कानून के विद्वान अधिवक्ता की संकीर्ण मानसिकता, मीडिया पर किया घृणित शब्दों से प्रहार… – Channelindia News
Connect with us

channel india

कानून के विद्वान अधिवक्ता की संकीर्ण मानसिकता, मीडिया पर किया घृणित शब्दों से प्रहार…

Published

on



चिरमिरी(चैनल इंडिया)|  इन दिनों सोशल मीडिया पर अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर आरोप प्रत्यारोप एवं लांक्षन लगाने का कार्य निरंतर जारी है। सोशल मीडिया पर अक्सर यह देखने में आ रहा है कि लोग अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर अपने विचारों को खुल कर लिखने लगे हैं। जो कि एक बहुत ही अच्छी बात है। किंतु लोग यह भूल जाते हैं कि जहां संविधान ने लोगों को अधिकार दिए हैं वहीं लोगों के लिए कर्तव्यों का निर्वहन भी अनिवार्य किया गया है।

देखने में यह आ रहा है कि सोशल मीडिया पर पार्टी के पक्ष या विपक्ष में, धर्म के पक्ष या विपक्ष में लोग अपनी अभिव्यक्ति की आजादी का प्रयोग करते हुए अपने कर्तव्यों को भूल स्तरहीन भाषा का प्रयोग करने लगते हैं। और यह अभिव्यक्ति की आजादी स्तरहीन गाली गलौज तक पहुंच जाती है।

इसे भी पढ़े   Bird Flu: पहाड़ों पर भी अलर्ट, देहरादून में 1 दिन के अंदर 165 पक्षी मरे

प्रायः ऐसे प्रहार राजनीति में होते ही रहते हैं। किंतु राजनीति से इतर सब पर समन्वक दृष्टि रखने वाले लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर स्तरहीन शब्दों के साथ ऐसा घृणित प्रहार क्या उचित है??

तस्वीर में आप देख सकते हैं कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर किन शब्दों के साथ और कैसी टिप्पणी की गई है। सूत्र बताते हैं कि इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर जिस व्यक्ति द्वारा लगाया है वो पेशे से वकील हैं। भारत में वकीलों को विद्वानों की श्रेणी में रखा गया है। यह कैसी विद्वता का परिचय सोशल मीडिया जैसे सार्वजनिक मंच पर एक दिया जा रहा है। क्या पेशे से एक विद्वान वकील द्वारा लोकतंत्र के चौथे स्वतंत्र स्तंभ पर इस तरह से स्तरहीन शब्दों के साथ प्रहार उचित है? क्या ऐसे शब्दों का प्रयोग किसी विद्वान वकील द्वारा किया जाना चाहिए??

इसे भी पढ़े   जॉइन करना चाहते हैं CBI, तो जान लें इस प्रक्रिया के बारे में

कोरोना काल में कितने ही पत्रकारों ने जनता के बीच जाकर जनता के लिए जान दी। कितने ही मीडिया कर्मियों ने अपनी जान खोयी। विषम परिस्थितियों में भी मीडिया कर्मियों ने अपने कर्तव्यों का निर्वहन निष्पक्ष रह कर किया। ऐसे में मीडिया पर इस तरह के स्तरहीन शब्दों के साथ प्रहार कहां से उचित है। शासन प्रशासन क्यों इस तरह के वक्तव्यों पर स्वयं संज्ञान नहीं लेती।

स्तरहीन शब्दों के साथ लोकतंत्र के चौथे स्वतंत्र स्तंभ पर यह प्रहार कदापि न्यायोचित नहीं।

ऐसे स्तरहीन शब्द कहीं से भी किसी विद्वान व्यक्ति के नहीं हो सकते एवं ना ही कोई विद्वान व्यक्ति ऐसे घृणित शब्दों का समर्थन करेगा।

इसे भी पढ़े   किसान आंदोलन के समर्थन में सोनिया गांधी आज नहीं मनाएंगी अपना जन्मदिन

जब इन शब्दों के संबंध में टीम ने वरिष्ठ अधिवक्ताओं एवं वरिष्ठ पत्रकारों से बात की तो उन्होंने कहा कि अवश्य ही पोस्ट लिखने वाले की मानसिक स्थिति सही नहीं या फिर मानसिकता सही नहीं। वरिष्ठ अधिवक्ताओं ने यह भी कहा कि एक अधिवक्ता का कार्य माननीय न्यायालय के अंदर प्रारंभ होता है। माननीय न्यायालय से बाहर इस तरह की टिप्पणी राजनीति से प्रेरित उक्त अधिवक्ता की संकीर्ण मानसिकता को प्रदर्शित करता है।

सवाल फिर वही कि क्या संविधान किन घृणित शब्दों के साथ चौथे स्तंभ पर ऐसे प्रहार की इजाजत देता है। अगर नहीं तो प्रशासन स्वतः संज्ञान लेते हुए ऐसे घृणित शब्दों के साथ लोकतंत्र के चौथे स्वतंत्र स्तंभ पर प्रहार करने वाले व्यक्तियों पर क्यों कार्यवाही नहीं कर रहा।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india9 hours ago

पुलिस चौकी के सामने खड़ी एंबुलेंस अचानक लगी हिलने, पास जा कर देखा तो उड़ गए लोगों के होश…

एक तरफ कोरोना से हाहाकार मचा है। शहरों से लेकर गांवों तक देश का शायद ही कोई ऐसा कोना हो...

CHANNEL INDIA NEWS10 hours ago

प्रदेश के इस जिले में करना है प्रवेश तो देना होगा स्टेमिना टेस्ट, जानिए क्या करना पड़ेगा?

मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिला सीमा पर प्रवेश पर सख्ती दिखाने के लिए पुलिस अधीक्षक निवाड़ी आलोक कुमार सिंह ने...

channel india11 hours ago

10 साल की बच्ची को ब्लैक फंगस ने जकड़ा, इलाज जारी…

रायपुर(चैनल इंडिया)। कोरोना संक्रमण के बाद अब ब्लैक फंगस का खतरा बढ़ गया है. छत्तीसगढ़ में इसके चौकाने वाले मामले...

BREAKING11 hours ago

ब्रेकिंग न्यूज़: कोविड -19 के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए संपूर्ण कबीरधाम जिले में आगामी 31 मई सुबह 6 बजे तक कन्टेन्टमेंट क्षेत्र की समय सीमा बढ़ाई

कवर्धा(चैनल इंडिया)|  कलेक्टर एवं जिला  दंडाधिकारी रमेश कुमार शर्मा ने आज इस आदेश के आदेश एवं विस्तृत दिशा- निर्देश जारी...

BREAKING12 hours ago

बुजुर्ग ने किया कुत्ते का रेप, पुलिस ने दर्ज किया केस…

महाराष्ट्र के नालासोपारा जिले से चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक शख्स ने इंसानियत को शर्मशार कर कुत्ते...

Advertisement
Advertisement