Connect with us

ज्योतिष- वास्तु

गणेश चतुर्थी : ऐसे करे विघ्नहर्ता गणेश की पूजा, पढ़े पूरी विधि

Published

on

भगवान गणेश विघ्‍नहर्ता और मंगलकर्ता कहलाते हैं। गणेशजी की पूजा विघ्‍नहर्ता और सुख देकर दुख हरने वाले देवता के रूप में होती है। वह अपने सच्‍चे भक्‍तों की सभी बाधाएं, रोग और दरिद्रता दूर करते हैं। गणपति भगवान की पूजा और उपासना से सुख और समृद्धि प्राप्‍त होती है। इस बार गणेश चतुर्थी पर आप मनोकामना के अनुसार पूजापाठ से जुड़े उपाय आजमाएंगे तो आपको बप्‍पा की विशेष कृपा प्राप्‍त होगी। आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में…

नियत दिन पर आप गणपति को अपने घर में विराजमान करें। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि बाईं ओर सूंढ वाली गणेशजी की प्रतिमा अधिक शुभ होती है। बाईं ओर सूंढ वाली गणेशजी की प्रतिमा को विरजमान करने से पहले कुमकुम से स्वास्तिक बनाएं। चार हल्दी की बिंदी लगाएं।

भगवान गणेश की पीठ के दर्शन कभी नहीं करने चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि उनकी पीठ पर दरिद्रता का वास है, जो भी पीठ के दर्शन करता है तो दरिद्रता का प्रभाव बढ़ जाता है।

गणेश जी को स्थापित कर रहे हैं तो उनके साथ गणेशजी की पत्नी रिद्धि और सिद्धि एवं पुत्र शुभ और लाभ की भी पूजा करनी चाहिए। यही नहीं मूषक भी पूजा करनी चाहिए।

गणेश जी को भूल से भी तुलसी नहीं अर्पित करनी चाहिए। पुराणों में गणेशजी के भोग में तुलसी का प्रयोग वर्जित बताया गया है। उन्हें दुर्वा अर्पित करनी चाहिए।

गणेश जी की पूजा अर्चना

  • गणेश जी की प्रतिमा की स्थापना दोपहर के समय करें. कलश भी स्थापित करें.
  • लकड़ी की चौकी पर पीले रंग का वस्त्र बिछाकर मूर्ति की स्थापना करें.
  • दिन भर जलीय आहार ग्रहण करें अथवा केवल फलाहार करें.
  • सायंकाल गणेश जी की यथा शक्ति पूजा करें. घी का दीपक जलाएं.
  • जितनी आपकी उम्र है उतने लड्डुओं का भोग लगायें. साथ ही दूब भी अर्पित करें.
  • अपनी इच्छा अनुसार गणेश जी के मन्त्रों का जाप करें.
  • चन्द्रमा को नीची दृष्टि से अर्घ्य दें, अन्यथा आपको अपयश मिल सकता है.
  • अगर चन्द्र दर्शन हो गया है तो उसके दोष का उपचार कर लें.
  • प्रसाद का वितरण करें तथा अन्न-वस्त्र का दान करें.

गणेश जी की उपासना में क्या जरूर अर्पित करें?

  • गणेश जी को दूब और मोदक जरूर अर्पित करें.
  • पीले वस्त्र और सिन्दूर अर्पित करना शुभ होगा.
  • गणेश जी को पीले फूलों की या फलों की माला अर्पित करें.
  • गणेश जी की उपासना जितने भी दिन चलेगी, अखंड घी का दीपक जलता रहेगा.

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ज्योतिष- वास्तु

जानिए हरतालिका तीज की तिथी, महत्व, पूजन विधि,  

Published

on

By

हिन्दी पंचांग के अनुसार, हर वर्ष भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को हरतालिका तीज का व्रत रखा जाता है. हरतालिका तीज 1 सितंबर या 2 सितंबर में से किस तारीख को मनायी जाएगी, इस बात को लेकर लोगों में भ्रम की स्थिति है. कुछ लोग 1 सितंबर की तारीख बता रहे हैं तो कुछ 2 सितंबर की तारीख को सही बता रहे हैं. इस दुविधा को हम खत्म कर रहे हैं.

