एनकाउंटर में सात वर्दीधारी नक्सली हथियार समेत ढेर,जिला रिजर्व पुलिस के तीन जवान घायल

एनकाउंटर में सात वर्दीधारी नक्सली हथियार समेत ढेर,जिला रिजर्व पुलिस के तीन जवान घायल

जगदलपुर /8 जून (वार्ता) छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में एंटी नक्सल ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बल के जवानों को फिर एक बार बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। चार जिलों की पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन में अबूझमाड़ के जंगल में सात वर्दीधारी नक्सलियों को हथियार समेत मार गिराया है। वहीं घटना में नारायणपुर जिला रिर्जव पुलिस के तीन जवान घायल हुए हैं। 

बस्तर आइजी सुन्दर राज पी  ने घटना की पुष्टि करते बताया कि गुरुवार की रात्रि को नारायणपुर, दंतेवाड़ा, कोंडागांव और बस्तर जिले से फोर्स को रवाना कर पूर्व बस्तर डिविजन के बड़े हार्डकोर नक्सलियों की घेराबंदी की कार्रवाई की गई। जिसमें ग्राम मुंगेडी और गोबेल क्षेत्र में नक्सलियों के द्वारा सुरक्षा बल के जवानों पर फायरिंग किया गया जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में सात वर्दीधारी नक्सली हथियार समेत मारे गए हैं। उन्होंने बताया कि पहले पांच शव बरामद किए गए थे । देर रात सर्चिंग में दो और नक्सलियों के शव बरामद किए गए । नक्सलियों की शिनाख्त की जा रही है। बस्तर में नक्सलियों के खिलाफ़ अंतर जिला संयुक्त ऑपरेशन चलाया जा रहा हैं। नक्सलियों की घेराबंदी के लिए सैकड़ो जवानों को जंगल में उतर गया है। 


बस्तर आइजी पी सुदर राज ने बताया कि नक्सल अभियान के दौरान शुक्रवार को दिन भर गोबेल क्षेत्र के जंगल में पुलिस पार्टी और माओवादियों के बीच  रूक-रूककर मुठभेड़ होती रही। आइजी बस्तर के मुताबिक़ सभी मृत नक्सलियों के शव को पुलिस ने बरामद कर लिया गया हैं। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में  बड़ी संख्या में नक्सलियों के घायल होने की सूचना मिल रही हैं। उन्होंने बताया कि नारायणपुर डीआरजी के 03 जवान घायल हुए हैं। घायल जवानों की स्थिति सामान्य एवं खतरे से बाहर है। 
घायल जवानों में पुलिस उपनिरीक्षक कचरू राम कोर्राम, मंगलू कुमेटी और भरत राम शामिल हैं । जिन्हें बेहतर उपचार के लिए आज हेलीकॉप्टर से रायपुर रवाना किया गया ।