सड़ा चावल खाने से फूड पॉयजनिंग, पांच मवेशियों की मौत… – Channelindia News
Connect with us

 सक्ती

सड़ा चावल खाने से फूड पॉयजनिंग, पांच मवेशियों की मौत…

Published

on

सक्ती(चैनल इंडिया)|   सक्ती रेल्वे स्टेशन में गुरूवार को लगे रैक पॉइंट में हुई लापरवाही के चलते 5 गायो की मौत हो गई है बताया जा रहा है ,कि मौत का कारण रैक पॉईंट से गिरने वाला सडा चांवल है । जिसे खाकर असमय ही 5 गायो की मौत हो गई । शर्म की बात यह है कि मौके पर मौजूद ट्रांसपोर्टर और राईस मिलर केवल तमाशबीन बने रहे । दरअसल  सक्ती रेलवे स्टेशन में दिनांक 21 अक्टूबर 2021 को सुबह 8 बजकर 5 मिनट में 5 घंटे के लिये रेक लगी थी जो दुसरे दिन शाम 5-6 बजे तक चलती रही इसी दौरान खराब चांवल खाने से पशुओं की तबियत बिगडने लगी जिसे देख आसपास के लोगों ने पशु चिकित्सक को सूचना दी मगर सीमित संसाधन के चलते 5 गौमाता की जान नही बचाया जा सका वही पशु चिकित्सक के द्वारा मौके पर खडे तमाशबिन ट्रांसपोर्टर एवं राईस मिल के संचालक को कुछ आवश्यक दवाईयां लाने के लिये पशु चिकित्सक ने कहा था। मगर उनके द्वारा दवाईयां नही लायी गई ।  गाय की मौत के बाद क्षेत्र के लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है ,वहीं सड़े हुए चावल रैक प्वाइंट के माध्यम से अन्यत्र राज्य भेजी जा रही है ।उस पर भी अब सवाल उठने लगे हैं। विभागीय लापरवाही सामने आई रेलवे रैक पॉइंट में सड़े हुए चावल खाने से गाय की मौत हो जाने से मामले में नया मोड़ आ गया है और इसके लिए विभागीय लापरवाही के साथ.साथ ठेकेदार की भी लापरवाही पर भी उंगली उठ रहे हैं नागरिकों का कहना है कि अगर चावल घटिया किस्म का है तो उसका परिवहन कैसे हो रहा है वही बड़ी मात्रा में चावल के गिरने एवं वहां बड़ी संख्या में गाय के द्वारा सड़े हुए चावल खाने से अधिक संख्या में गाय की मौत हो सकती थी 28-29 घंटे बीत जाने के बाद भी नहीं हो पाई लोडिंग रेलवे रेक पॉइंट में निर्धारित समय लगभग 5 घंटे के अंतर्गत चावल की लोडिंग होना बताया जाता है लेकिन ठेकेदार के द्वारा 28-29 घंटे बीत जाने के बाद भी 25 बोगी में चावल की लोडिंग नहीं कराया गया जिससे वहां निवास कर रहे नागरिकों को बार.बार ट्रकों के आवागमन से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है अनावश्यक विलंब से जहां रेल प्रशासन को कुछ न कुछ फायदा दिखाई दे रहा है लेकिन इससे नागरिक अकारण ही परेशान हो रहे हैं
पशु चिकित्सक गौतम बंजारे ने बताया कि पशु का मरने का कारण चांवल खाने के बाद फुड पॉईजिनिंग से मौत हुई है ।  बाक्स मेंः जितने राईस मिले है एक नंबर की होना बताते है परंतु कुछ राईस मिले दो नंबर का फर्म रजिस्ट्रेषन बिना कराये धडल्ले से उस फर्म में लेना देना करते है जिसकी जानकारी अधिकारी के अलावा पोस्टमेन को रहती है अगर निश्पक्ष जांच की जाय तो पता चलेगा कि कितने का घोटाला किये है और आगे भी करते रहेगें समय रहते अगर उच्चाधिकारी ध्यान दे तो पता नही कितने करोड का फर्जी फर्म मिलेगी तथा कितने का लेन देन हो रहा है । बाक्स मेंः उक्त चॉवल ट्रेनो के द्वारा सक्ती से पंजाब भेजा जा रहा है मगर भेजने वाला एवं पाने वाला दोनों एक ही फर्म के है ।  यह भी जांच का विषय है ।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING7 hours ago

भाजपा जिला संगठन में नेतृत्व परिवर्तन होना चाहिए: संतु दास

बीजापुर(चैनल इंडिया)|भाजपा संगठन में अन्तकर्लह और बयानबाजी सोशल मीडिया में जोरो पर बढ़ता जा रहा है ठंडी के मौसम राजनीति...

BREAKING8 hours ago

ISRO दे रहा है फ्री ऑनलाइन कोर्स करने का मौका, जानिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन…

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन  छात्रों के लिए एक फ्री ऑनलाइन कोर्स की पेशकश कर रहा है. 12-दिवसीय पाठ्यक्रम ‘देहरादून स्थित...

BREAKING8 hours ago

वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा- देश की अर्थव्यवस्था विकास के स्थिर पथ पर है, GDP संख्या उत्साजनक होगी…

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण  ने आज की साझेदारी में शनिवार को आयोजित एचटी लीडरशिप समिट में कहा कि...

BREAKING9 hours ago

गोदावरी पावर एंड इस्पात लिमिटेड अब “ग्रेट प्लेस टू वर्क” -प्रमाणित

रायपुर(चैनल इंडिया)| गोदावरी पावर एंड इस्पात लिमिटेड (हीरा ग्रुप की इकाई ) अब “ग्रेट प्लेस टू वर्क” से प्रमाणित है।...

BREAKING9 hours ago

कमजोर पड़ा चक्रवात ‘जवाद’, छग में टला बारिश का खतरा

रायपुर(चैनल इंडिया)| समुद्री चक्रवात जवाद के रूप में मंडरा रहा खतरा टलता दिख रहा है। मौसम विभाग ने बताया है,...

Advertisement
Advertisement