01 सितंबर को क्‍यों रखें हरतालिका तीज का व्रत

कुछ जानकारों का कहना है कि हरतालिका तीज का व्रत 1 सितंबर को ही रखा जाना चाहिए क्‍योंकि तब दिन भर तृतीया रहेगी। तर्क यह भी है कि हरतालिका तीज का व्रत हस्‍त नक्षत्र में किया जाता है, जो कि 1 सितंबर को है। इसलिए व्रत 1 सितंबर को रखा जाना चाहिए। जानकारों का कहना है अगर आप 2 सितंबर को व्रत रखते हैं तो उस दिन सूर्योदय के बाद चतुर्थी लग जाएगी. ऐसे में तृतीया तिथि का व्रत मान्‍य नहीं होगा।

02 सितंबर को क्‍यों रखें हरतालिका तीज का व्रत

कुछ लोगों का कहना है कि हरतालिका तीज का व्रत 1 सितंबर की बजाए 2 सितंबर को रखा जाना चाहिए। उनका तर्क है कि ग्रहलाघव पद्धति से बने पंचांग के अनुसार 2 सितंबर को सूर्योदय के बाद सुबह 8 बजकर 58 मिनट तक तृतीया तिथि रहेगी और फिर चतुर्थी लग जाएगी। यानी कि तृतीया तिथि में सूर्योदय होगा। इसके अलावा कुछ विद्वानों को यह भी मानना है कि चतुर्थी युक्‍त तृतीया को बेहद सौभाग्‍यवर्द्धक माना जाता है। ऐसे में 2 सितंबर को तृतीया का पूर्ण मान, हस्त नक्षत्र का उदयातिथि योग और सायंकाल चतुर्थी तिथि की पूर्णता तीज पर्व के लिए सबसे उपयुक्‍त है।

हरतालिका तीज का महत्‍व

सभी चार तीजों में हरतालिका तीज का विशेष महत्‍व है. हरतालिका दो शब्‍दों से मिलकर बना है- हरत और आलिका. हरत का मतलब है ‘अपहरण’ और आलिका यानी ‘सहेली’. प्राचीन मान्‍यता के अनुसार मां पार्वती की सहेली उन्‍हें घने जंगल में ले जाकर छिपा देती हैं ताकि उनके पिता भगवान विष्‍णु से उनका विवाह न करा पाएं. सुहागिन महिलाओं की हरतालिका तीज में गहरी आस्‍था है. महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए निर्जला व्रत रखती हैं. मान्‍यता है कि इस व्रत को करने से सुहागिन स्त्रियों को शिव-पार्वती अखंड सौभाग्‍य का वरदान देते हैं. वहीं कुंवारी लड़कियों को मनचाहे वर की प्राप्‍त‍ि होती है.

हरतालिका तीज की पूजन सामग्री

हरतालिका व्रत से एक दिन पहले ही पूजा की सामग्री जुटा लें: गीली मिट्टी, बेल पत्र, शमी पत्र, केले का पत्ता, धतूरे का फल और फूल, अकांव का फूल, तुलसी, मंजरी, जनेऊ, वस्‍त्र, मौसमी फल-फूल, नारियल, कलश, अबीर, चंदन, घी, कपूर, कुमकुम, दीपक, दही, चीनी, दूध और शहद.

मां पार्वती की सुहाग सामग्री: मेहंदी, चूड़ी, बिछिया, काजल, बिंदी, कुमकुम, सिंदूर, कंघी, माहौर, सुहाग पिटारी.

 

हरतालिका तीज की पूजन विधि

  • हरतालिका तीज की पूजा प्रदोष काल में की जाती है. प्रदोष काल यानी कि दिन-रात के मिलने का समय. हरतालिका तीज के दिन इस प्रकार शिव-पार्वती की पूजा की जाती है:
  • संध्‍या के समय फिर से स्‍नान कर साफ और सुंदर वस्‍त्र धारण करें. इस दिन सुहागिन महिलाएं नए कपड़े पहनती हैं और सोलह श्रृंगार करती हैं.
  • इसके बाद गीली मिट्टी से शिव-पार्वती और गणेश की प्रतिमा बनाएं.
  • दूध, दही, चीनी, शहद और घी से पंचामृत बनाएं.
  • सुहाग की सामग्री को अच्‍छी तरह सजाकर मां पार्वती को अर्पित करें.
  • शिवजी को वस्‍त्र अर्पित करें.
  • अब हरतालिका व्रत की कथा सुनें.
  • इसके बाद सबसे पहले गणेश जी और फिर शिवजी व माता पार्वती की आरती उतारें.
  • अब भगवान की परिक्रमा करें.
  • रात को जागरण करें. सुबह स्‍नान करने के बाद माता पार्वती का पूजन करें और उन्‍हें सिंदूर चढ़ाएं.
  • फिर ककड़ी और हल्‍वे का भोग लगाएं. भोग लगाने के बाद ककड़ी खाकर व्रत का पारण करें.
  • सभी पूजन सामग्री को एकत्र कर किसी सुहागिन महिला को दान दें.

