Exclusive: शासन द्वारा निर्धारित मीनू का पालन नही हो रहा कबीरधाम जिला के आंगनबाड़ी केंद्रों में… – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

Exclusive: शासन द्वारा निर्धारित मीनू का पालन नही हो रहा कबीरधाम जिला के आंगनबाड़ी केंद्रों में…

Published

on

कवर्धा(चैनल इंडिया)| कबीरधाम जिला में लगभग 1700 से भी अधिक आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन 09 परियोजनाओं में किया जा रहा है जहां से 0-6 वर्षा के बच्चे , गर्भवती /शिशुवती माताओं , किशोरों बालिकाओं के संपूर्ण स्वास्थ्य , विकास से संबंधित भोजन व विशेष पूरक पोषण आहार के माध्यम से किया जाता है इसके लिए अलग अलग दिनों के अलग अलग मीनू भी निर्धारित किया गया है जो केवल कागजो या फिर आंगनबाडी केंद्रों के दीवारों में ही दिखाई देता है । वहां पर लाभान्वित हितग्राहियों को नही मिल पा रहा है , जो समझ से परे है ।

आंगनबाड़ी केंद्र संचालन केवल औपचारिक बना
गांव की झोपड़ियों में रह रहे बचपन को निरक्षरता व कुपोषण से बचाने का जो सपना सरकार ने देखा है वह कबीरधाम जिला मुख्यालय व वनांचल क्षेत्र में फलीभूत होता नजर नहीं आ रहा है। आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को सरकार की योजना का पर्याप्त लाभ नही मिल पा रहा है। शनिवार को आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 01 , 03 कुई , परियोजना कुकदूर में कार्यकर्ता अन्य कार्यो से बाहर थी वही साहयिका बच्चों को महज दाल भात खिलकर अपने दायित्वों का निर्वहन कर रही थी ।

निर्धारित मीनू का पालन नही
आंगनबाड़ी के चिन्हाकित हितग्राहियों के मानसिक व शाररिक विकास हेतु तत्कालीन कलेक्टर अवनीश शरण ने कार्यलय कलेक्टर ( जिला महिला एवं बाल विकास विभाग ) जिला कबीरधाम के पत्र क्रमांक /1091/म बा वि/पो अभि/2019 कबीरधाम दिनांक 19-09-2019 को पत्र जारी कर आंगनबाड़ी केंद्रों में नियमित प्रदान करने वाले आहार का वितरण 03 से 06 वर्ष के बच्चों के लिए अलग अलग दिनों के लिए मीनू निर्धारित किया गया था जो आज भी आंगनबाड़ी केंद्रों के दीवार में लिखा हुआ दिखाई देता है लेकिन उसका पालन वही आंगनबाडी केंद्रों के कार्यकर्ताओं-साहयिका के द्वारा नही किया जाता हैं ।

साहयिका को नही मालूम पर्यवेक्षक का नाम
कुकदूर परियोजना के आंगनबाड़ी केंद्र क्रमांक 01 ग्राम पंचायत कुई के परिसर में संचालित हो रहा है जहां की कार्यकर्ता शनिवार को अवकाश पर थी वही साहयिका को अपने पर्यवेक्षक व परियोजना अधिकारी का भी नाम पता नही मालूम । इससे साबित होता है कि उक्त केंद्रों के अलावा अन्य केंद्रों का नियमित निरीक्षण कितना होता होगा ।

दिया तले अंधेरा , अधिकारी स्वयं जिम्मेदार
उक्त कहावत कबीरधाम जिला के महिला एवं बाल विकास विभाग के लिए सटीक साबित होता है । जिला मुख्यालय व परियोजना मुख्यालय सहित 95 प्रतिशत आंगनबाड़ी केंद्रों में शासन व जिला कलेक्टर द्वारा जारी गर्म भोजन के मीनू का पालन नही हो रहा है । गर्मभोजन के सामग्री को महिला स्व सहायता समूह के माध्यम से प्रदान किया जाना है लेकिन कुछ परियोजना के आंगनबाड़ी में स्वयं कार्यकर्ताओं के द्वारा तो कुछ परियोजना में एक सेक्टर के लिए एक समूह के द्वारा सामग्री का वितरण किया जाता है । मीनू अनुसार प्रतिदिन भाजी भी खिलाना है तो समूह के द्वारा पूरे सेक्टर में कैसे पहुच पाएगा इस बात की जानकारी स्वंम अधिकारी को हैं लेकिन कमीशनखोरी के चलते हितग्राहियों हिस्से में काटा मारी जारी है ।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING8 hours ago

भाजपा जिला संगठन में नेतृत्व परिवर्तन होना चाहिए: संतु दास

बीजापुर(चैनल इंडिया)|भाजपा संगठन में अन्तकर्लह और बयानबाजी सोशल मीडिया में जोरो पर बढ़ता जा रहा है ठंडी के मौसम राजनीति...

BREAKING9 hours ago

ISRO दे रहा है फ्री ऑनलाइन कोर्स करने का मौका, जानिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन…

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन  छात्रों के लिए एक फ्री ऑनलाइन कोर्स की पेशकश कर रहा है. 12-दिवसीय पाठ्यक्रम ‘देहरादून स्थित...

BREAKING10 hours ago

वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा- देश की अर्थव्यवस्था विकास के स्थिर पथ पर है, GDP संख्या उत्साजनक होगी…

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण  ने आज की साझेदारी में शनिवार को आयोजित एचटी लीडरशिप समिट में कहा कि...

BREAKING10 hours ago

गोदावरी पावर एंड इस्पात लिमिटेड अब “ग्रेट प्लेस टू वर्क” -प्रमाणित

रायपुर(चैनल इंडिया)| गोदावरी पावर एंड इस्पात लिमिटेड (हीरा ग्रुप की इकाई ) अब “ग्रेट प्लेस टू वर्क” से प्रमाणित है।...

BREAKING10 hours ago

कमजोर पड़ा चक्रवात ‘जवाद’, छग में टला बारिश का खतरा

रायपुर(चैनल इंडिया)| समुद्री चक्रवात जवाद के रूप में मंडरा रहा खतरा टलता दिख रहा है। मौसम विभाग ने बताया है,...

Advertisement
Advertisement