जगदलपुर से 31 मार्च से इंडिगो विमान का होगा परिचालन

जगदलपुर से 31 मार्च से इंडिगो विमान का होगा परिचालन

कलेक्टर एवं चेयरमैन मां दन्तेश्वरी एयरपोर्ट ने की सुचारू विमान सेवा संचालन हेतु की बैठक


जगदलपुर, 07 फरवरी 2024/ बस्तर के वासियों को अलाइंस विमान सेवा के साथ साथ अब 31 मार्च 2024 से इंडिगो विमान सेवा की प्रचलन प्रारंभ होने से वायु परिवहन सेवा में सुविधाएं बढ़ जाएगी। इंडिगो की विमान प्रतिदिन हैदराबाद से जगदलपुर और रायपुर जाएगी तथा उसी दिन रायपुर से जगदलपुर होते हैदराबाद वापस हो जाएगी। कलेक्टर एवं  चेयरमैन  मां दन्तेश्वरी एयरपोर्ट   विजय दयाराम के. ने सुचारू विमान सेवा संचालन हेतु बुधवार को एयरपोर्ट में संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में बीसीएएस द्वारा दिए गए सुझाव को पुलिस अधीक्षक   शलभ सिन्हा को अवगत कराया गया। नगरीय क्षेत्र में एयरपोर्ट के रनवे के दोनों तरफ की एप्रोच पाथ (हाईवे एवं बोघघाट) में 15 किलोमीटर के क्षेत्र तक किसी भी प्रकार की ’हाईराइस भवन’ बनाने की अनुमति प्रदान नहीं करने हेतु नगर निगम को कहा गया, साथ ही भवन निर्माता को एयरपोर्ट एथॉरिटी ऑफ इंडिया के एनओसी शाखा से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करने की आवश्यकता पर चर्चा की गई।


एयरपोर्ट में निर्माणाधीन विकास कार्यों में रनवे, एप्रोन, टैक्सी वे में मार्किंग एवं केक फिलिंग का कार्य सहित ऑप्सटेकल मार्किग, हेलीकाप्टर पार्किंग तथा एप्रोन के समीप एप्रोन स्ट्रीप का कार्य प्रगति पर है। तीनों लंबित कार्यों को एक माह के अन्दर अनिवार्य रूप से पूर्ण करने के निर्देश कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग को दिया गया। इसके अतिरिक्त विभिन्न कार्य जैसे रिकार्पेटिंग ऑफ रनवे, आईश्योलजेशन वे का निर्माण कार्य, पैरीमीटर रोड, बाउंडरीवाल, कंस्नटीना वाल, ड्रेन इत्यादि के कार्यों के पूर्व प्रेषित प्राक्कलन को विमानन विभाग से स्वीकृति हेतु अनुरोध करने के निर्देश दिए गए। इसके अतिरिक्त अन्य विकास कार्यों को जल्द पूर्ण करने के निर्देश देते हुए अधिकारियों के साथ एयरपोर्ट में चल रहे सभी निर्माण कार्यों की मौका निरीक्षण किया गया। इस अपर कलेक्टर, एवं नोडल अधिकारी श्री सीपी बघेल, नगर निगम आयुक्त श्री हरेश मंडावी, लोनिवि कार्यपालन अभियंता   एके सिंह, डायरेक्टर एयरपोर्ट श्री विदेश गुप्ता, अधिकारी श्री राठौर सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।