Continue Reading

ज्योतिष- वास्तु

कृष्ण जन्माष्टमी : कब है 23 या 24 अगस्त को? कैसे करे श्री कृष्ण को प्रसन्न? जानिये सब कुछ.

Published

on

By

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के त्योहार को लेकर हर बार की तरह इस बार भी असमंजस की स्थिति है। कहीं 23 अगस्त को तो कहीं 24 अगस्त को मनाई जाएगी। भगवान कृष्ण का जन्म भाद्रपद की अष्टमी तिथि को हुआ था। अष्टमी तिथि 23 को पड़ रही है इसलिए कहीं 23 तो कहीं 24 अगस्त को मनाई जाएगी। जब-जब भी धरती पर अत्याचार बढ़ा है ,धर्म का पतन हुआ है तब-तब भगवान ने पृथ्वी पर अवतार लेकर सत्य और धर्म की स्थापना की है। भगवान का अवतार मानव के आरोहण के लिए होता है। जगत की रक्षा, दुष्टों का संहार तथा धर्म की पुर्नस्थापना ही प्रत्येक अवतार का उद्देश्य होता है।

जन्‍माष्‍टमी की तिथि और शुभ मुहूर्त –

जन्‍माष्‍टमी की तिथि: 23 अगस्‍त और 24 अगस्‍त.

अष्‍टमी तिथि प्रारंभ: 23 अगस्‍त 2019 को सुबह 08 बजकर 09 मिनट से.

अष्‍टमी तिथि समाप्‍त: 24 अगस्‍त 2019 को सुबह 08 बजकर 32 मिनट तक.

जन्माष्टमी का महत्व और अर्थ क्या है ?

भगवान कृष्ण का जन्म भाद्रपद कृष्ण अष्टमी को हुआ था. जिसकी वजह से इस दिन को कृष्ण जन्माष्टमी कहते हैं. भगवान कृष्ण का रोहिणी नक्षत्र में हुआ था इसलिए जन्माष्टमी  के निर्धारण में रोहिणी नक्षत्र का बहुत ज्यादा ध्यान रखते हैं

इस दिन श्रीकृष्ण की पूजा करने से संतान प्राप्ति ,आयु तथा समृद्धि की प्राप्ति होती है

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाकर हर मनोकामना पूरी की जा सकती है

जिन लोगों का चंद्रमा कमजोर हो वे आज विशेष पूजा से लाभ पा सकते हैं

पूजन विधि –

जन्माष्ठमी केदिन प्रातः जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत होकर स्वच्छ वस्त्र धारण करें । इसके बाद पूर्व या उत्तर की ओर मुख करके व्रत का संकल्प लें । माता देवकी और भगवान श्री कृष्ण की मूर्ति या चित्र पालने में स्थापित करें। पूजन में देवकी,वासुदेव,बलदेव,नन्द, यशोदा आदि देवताओं के नाम जपें। रात्रि में 12  बजे के बाद श्री कृष्ण का जन्मोत्सव मनाएं। पंचामृत से अभिषेक कराकर भगवान को नए वस्त्र अर्पित करें एवं लड्डूगोपाल को  झूला झुलाएं । पंचामृत में तुलसी डालकर माखन-मिश्री व धनिये की पंजीरी का भोग लगाएं तत्पश्चात आरती करके प्रसाद को भक्तजनों में वितरित करें।

