Corona vaccine: अमेरिका जल्द दे सकता है खुशखबरी, 30,000 लोगों पर ट्रायल दी अनुमति…. – Channelindia News
Connect with us

amerika

Corona vaccine: अमेरिका जल्द दे सकता है खुशखबरी, 30,000 लोगों पर ट्रायल दी अनुमति….

Published

on



कोरोना वायरस वैक्सीन पर अमेरिका के लोगों को जल्द अच्छी खबर सुनने को मिल सकती है. फाइजर इंक (Pfizer) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अल्बर्ट बोरला का कहना है कि ये साल खत्म होने से पहले अमेरिका के लोगों तक  Covid-19 वैक्सीन पहुंचने की पूरी संभावना है. बोरला का कहना है कि कंपनी इसके लिए पूरी तरह तैयार है.
बोरला का कहना है कि वो इस बात को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं कि ये वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और यूएस रेगुलेटर्स और फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन की तरफ से मंजूरी मिलते ही इसे लोगों को देना शुरू कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि  2021 से पहले अमेरिका के सभी लोगों को ये वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी
फाइजर इंक ये वैक्सीन बायोएनटेक के साथ मिलकर बना रहा है. बोरला ने कहा, ‘मैं यह नहीं कह सकता कि FDA का क्या रुख होगा लेकिन मुझे लगता है कि हमें इसकी मंजूरी मिल जाएगी और हम इसकी पूरी तैयारी कर रहे हैं.’
बोरला ने कहा, ‘अगर ये काम करती है तो लोगों को जल्द उपलब्ध कराई जाएगी.’ उन्होंने कहा कि इसके क्लिनिकल ट्रायल के नतीजे कब तक आएंगे, ये इस बात पर निर्भर करता है कि हमें स्टडी के लिए पर्याप्त लोग कब तक मिल पाते हैं. स्टडी के सकारात्मक नतीजों से हमें वैक्सीन की मंजूरी जल्दी मिल जाएगी.
न्यूयॉर्क स्थित फाइजर और जर्मनी के बायोएनटेक को मॉर्डना इंक और एस्ट्राजेनेका के साथ-साथ वैक्सीन की दौड़ में आगे देखा जा रहा है. बोरला ने कहा कि फाइजर और उसकी सहयोगी कंपनी को 60 फीसदी उम्मीद है कि वो अपनी प्रायोगिक वैक्सीन की क्षमता के बारे में अक्टूबर तक पता लगा लेगी
कंपनी ने एक बयान में कहा कि वो इसी हफ्ते वैक्सीन के अंतिम चरण के क्लिनिकल ट्रायल के लिए  30,000 मरीजों का नामांकन करेगी. इसके अलावा युवाओं समेत 44,000 और लोगों को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया है जिसमें एचआईवी, हेपेटाइटिस बी और हेपेटाइटिस सी के मरीज भी होंगे.
बोरला ने कहा कि वे अफ्रीकी-अमेरिकियों सहित अलग-अलग रंग के ज्यादा से ज्यादा लोगों को अपने लेट स्टेज ट्रायल में शामिल करने की कोशिश करेंगे. फिलहाल अभी 60 फीसदी श्वेत और 40 फीसदी अश्वेत लोगों पर स्टडी की जा रही है, जिसमें 44 फीसदी लोग बुजुर्ग हैं.
बोरला का कहना है कि फाइजर ने अपनी Covid-19 वैक्सीन के रिसर्च में कर दाताओं के पैसे का किसी भी तरह इस्तेमाल नहीं किया है. इसका मकसद यही है कि इसे सरकार और नौकरशाह के प्रभाव से बचाया जा सके. उन्होंने कहा, ‘मैं  फाइजर को राजनीति से दूर रखना चाहता हूं.’

इसे भी पढ़े   मुख्यमंत्री ने नवा रायपुर के सेक्टर-24 में निर्माणाधीन मुख्यमंत्री निवास का भ्रमण कर प्रगति की जानकारी ली

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING2 hours ago

छत्तीसगढ़ में भी दिखा तूफान “ताउ-ते” का असर, इन जिलों में आकाशीय बिजली व  हवाओं के साथ तेज बारिश ने बरपाया कहर…

अंबिकापुर/ कोरिया/बलरामपुर(चैनल इंडिया)। चक्रवात “ताउ-ते” का सरगुजा में भी असर दिखाई दे रहा है, ऐसा लगा रहा है कि तूफान ने...

channel india2 hours ago

कांग्रेस नेता गुलजार सिंह ठाकुर कांग्रेस जिला अध्यक्ष चौलेश्वर चन्द्राकर टीका लगवाया

सक्ती। विधायक जिला प्रतिनिधि गुलजार सिंह ठाकुर एवं जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष चौलेश्वर चन्द्राकर के द्वारा बम्हनीडीह ब्लॉक के ग्राम...

BREAKING3 hours ago

छत्तीसगढ़ के इस बिजनेसमैन के साथ सात फेरें लेंगी, सुशांत सिंह राजपूत की EX गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे…

रायपुर(चैनल इंडिया)| बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्लफ्रेंड मशहूर टीवी एक्ट्रेस अंकिता लोखंडे को लेकर एक बड़ी खबर...

channel india3 hours ago

AIIMS में सीनियर रेजिडेंट समेत कई अन्य पदों पर हो रही भर्तीयां, आवेदन करने के लिए पढ़े पूरी खबर…

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, (AIIMS) भुवनेश्वर ने सीनियर रेजिडेंट पदों पर भर्ती निकाली हैं। उम्मीदवार एम्स की आधिकारिक वेबसाइट aiimsbhubaneswar.nic.in...

BREAKING3 hours ago

इस पौधे की खेती कर आप कमा सकते है कुछ ही दिनों में लाखों रूपये, बीज- सूखे पत्ते व जड़ों तक की होती है बिक्री…

किसानों के लिए आज के समय में एक से एक विकल्प मौजूद हैं. इनके सहारे वे अपनी आय बढ़ा रहे...

Advertisement
Advertisement