खबरे अब तक

Special News

हादसे में घायल एक और मजदूर की मृत्यु , मामला सार्थक टीएमटी का, मजदूरों का हक और उचित इलाज क्यों नहीं



रायपुर|औद्योगिक क्षेत्र उरला के सरोरा स्थित सार्थक इस्पात में जबरदस्त विस्फोटक हुई थी जिसमें एक पवन साहू युवक जिसकी नाबालिक उम्र थी उनकी मौके पर मृत्यु हो गई थी आज राम रतन नामक युवक जो वहां पर कार्यरत श्रमिक है जो घायल अवस्था में पाया गया थे आज उनकी मृत्यु हो गई आपको बता दें कि 2 दिनों पूर्व सार्थक इस्पात में अचानक जबरदस्त ब्लास्ट हुआ था जिसमें पवन साहू नामक व्यक्ति की तत्काल मृत्यु हो गई थी वही करीब 7 से 8 कर्मचारियों की जलने से हालत गंभीर बनी हुई थी जिसमें रामरतन नामक व्यक्ति उम्र 42 वर्ष की आज मृत्यु हो गई लेकिन आपको बता दें सार्थक इस्पात द्वारा लोगों को ना तो उचित मुआवजा दिया जा रहा है ना उसके उचित इलाज की व्यवस्था की जा रही है सार्थक टीएमटी में पवन साहू नामक नाबालिक व्यक्ति की मृत्यु पर उनको उचित मुआवजा नहीं दिया गया जिससे कई राजनीतिक संगठन नाराज हैं और न हीं घायलों की उचित इलाज की व्यवस्था की जा रही हैं आखिर श्रम विभाग और शासन प्रशासन चुप्पी साधे क्यों बैठे हैं कामगार के शिवसेना नेता परमानंद वर्मा ने सवाल उठाया कि आखिर इस तरह का रवैया छत्तीसगढ़ के श्रमिकों पर कब तक ढहाया  जाएगा आखिर कब छत्तीसगढ़ियो का उनका हक अधिकार पूरा किया जाएगा घायल हुए श्रमिकों का मुवावजा क्यों नहीं दिया जा रहा है और उनकी इलाज की उचित व्यवस्था क्यों नहीं की जा रही है आखिर क्या कारण है कि सरकार चुप्पी साधे बैठे हैं ऐसे कहां गई छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया की नारा लगाने वाले छत्तीसगढ़ की सरकार आखिर इतनी ऐसे उद्योगपति पर मेहरबान क्यों हैं छत्तीसगढ़िया सरकार कहीं ना कहीं छत्तीसगढ़ी हो पर कम और उद्योगपति पर मेहरबान ज्यादा हैं इस तरह के आरोप शिवसेना के नेता परमानंद ने शासन पर सीधा आरोप लगाया।

इसे भी पढ़े   कौन हैं सबरीना सिंह, जिन्हें कमला हैरिस ने बनाया वाइट हाउस का उप प्रेस सचिव