जन्माष्टमी पर शराब की दुकानें रहेंगी बंद

Continue Reading

CHHATTISGARH NEWS

झाड़ेश्वर में पूजा -अर्चना के बाद गरीबों को किया कंबल वितरण

Published

on

By

बस्तर (चैनल इंडिया न्यूज़ ) बस्तर जिले के सीमावर्ती ओडिशा प्रांत एवं जगदलपुर जनपद पंचायत क्षेत्र के मध्य स्थित देवड़ा ग्राम के झाड़ेश्वर शिवालय में विधायक रेखचंद जैन ने सावन के चौथे सोमवार को सपत्नीक जलाभिषेक, पंचामृताभिषेक सहित विशेष पूजा अर्चना करते हुए क्षेत्रीयवासियों की कुशलक्षेम, सुख-समृद्धि के लिए भगवान शिव से प्रार्थना की।  इस दौरान शहर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष   राजीव शर्मा, महामंत्री हेमु उपाध्याय, आईटीसेल महासचिव योगेश पानीग्राही, निशांत शर्मा, यशवर्धन शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष विरेंद्र साहनी तथा पत्रकार दंपत्ति विकास दुग्गड़ भी विशेष पूजा व आरती में शामिल हुए। विधायक रेखचंद जैन व शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा व कांग्रेसियों ने पूजा अर्चना के बाद गरीबों व कंबल को कंबल वितरित किया।

झाड़ेश्वर में पहुंचने से मिलती है अलग अनुभूति

विधायक रेखचंद जैन व शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा ने पूजा -अर्चना के बाद कहा कि जब भी दर्शन के लिए झाड़ेश्वर बाबा के पास पहुंचते है तो विशेष प्रकार की अनुभूति प्राप्त होती है लगातार चौथे सोमवार मंदिर पहुंच भगवान के दर्शन का पुण्य लाभ प्राप्त किया।

Continue Reading
Advertisement

ज्योतिष ज्ञान

ज्योतिष- वास्तु3 weeks ago

गणेश चतुर्थी : ऐसे करे विघ्नहर्ता गणेश की पूजा, पढ़े पूरी विधि

भगवान गणेश विघ्‍नहर्ता और मंगलकर्ता कहलाते हैं। गणेशजी की पूजा विघ्‍नहर्ता और सुख देकर दुख हरने वाले देवता के रूप में...

ज्योतिष- वास्तु3 weeks ago

जानिए हरतालिका तीज की तिथी, महत्व, पूजन विधि,  

हिन्दी पंचांग के अनुसार, हर वर्ष भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को हरतालिका तीज का व्रत रखा जाता...

ज्योतिष- वास्तु1 month ago

कृष्ण जन्माष्टमी : कब है 23 या 24 अगस्त को? कैसे करे श्री कृष्ण को प्रसन्न? जानिये सब कुछ.

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के त्योहार को लेकर हर बार की तरह इस बार भी असमंजस की स्थिति है। कहीं 23 अगस्त...

CHHATTISGARH NEWS1 month ago

झाड़ेश्वर में पूजा -अर्चना के बाद गरीबों को किया कंबल वितरण

बस्तर (चैनल इंडिया न्यूज़ ) बस्तर जिले के सीमावर्ती ओडिशा प्रांत एवं जगदलपुर जनपद पंचायत क्षेत्र के मध्य स्थित देवड़ा...

CHHATTISGARH NEWS2 months ago

दो फीट पानी पार कर श्रद्धालु पहुंचे कुलेश्वर मंदिर में पूजा  अर्चना करने

नवापारा-राजिम (चैनल इंडिया न्यूज़ ) सावन माह के तीसरे सोमवार को भोलेनाथ कुलेश्वर महादेव के मंदिर में सुबह से ही...

Advertisement

Loksabha Election 2019

cg1 month ago

सरायपाली में नोडल अधिकारियों को दिया गया चुनाव प्रशिक्षण

सरायपाली( चैनल इंडिया न्यूज़ ) महासमुन्द कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन में आने वाले...

#LokSabha Election 20192 months ago

कर्नाटक नाटक  खत्म : कुमारस्वामी की सरकार गिरी, विश्वासमत में मिले सिर्फ 99 वोट,144 की धारा लागू

नई दिल्ली (चैनल इंडिया न्यूज )।कर्नाटक विधानसभा में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी विश्वासमत पर हुई चर्चा का जवाब दे रहे हैं।...

#LokSabha Election 20193 months ago

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय गीत ’वंदे मातरम’ के रचयिता और बंगाली साहित्य पुनरूत्थान के अग्रदूत स्वर्गीय बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय को उनकी जयंती पर किया नमन

रायपुर(चैनल इंडिया न्यूज़)| मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने देश के राष्ट्रीय गीत ’वंदे मातरम’ के रचयिता और बंगाली साहित्य पुनरूत्थान के...

