Facebook के CEO मार्क जुकरबर्ग कहा-फायदे को कभी यूजर सेफ्टी से ऊपर नहीं रखा – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

Facebook के CEO मार्क जुकरबर्ग कहा-फायदे को कभी यूजर सेफ्टी से ऊपर नहीं रखा

Published

on

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. 6 घंटे तक फेसबुक ठप रहने के विवाद से अभी जुकरबर्ग उबरे भी नहीं थे कि अब इस सोशल नेटवर्किंग साइट पर एक नया आरोप लग गया है. एक व्हिस्ल्ब्लोपअर ने फेसबुक पर आरोप लगाया है कि वो यूजर्स की सेफ्टी से ज्या्दा फायदे पर ध्यान देता है.
अब जुकरबर्ग ने इन सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. जुकरबर्ग ने कहा है कि इन दावों में कोई सच्चाई नहीं है कि सोशल मीडिया की एक डिविजन बच्चों को नुकसान पहुंचाती है और फायदे को सुरक्षा के मुकाबले में ज्यादा तवज्जो देती है. जुकरबर्ग ने इन दावों को बेबुनियाद करार दिया है.

कंपनी के इंप्लॉदयीज को लिखी चिट्ठी

जुकरबर्ग ने फेसबुक इंप्लॉयीज को लिखे एक नोट में अपनी बात रखी है. उन्होने  कहा है, ‘इस तर्क में कोई सच्चाई  नहीं है कि हम जानबूझकर ऐसे कंटेंट को आगे बढ़ाते हैं जो लोगों को नाराज करे और इससे हमें फायदा हो.’ दरअसल व्हिसलब्लोअर फ्रांसिस हाउगन ने अमेरिकी सीनेट की उप-समिति के सामने पेश होकर ये फेसबुक को लेकर बड़ा बयान दिया है. इसके बाद जुकरबर्ग की मुश्किलें बढ़ गई हैं.
उन्होने कंपनी पर आरोप लगाया है कि वो अपने प्लेटफॉर्म्स पर टीनेज सेफ्टी खासकर इंस्टाग्राम पर, फायदे कमाने के लिए विवाद समाधान जैसे मुद्दों की अनदेखी करता है. हाउगन का कहना है कि कंपनी ने अपने उस इंटरनल सर्वे को भी छिपाया, जिसमें खुलासा हुआ था कि कैसे इंस्टाग्राम का ऐल्गरिदम युवाओं के दिमाग पर नकारात्मक प्रभाव डाल रहा है.

कौन हैं व्हिस्लऐब्लोंअर हाउगन

हाउगन फेसबुक की पूर्व कर्मचारी रहीं हैं. उन्होंवने कंपनी की शिकायत यूएस सिक्योरिटीज ऐंड एक्सचेंज कमीशन के सामने की हे. इनमें भारत से जुड़ी कुछ शिकायतें भी शामिल हैं. हाउगन ने अपनी शिकायत के साथ कुछ दस्तावेज भी सौंपे हैं, जिनमें से एक में यह बताया गया है कि कैसे फेसबुक ने आरएसएस की ओर से संचालित या उससे जुड़े अकाउंट्स को प्रमोट किया था. यही नहीं हेट स्पीच वाली पोस्ट्स पर भी फेसबुक पर ऐक्शन न लेने का आरोप लगा है.
हाउगन ने कहा कि कंपनी ने ऐसी महज 0.2 फीसदी पोस्ट् पर ही ऐक्शन लिया था. जुकरबर्ग ने अपने नोट में लिखा है, ‘मुझे नहीं मालूम कि कोई टेक कंपनी ऐसा कोई प्रॉडक्ट तैयार करती होगी जिससे लोग नाराज या हताश हो. नैतिकता, बिजनेस और प्रॉडक्टज का फायदा सभी विपरीत दिशा में जाने वाले बिंदु हैं.’

600 करोड़ अमेरिकी डॉलर का घाटा

सोमवार को फेसबुक के Border Gateway Protocol में एक टेक्निकल फॉल्टर की वजह से इंस्टाग्राम से लेकर व्हाेट्सएप तक ठप हो गए थे. फेसबुक के इंजीनियर्स ने करीब 6 घंटे की मेहनत के बाद जब इसे ठीक किया तो ये तीनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म अपना काम शुरू कर सके. इस टेक्निकल समस्याो और अब नए खुलासों के बाद जुकरबर्ग को करीब 600 करोड़ डॉलर का नुकसान हुआ है. रिपोर्ट्स बताती हैं कि कुछ ही घंटों की इस परेशानी के दौरान अमीरों की सूची में जुकरबर्ग एक पायदान फिसलकर माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स से एक स्थान नीचे आ गए हैं.

 

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING3 hours ago

दुर्गा विसर्जन कर लौट रहे लोगों पर बम से हमला, वाहनों में की गई तोड़फोड़

पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर से बड़ी वारदात सामने आई है। यहां शनिवार रात दुर्गा विसर्जन कर घर लौट रही भीड़...

 बलरामपुर4 hours ago

रेत तस्करों ने तहसीलदार पर किया जानलेवा हमला, अधिकारी ने भागकर बचाई जान

बलरामपुर|जिले के रामचंद्रपुर तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत त्रिशूली में अवैध रेत उत्खनन रोकने गए तहसीलदार व उनके सहयोगियों पर रेत...

 बलरामपुर4 hours ago

रेत तस्करों ने तहसीलदार पर किया जानलेवा हमला, अधिकारी ने भागकर बचाई अपनी जान

बलरामपुर | जिले के रामचंद्रपुर तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत त्रिशूली में अवैध रेत उत्खनन रोकने गए तहसीलदार व उनके सहयोगियों...

BREAKING4 hours ago

केरल में भारी बारिश के बाद रेड अलर्ट जारी, बाढ़ और भूस्खलन से 9 लोगों की मौत…

केरल में कई दिनों से हो रही भारी बारिश से अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है। कई...

BREAKING5 hours ago

सरायपाली एसडीएम द्वारा ग्राम बोन्दा में कोरोना टीकाकरण जागरूकता जन चौपाल का आयोजन किया गया।

सरायपाली(चैनल इंडिया)|सरायपाली एसडीएम नम्रता जैन द्वारा कोरोना टीकाकरण जागरूकता जन चौपाल विकासखंड सरायपाली के ग्राम बोंदा में शाम 5:00 बजे...

Advertisement
Advertisement