अब अबूझमाड़ में कैम्प का विरोध, पारंपरिक हथियारों के साथ ग्रामीण धरने पर – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

अब अबूझमाड़ में कैम्प का विरोध, पारंपरिक हथियारों के साथ ग्रामीण धरने पर

Published

on

जगदलपुर (चैनल इंडिया)| बस्तर के सिलगेर और गंगालूर पुसनार इलाके में पुलिस कैंप का विरोध थमा नहीं कि अब नारायणपुर में भी कैंप का विरोध शुरू हो गया है। जिले के नक्सल प्रभावित अबूझमाड़ के सैकड़ों ग्रामीण अब कैंप के विरोध में लामबंद हुए हैं। ग्रामीणों ने कहा कि, गांव में सुरक्षा बलों का कैंप खुलेगा तो हमारे लिए परेशानी बढ़ेगी। जंगल में आजादी से घूम नहीं पाएंगे। सैकड़ों ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा कि हमें गांव में पुलिस कैंप नहीं चाहिए। कैंप खुलने का प्रस्ताव जब तक वापस नहीं लिया जाएगा तब तक इसी तरह आंदोलन में बैठे रहेंगे।

दरअसल, नारायणपुर के नक्सल प्रभावित मेटानार इलाके में सुरक्षा बलों का कैंप खुलना है। ये ऐसा इलाका है जो पूरी तरह से माओवादियों के कब्जे में हैं। पुलिस का मानना है कि यदि यहां कैंप खुलता है तो इसका सीधा फायदा इलाके के लोगों को मिलेगा, क्योंकि गांव में सड़क, अस्पताल, स्कूल समेत अन्य बुनियादी सुविधाएं इन इलाकों के ग्रामीणों को मिल सकेगी। साथ ही अबूझमाड़ के इस इलाके से भी माओवादी कुछ हद तक बैक फुट हो जाएंगे। ग्रामीणों ने कहा कि अबूझमाड़ हमारा है और हमारे गांव पर हमारा अधिकार है। ग्रामीणों ने बताया कि, उन्हें स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र, अस्पताल, पशु चिकित्सालय चाहिए। इलाके के लोगों को डर है कि यहां सुरक्षा बलों का कैंप खुलता है तो जवान उनके साथ मारपीट करेंगे। साथ ही उन्हें फर्जी मुठभेड़ और झूठे नक्सल मामलों में फंसाया जाएगा। यही वजह है कि यहां कैंप का विरोध करने ग्रामीण सड़क पर उतर आए हैं। बताया जा रहा है कि पिछले 2-3 दिनों से ग्रामीणों का आंदोलन जारी है। इधर, बीजापुर-सुकमा जिले की सरहद पर स्थित सिलगेर में पिछले 7 महीनों से ग्रामीण पुलिस कैंप के विरोध में और वहां पर हुए गोलीकांड की न्यायिक जांच की मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक उनकी मांगे पूरी नहीं होती है तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। इसके अलावा बीजापुर जिले के गंगालूर इलाके के पुसनार और बुर्जी में भी ग्रामीणों का कैंप के विरोध में आंदोलन जारी है। यहां पर बैठे ग्रामीण इलाके में सड़क निर्माण को लेकर भी काफी नाराजगी जता रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि हमारे गांव तक पक्की सड़क नहीं बननी चाहिए। यदि सड़क बनती है तो फोर्स गांव में घुसेगी।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

CHANNEL INDIA NEWS2 hours ago

न्याय मांगने अधिकारी से मिलने पहुंचा ‘मरा’ शख्स, बोला- ‘साहब… मेरी मदद कीजिए’

राजनांदगांव(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के अंबागढ़ ब्लॉक के चिखली पंचायत में सचिव की घोर लापरवाही सामने आई है....

CHANNEL INDIA NEWS2 hours ago

CG News: पुलिस वाले जीजा की वर्दी चोरी कर बना हवलदार, निकलवाई बदमाशों की पूरी लिस्ट, फिर…

बेमेतरा(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में पुलिस ने एक बेहद शातिर ठग को गिरफ्तार किया है. आरोपी ने पहले...

BREAKING3 hours ago

CG पंचायत चुनाव: 1288 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला आज

रायपुर(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ में त्रि-स्तरीय पंचायत के आम और उप चुनाव के लिए गुरुवार सुबह 7 बजे से मतदान शुरू...

BREAKING22 hours ago

बड़ी खबर: इस जिले में भी लागू हुआ नाइट कर्फ्यू, स्कूल बंद करने के भी आदेश

कोरिया(चैनल इंडिया)। कलेक्टर ने जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर समेत मनेन्द्रगढ़, खड़गवां और चिरमिरी में स्कूल बंद करने के आदेश दिए हैं।...

BREAKING23 hours ago

‘थूकने’ पर चल गए लात-घूंसे, जानें पूरा मामला

जांजगीर(चैनल इंडिया)| प्रदेश के जांजगीर-चांपा में मंगलवार देर रात ‘थूकने’ को लेकर बवाल हो गया। बात इनती बढ़ी कि दोनों...

Advertisement
Advertisement