#LokSabha Election 20193 months ago

समाज कार्य के छात्रों ने किया शैक्षणिक भ्रमण, कमार जनजाती के लोगो की सामाजिक, आर्थिक व शैक्षणिक स्थित से हुए रुबरुं

रायपुर(चैनल इंडिया न्यूज़)| समाजशास्त्र व समाजकार्य अध्ययनरत छात्रों को राजधानी रायपुर से 150 किलोमीटर दूर गरियाबंद जिले के आदर्श ग्राम...

#LokSabha Election 20194 months ago

Breaking : भाजपा ने पर्रिकर की पणजी विधानसभा सीट गंवाई

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद रिक्त हुई पणजी विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)...

#LokSabha Election 20194 months ago

 Chhattisgarh के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रियंका गांधी के साथ, सबसे हॉट लोकसभा सीट बनारस में प्रचार करने पहुंचेंगे

 छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अब देश की सबसे हॉट लोकसभा सीट बनारस में प्रचार करने पहुंचेंगे। बघेल कांग्रेस की...

#LokSabha Election 20194 months ago

Chunav Batti: “नरेंद्र मोदी और आरएसएस हिंदुस्तान की संस्थाओं पर आक्रमण कर रहे हैं”:राहुल गांधी

लोकसभा चुनाव केे छठेे चरण का मतदान आज खत्‍म हुआ है। सभी पार्टियां अपने-अपने तरीके से चुनावी रण में ताल...

#LokSabha Election 20194 months ago

इस सीट पर दिलचस्प जंग, जीते तो बल्ले-बल्ले, हारे तो खतरे में पड़ सकता है अध्यक्ष पद !

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव में ऐसा संयोग कम ही होता है कि दो प्रमुख पार्टियों के दिग्गज एक ही...

Advertisement
Advertisement

Bollywood

देश-दुनिया5 hours ago

अमिताभ बच्चन के घर के आगे उनके ही कारण हो रहा है विरोध प्रदर्शन, पढ़िये पूरी खबर

महानायक अमिताभ बच्‍चन के ट्वीट पर बवाल मच गया है. उनके घर जलसा के बाहर बुधवार से ही विरोध प्रदर्शन...

बॉलीवुड1 day ago

विडियो : इंडिया का जुगाड़ मेड इन चाइना का ट्रेलर रिलीज़, वाइग्रा बेच रहे है राजकुमार

राजकुमार राव की फिल्म ‘मेड इन चाइना’ का ट्रेलर रिलीज हो चुका है. इस फिल्म में राजकुमार राव अहमदाबाद के...

निधन1 day ago

श्याम रामसे का निधन : हॉरर फिल्मों के शहंशाह थे, ये है उनकी सबसे भूतिया फिल्म

बॉलीवुड में 1980 और 90 के दशक में हॉरर फिल्मों का तहलका लाने वाले रामसे ब्रदर्स में से एक श्यास...

बॉलीवुड1 day ago

शेरशाह की शूटिंग के दौरान बाइक एक्सिडेंट में घायल हुए सिद्धार्थ मल्होत्रा, लगी गंभीर चोंटें

बॉलीवुड एक्टर सिद्धार्थ मल्होत्रा का शेरशाह के सेट पर एक्सीडेंट हो गया है। इस एक्सीडेंट में सिद्धार्थ बुरी तरह से...

खबरे थोड़ा हटके3 days ago

चार बिल्लियों ने घेरा साँप को, फिर हुआ ये… देखिये विडियो

बॉलीवुड फिल्म अभिनेता नील नितिन मुकेश ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो अपलोड किया है, जो सोशल मीडिया पर तेजी...

बॉलीवुड3 days ago

Video : रानु मण्डल के बाद अब उबर ड्राईवर का हुआ विडियो वायरल, आवाज़ सुन रह जाएंगे दंग

आज कल सोशल मीडिया कब कौन किस कारण से वायरल होकर चर्चा में आ जाए ये नहीं कहा जा सकता।...

बॉलीवुड3 days ago

बॉयफ्रेंड को मोटा कहने पर भड़की ये एक्ट्रेस, कही ये बात

‘बिग बॉस 12’ की कंटेस्टेंट रह चुकीं नेहा पेंडसे पिछले दिनों अपने ब्वॉयफ्रेंड को लेकर चर्चा में रहीं। नेहा ने...

बॉलीवुड3 days ago

सलमान खान के फैन्स के लिए गुड न्यूज़  

छोटे पर्दे के सबसे चर्चित रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ के सीजन 13 का आगाज इसी महीने 29 सितंबर से हो...

Advertisement
Advertisement

Advertisment

Advertisement

Advertisement

Advertisement

Trending