लोग भूतकछार कहने लगे. तभी से इस गांव का नाम भूतकछार पड़ गया. इसके बाद यहां धीरे धीरे बस्ती बस गई. यह बस्ती धीरे-धीरे बड़ी होती गई और गांव का रूप ले लिया. अब इस गांव का नाम भूतकछार पड़ गया है. मगर इस गांव से जुडे़ डरावने किस्से इतने प्रचलित हैं कि लोग आज भी इस गांव में आने से डरते हैं. जबकि यहां रहने वाले ग्रामीण भी मानते हैं कि यहां कोई भूतप्रेत नहीं है.

बल्कि जंगल का गांव होने से रात में वन्यजीवों की आवाजें आती है. जिसे लोग भूत की आवाज समझ कर डरते हैं. अब इसे अंधविश्वास कहें या सच्चाई.. मगर ये तो तय है कि आसपास में इस गांव के लोग इस नाम से खौफजदा हैं. किसी अनहोनी की आशंका के भय से रात तो रात दिन में भी लोग इस गांव से गुजरने में बचने की कोशिश करते हैं. इस गांव के नाम की पीड़ा को गांव के लोग लंबे समय से झेल रहे हैं. जब कोई इनसे इनके गांव का नाम पूछता है तो ये भूतकछार नहीं बता कर आसपास के गांव का नाम बता देते हैं. क्योंकि जैसे ही ये गांव का नाम भूतकछार बताते हैं वैसे ही सामने वाला व्यक्ति सवालों की झड़ी लगा देता है. भूतकछार सुनकर लोग पूछने लगते हैं कि भूतों का गांव है क्या? क्या आप लोगों ने भूत देखा है. इससे गांव का मजाक उड़ने लगता है.

ग्रामीण बदलवाना चाहते हैं नाम
अब इस नाम से परेशान होकर यहां के ग्रामीण पिछले5 सालों से इसका नाम बदलवाना चाहते हैं. इसको लेकर कई बार आवेदन दिया जा चुका है. लेकिन अभी तक उनकी समस्या का समाधान नहीं हो पाया है. ग्रामीण चाहते हैं कि गांव का नाम भूतकछार से बदलकर देवगढ़ कर दिया जाए. वहीं मुंगेली के नवपदस्थ कलेक्टर गौरव कुमार सिंह ने जानकारी लेकर नाम बदलने की प्रक्रिया की बात कही है. एक तरफ जहां बडे़-बडे़ शहरों के नाम बड़ी आसानी से बदल रहे हैं, ऐसे में नाम की पीड़ा झेल रहे यहां के ग्रामीण पिछले 5 सालों से परेशान हैं. गांव के नाम की पीड़ा झेल रहे इस भूतकछार गांव के ग्रामीणों की पीडा कब दूर होगी यह देखना होगा.

Advertisement

Advertisment

CG Trending News

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

चिटफंड कंपनी साईं सुंदरम मालव परिवार स्टेट लिमि. के डायरेक्टर आरोपी संदीप राठौर को गिरफ्तार करने में मिली सफलता

  ● *आरोपी डायरेक्टर संदीप राठौर को भोपाल मध्य प्रदेश से किया गया गिरफ्तार* ● *थाना भाटापारा शहर पुलिस टीम...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

थाना पलारी पुलिस द्वारा 02 शातिर मोटरसाइकिल चोर को किया गया गिरफ्तार

● आरोपियों के कब्जे से 01 मोटर सायकल किया गया बरामद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री दीपक कुमार झा द्वारा...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

सट्टा पट्टी व एक डाट पेन एवं नगदी रकम 1230 रूपयें के साथ 01 आरोपी चढा सिमगा पुलिस के हत्थे

प्रेस विज्ञप्ति दिनांक 16.06.2022 थाना सिमगा आरोपी से एक सफेद कागज में विभिन्न अंको का लिखा हुआ सट्टा पट्टी व...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

जिला बलौदाबाजार-भाटापारा पुलिस द्वारा अवैध रूप से शराब बिक्री करने वाले कोचियों की धरपकड़ लगातार जारी

● साइबर सेल ने कार्यवाही कर मोटरसाइकिल से शराब का परिवहन करते हुए 02 आरोपियों को किया गिरफ्तार ● आरोपियों...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

सढौली चिखली कुरूभाठा हाईस्कूल में मनाया शाला प्रवेशोत्सव

  आज देश-विदेश में भी हमारे सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी अपना परचम लहरा रहे हैं : सफीक गरियाबंद । शासन...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

तेंदूपत्ता संग्राहकों के खातों में पहुंचा पैसा, सीएम भूपेश बघेल ने किया ट्रांसफर

रायपुर। मुख्यमंत्री भपेश बघेल ने वर्ष 2020 में हुए तेंदूपत्ता संग्रहण कार्य के लिए 432 समितियों के 4 लाख 72...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

डीजल और पेट्रोल की भारी किल्लत, लोग परेशान

जगदलपुर। शहर में डीजल पेट्रोल की भारी किल्लत हो गई। लोग डीजल भराने पम्प जा रहे है लेकिन बिना डीजल...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

सरायपाली के मोहन्दा स्कूल के 9 छात्राओं का चयन महासमुंद जिले में सर्वाधिक चयन मोहदा स्कूल

  सरायपाली :— राष्ट्रीय प्रवीण सह छात्रवृत्ति परीक्षा में चयनित हुए 9 छात्राएं मिडिल स्कूल मोहदा संकुल बोदा से हुआ...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

सरायपाली के संकुल केंद्र बोन्दा में प्रवेशोत्सव के दौरान अनेक कार्यक्रम आयोजित सरायपाली

सरायपाली के संकुल केंद्र बोन्दा में प्रवेशोत्सव के दौरान अनेक कार्यक्रम आयोजित सरायपाली :— संकुल बोदा के अंतर्गत प्राथमिक और...

खबरे छत्तीसगढ़2 weeks ago

सरायपाली के ग्राम केना के शासकीय विद्यालय में निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण व शाला प्रवेशोत्सव मनाया गया

सरायपाली :– शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय केना, वि. ख. सरायपाली में “शाला प्रवेशोत्सव – 2022” एवं “नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण कार्यक्रम”...