चेन्नई में फंसे जशपुर के मजदूरों को जिला कलेक्टर कोरोना राहत कोष से मिली सहायता राशि ,जनपद सदस्य आशिका कुजूर और जशपुर कलेक्टर द्वारा मदद मिलने से चेन्नई में फंसे मजदूरों को मिली राहत, सोशल मीडिया के जरिए मांगी थी मदद - Channelindia News
Connect with us

channel india

चेन्नई में फंसे जशपुर के मजदूरों को जिला कलेक्टर कोरोना राहत कोष से मिली सहायता राशि ,जनपद सदस्य आशिका कुजूर और जशपुर कलेक्टर द्वारा मदद मिलने से चेन्नई में फंसे मजदूरों को मिली राहत, सोशल मीडिया के जरिए मांगी थी मदद

Published

on

जशपुर | देश में कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा अचानक लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। जिसकी वजह से अन्य राज्यों में काम करने गए मजदूरों को सबसे ज्यादा परेशानी हुई। दैनिक आवश्यक वस्तुओं के लिए भी उन्हें मोहताज होना पड़ रहा था। इसके बाद उन्होनें पलायन करना शुरू कर दिया। लेकिन समस्या वहां खत्म नहीं हुई थी। जो जहाँ है उन्हें वहीं रहने का आदेश जारी होने के बाद यात्रा कर रहे मजदूरों की परेशानी बढ़ने लगी।

इसी कड़ी में जशपुर से केरल काम करने गये पाँच मजदूर घर वापसी के दौरान चेन्नई पहुंचने के बाद वहीं फंस गए। आवागमन की सुविधा बंद हो गई और उन्हें वहीं रुकना पड़ा। लॉकडाउन की तिथि बढ़ने की वजह से उनके पास उपलब्ध सामग्री और रुपये खत्म होने लगे थे। उन्होंने मदद मांगनी शुरू की। कई लोगों को फोन किया लेकिन मदद नहीं मिल पाई। फिर सोशल मीडिया के जरिए उन्होंने जशपुर जिले के बगीचा ब्लाक की जनपद सदस्य आशिका कुजूर से मदद की अपील की। उसके बाद आशिका कुजूर ने जशपुर कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर से संपर्क किया। लगातार तीन दिनों तक कोरोना हेल्पलाइन नंबर और अन्य अधिकारियों से संपर्क करने के बाद अंततः जशपुर कलेक्टर द्वारा मदद मिली।

जशपुर कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर

जशपुर जिला कलेक्टर कोरोना राहत कोष से मजदूरों को सहायता राशि प्रदान की गई। मदद मिलते ही चेन्नई में फंसे जशपुर के लोगों ने आशिका कुजूर को सह्दय धन्यवाद दिया साथ ही जशपुर कलेक्टर की तत्परता की सराहना की।

बता दें कि जशपुर में 2 अप्रैल से कोरोना राहत कोष शुरू किया गया है। जरूरतमंदों तक पहुंचाने का काम जिला प्रशासन बखूबी कर रही है।

 

आशिका कुजूर, जनपद पंचायत सदस्य -बगीचा

कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर ने बताया कि 2 अप्रैल से शुरू हुए जिला राहत कोष में दानदाताओं द्वारा मिली धनराशि जरूरतमंद नागरिकों तक पहुँचाने में जिला प्रशासन पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध है। पिछले 2 दिनों में अब तक राहत कोष में 2 लाख ₹ जमा हुए हैं और 35 व्यक्तियों के खाते में पैसे भेजे जा चुके हैं। इसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा लोगों तक मदद राशि पहुँचाने की प्रक्रिया जारी है।

RO No.- 11641/7

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

नक्सलियों से बेखौफ: ये महिला बखूबी निभा रही सरपंच की जिम्मेदारी

रायपुर। धुर नक्सली क्षेत्र की एक सामान्य सी दिखने वाली महिला रीता मंडावी के हौसल को लोग सलाम कर रहे...

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

भूपेश बघेल ने बीजापुर विधानसभा क्षेत्र में की भेंट मुलाकात, कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बीजापुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम आवापल्ली में भेंट-मुलाकात के दौरान आम जनता और जनप्रतिनिधियों...

खबरे छत्तीसगढ़10 hours ago

कुएं में मिली पत्थरों से बंधी लाश : दो दिन से लापता था युवक, हत्या का अंदेशा

पलारी। बलौदाबाजार जिले के पलारी थाना क्षेत्र के गांव सकरी (प) के कुएं में एक 22 वर्षीय युवक की लाश...

खबरे छत्तीसगढ़10 hours ago

गबनबाज सचिव निलंबित : हड़प लिया था दिव्यांग हितग्राही के 5 माह की पेंशन राशि

बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में दिव्यांग हितग्राही के पेंशन राशि का गबन करने के मामले में सचिव पर गाज...

Special News10 hours ago

50 लाख की लूट: पीड़ित कारोबारी बोले – चिल्लाने पर भी मदद के लिए नहीं आया कोई

रायपुर। माना थाना क्षेत्र के डूमरताई में सोमवार को 50 लाख रुपये की लूट की घटना के बाद पहली बार...

Advertisement