रसोई में गैस लीक होने से घर में लगी आग, महिला समेत जुड़वा बच्चों की मौत – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

रसोई में गैस लीक होने से घर में लगी आग, महिला समेत जुड़वा बच्चों की मौत

Published

on

आनंद पर्वत इलाके में दर्दनाक हादसे में महिला और जुड़वा बच्चों की आग से झुलसकर मौत हो गई। अस्पताल में भर्ती बच्ची (9) की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे आरएमएल से सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया है। खाना बनाने के दौरान रसोई गैस सिलिंडर से गैस रिसाव होने के कारण घर में आग लग गई थी। घटना के समय महिला का पति काम पर गया था और बड़ी बेटी खाना बना रही थी। आनंद पर्वत थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि उनके आग बुझाने के बाद मौके पर दमकल पहुची थी।
मध्य जिला डीसीपी श्वेता चौहान ने बताया कि तीनों की शिनाख्त सुशीला (36) और मानसी (7) और मोहन (7) के रूप में हुई है। सुशीला पति राजेश और चार बच्चों मोहन, मानसी, मोनिका और महक के साथ गली नंबर-7, पंजाबी बस्ती, आनंद पर्वत इलाके में रहती थी। राजेश लारेंस रोड स्थित आटा चक्की में काम करता है। मंगलवार सुबह राजेश अपने काम पर चला गया था। सुबह करीब 9 बजे महक (13) कमरे में ही बनी रसोई में खाना बना रही थी। जबकि मां, बहन मोनिका (9) और जुड़वा भाई-बहन मानसी और मोहन सो रहे थे। इसी दौरान अचानक रसोई गैस की पाइप से गैस का रिसाव होने लगा और आग की लपटें निकलने लगीं।

खाना बना रही महक ने जोर-जोर से चिल्लाकर मां को जगाया। मां महक को कमरे से बाहर निकालने के बाद आग बुझाने की कोशिश करने लगी, लेकिन आग तेजी से कमरे में फैलती चली गई। सुशीला और उसके तीन बच्चे इसके चपेट में आ गए। शोर-शराबा सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे। करीब एक घंटे तक मशक्कत के बाद लोगों ने आग बुझा दी। स्थानीय लोगों के मुताबिक तब तक दमकल भी वहां नहीं पहुंची थी।

लोग जब घर के अंदर दाखिल हुए तब बच्चों और मां के कपड़ों में आग लगी हुई थी। उन्होंने किसी तरह आग बुझाया। इस बीच पहुंची पीसीआर ने सुशीला और उसके तीन बच्चों को राममनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचाया। जहां सुशीला को मृत घोषित कर दिया गया। वहीं इलाज के दौरान उसके जुड़वां बच्चों मोहन और मानसी ने दम तोड़ दिया। बेटी मोनिका को आरएमएल से सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि दमकल एक घंटे देर से मौके पर पहुंची। शुरुआती जांच में पता चला है कि सिलिंडर के रेगुलेटर से लगे पाइप से गैस का रिसाव हुआ था। जिसकी वजह से गैस पूरे कमरे में फैली और आग लग गई। सिलिंडर में कोई विस्फोट नहीं हुआ है। पुलिस ने महिला और उसके दोनों बच्चों के शवों का पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजनों को सौंप दिया।

बच्चों को बचाने में गई महिला की जान
स्थानीय लोगों के मुताबिक महक ने अपनी मां को आग लगने की जानकारी दी तो वह सबसे पहले महक को घर से बाहर निकला। इस बीच आग तेजी से फैलती चली गई। सुशीला बिस्तर पर सो रहे बच्चों को उठाने लगी। लेकिन इस दौरान कमरे में धुआं भर गया। वह और उसके बच्चे धुएं के चपेट में आकर बेहोश हो गए। स्थानीय लोग जब आग बुझाकर वहां पहुंचे तो सभी अचेत और झुलसे हुए थे, उनके कपड़ों में आग लगी थी।

काश मैं भी अपने बच्चों के साथ ही मर जाता….
पत्नी और बच्चों के शव को देखकर राजेश का रो-रोकर बुरा हाल है। राजेश बीच-बीच में बेहोश हो गया। उसे डॉक्टर के पास ले जाया गया। करीब आधे घंटे बाद होश में आने के बाद वह फिर से रोने लगा और बार बार यही कहता रहा कि काश मैं भी बच्चों के साथ मर जाता। सिद्धार्थ नगर के गांव खेड़ा बाजार निवासी राजेश पिछले 15 साल के से दिल्ली के आनंद पर्वत इलाके में परिवार के साथ एक कमरे में रहता था।

संकरी गलियों तक दमकल को पहुंचने में हुई दिक्कत
आनंद पर्वत इलाके में संकरी गलियों में घर बने हुए हैं। अग्निशमन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक आग लगने की सूचना मिलते ही दमकल की दो गाड़ियां मौके के लिए रवाना कर दिया गया। लेकिन जिस जगह पर आग लगी थी वहां संकरी गलियां हैं और वहां तक पहुंचने में दमकल की गाड़ियों को समय लग गया।

एलपीजी सिलिंडर के इस्तेमाल में बरते सावधानी
दमकल विभाग के निदेशक अतुल गर्ग का कहना है कि एलपीजी सिलिंडर के इस्तेमाल के दौरान सतर्कता बरतने की जरूरत है। घर में गैस की हल्की बदबू आने पर तुरंत इसकी शिकायत करनी चाहिए। साथ ही सिलिंडर को तुरंत घर से बाहर ले जाना चाहिए। इस दौरान कोई भी बिजली का बटन ऑन नहीं करना चाहिए। रसोई घर में इस्तेमाल होने वाले चूल्हे की समय समय पर सर्विस करानी चाहिए। सफाई के दौरान सिलिंडर से जुड़े पाइप की जांच करनी चाहिए। पाइप में कट होने पर उसे तुरंत बदल देना चाहिए।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING57 mins ago

दुर्गा विसर्जन कर लौट रहे लोगों पर बम से हमला, वाहनों में की गई तोड़फोड़

पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर से बड़ी वारदात सामने आई है। यहां शनिवार रात दुर्गा विसर्जन कर घर लौट रही भीड़...

 बलरामपुर2 hours ago

रेत तस्करों ने तहसीलदार पर किया जानलेवा हमला, अधिकारी ने भागकर बचाई जान

बलरामपुर|जिले के रामचंद्रपुर तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत त्रिशूली में अवैध रेत उत्खनन रोकने गए तहसीलदार व उनके सहयोगियों पर रेत...

 बलरामपुर2 hours ago

रेत तस्करों ने तहसीलदार पर किया जानलेवा हमला, अधिकारी ने भागकर बचाई अपनी जान

बलरामपुर | जिले के रामचंद्रपुर तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत त्रिशूली में अवैध रेत उत्खनन रोकने गए तहसीलदार व उनके सहयोगियों...

BREAKING2 hours ago

केरल में भारी बारिश के बाद रेड अलर्ट जारी, बाढ़ और भूस्खलन से 9 लोगों की मौत…

केरल में कई दिनों से हो रही भारी बारिश से अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है। कई...

BREAKING3 hours ago

सरायपाली एसडीएम द्वारा ग्राम बोन्दा में कोरोना टीकाकरण जागरूकता जन चौपाल का आयोजन किया गया।

सरायपाली(चैनल इंडिया)|सरायपाली एसडीएम नम्रता जैन द्वारा कोरोना टीकाकरण जागरूकता जन चौपाल विकासखंड सरायपाली के ग्राम बोंदा में शाम 5:00 बजे...

Advertisement
Advertisement