अस्पताल में महिला जूनियर डॉक्टर ने वार्ड बॉय को जड़ा थप्पड़, बदसलूकी का वीडियो हुआ वायरल…. – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

अस्पताल में महिला जूनियर डॉक्टर ने वार्ड बॉय को जड़ा थप्पड़, बदसलूकी का वीडियो हुआ वायरल….

Published

on

डॉक्टरों की लापरवाही और मरीजों के परिजनों के साथ मारपीट के लिए बदनाम हो चुके रीवा के संजय गांधी अस्पताल में एक महिला जूनियर डॉक्टर की गुंडागर्दी दिखाई दी है. महिला जूनियर डॉक्टर नीलम ने गुंडागर्दी दिखाते हुए वार्ड बॉय को थप्पड़ जड़ दिया. जानकारी के अनुसार वार्ड बॉय मरीज को भर्ती कराने के लिए चौथी मंजिल पर पहुंचा था, यहां पर मरीज को भर्ती कराने को लेकर बहस होने लगी. इस दौरान महिला डॉक्टर ने अपना आपा खो दिया और वार्ड बॉय को थप्पड़ जड़ दिया.
रीवा का संजय गांधी अस्पताल विंध्याचल का सबसे बड़ा अस्पताल है, जंहा पर दूर-दूर से मरीज इलाज के लिए आते हैं. वहीं संजय गांधी अस्पताल के जूनियर डाक्टरों पर लापरवाही और बदसलूकी के आरोप आए दिन लगते है. कभी मरीजों के परिजनों के साथ तो कभी स्टाफ के साथ बदसलूकी की बात सामने आती रहती है. लेकिन कभी इन पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती, यही वजह है की इन जूनियर डाक्टरों के हौसले बुलंद रहते है और ये अपनी आदतों से बाज नहीं आते.

मरीज को भर्ती करने को लेकर हुआ विवाद
ताजा मामला गुरूवार देर रात का है संजय गांधी अस्पताल में एक मरीज की हालत गंभीर थी. मरीज को आक्सीजन लगा हुआ था, जिसको ड्यूटी में तैनात वार्ड बॉय विपिन कुमार दूसरी मंजिल से चौथी मंजिल में मेडिसिन वार्ड में लेकर गया. यहां ड्यूटी पर महिला जूनियर डाक्टर नीलम थी, जिसे वार्ड बॉय ने मरीज को वार्ड में शिफ्ट कराने के लिए कहा. इसपर महिला डाक्टर ने मना कर दिया और कहा की इसको अपने घर ले जाइए, इसके बाद मरीज को शिफ्ट कराने को लेकर दोनों के बीच बहस हो गई और डाक्टर नीलम अपना आपा खो बैठी.

घटना का वीडियो हुआ वायरल
उन्होंने वार्ड बॉय को थप्पड़ मार दिया और उससे बदतमीजी करने लगी. इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आया है. जब जूनियर डाक्टरों का स्टाफ के साथ इस तरह का व्यवहार हैं तो मरीजों और उनके परिजनों के साथ किस तरह का व्यवहार करते होंगे?

इससे पहले भी कई मामले आए है सामने
जूनियर डाक्टरों की लापरवाही का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी वार्ड बॉय को बंधक बनाकर मारपीट की जा चुकी है और कोई न कोई लापरवाही आए दिन सामने आती रहती है. इसके चलते कई मरीजों की जान भी जा चुकी है अक्सर मरीजों के परिजनों से इसी लापरवाही को लेकर विवाद भी होता है. लेकिन कभी इन पर कार्रवाई नहीं की जाती.

अस्पताल प्रबंधन ने कही जांच की बात
इस मामले में भी अस्पताल प्रबंधन जांच कर कार्रवाई की बात कर रहा है. लेकिन उनका हर बार यही कहना होता है लेकिन कभी कोई कार्रवाई नहीं होती. इसके चलते जूनियर डाक्टरों के हौसले बुलंद है और इसका खामियाजा मरीजों और उनके परिजनों को भुगतना पड़ता है.

 


Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

 सक्ती16 hours ago

भाजपा ग्रामीण मंडल द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय  की जयंती मनाई

सक्ती(चैनल इंडिया)| भारतीय जनता पार्टी ग्रामीण मंडल समिति द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती ग्रामीण मंडल सक्ती  के ग्राम पंचायत...

channel india16 hours ago

आबकारी विभाग की में बड़ी कार्रवाई, शराब बनाने की अवैध फैक्ट्रीं का पर्दाफाश

रायपुर(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नरदाह विधानसभा रोड स्थित अवैध शराब फैक्ट्री बनाने का राजफाश हुआ है। वहां...

channel india16 hours ago

बंगाल की खाड़ी से आने वाला है एक और बड़ा खतरा, जानिए क्या है पूरा मामला….

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चेतावनी दी है कि बंगाल की खाड़ी में एक कम दबाव का सिस्टम, जो...

 अंबिकापुर16 hours ago

यहाँ शख्स की हत्या कर लाश को क्रेन से लटकाया, VIDEO वायरल…

काबुल. तालिबान के सत्ता में आने के बाद अफगानिस्तान के हालात अब तेजी से बदल रहे हैं. तालिबान ने शरिया...

balod district17 hours ago

छत्तीसगढ़ के VVIP सिटी में रेवेन्यू इंस्पेक्टर के साथ लूट…

दुर्ग.(चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में महिला अधिकारी के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है. लूट...

Advertisement
Advertisement