CM खट्टर ने किया बड़ा ऐलान, 11वीं और 12वीं कक्षा के बच्चों को मुफ्त दिए जाएंगे 5 लाख टैबलेट… – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

CM खट्टर ने किया बड़ा ऐलान, 11वीं और 12वीं कक्षा के बच्चों को मुफ्त दिए जाएंगे 5 लाख टैबलेट…

Published

on

हरियाणा के सरकारी स्कूलों में अगले शैक्षिक सत्र में बच्चों को टैबलेट मिल जाएंगे. जहां मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रदेशभर के 11वीं और 12वीं कक्षा के 4.5 लाख विद्यार्थियों को आने वाले सत्र से टैबलेट दिए जाएंगे. ऐसा पहली बार हुआ है कि 36 हजार टीचर भी टैब से लाभान्वित होंगे. इसलिए हरियाणा सरकार ने 560 करोड़ रुपए की लागत से 5 लाख टैबलेट खरीदने का फैसला लिया है. वहीं, प्रोजेक्ट सफल रहने पर अन्य कक्षाओं के बच्चों को टैबलेट दिए जाएंगे.

दरअसल, सैमसंग कंपनी ने आर्डर पूरा करने के लिए 4 महीने का समय लिया है, ऐसे में नए शैक्षिक सत्र में ही बच्चों को टैबलेट मिल पाएंगे. पहले 8वीं से 12वीं तक के बच्चों को टैबलेट देने का फैसला लिया गया था, लेकिन अब 8वीं से 10वीं तक के बच्चों को टैबलेट देने का काम प्रोजेक्ट की सफलता पर निर्भर करेगा. इसके अलावा जल्द ही किसानों को 15 हजार ट्यूबवेल कनेक्शन जारी किए जाएंगे.
सूबे में इसके लिए 350 करोड़ से बिजली उपकरण खरीदे जाएंगे. वहीं, मंगलवार को हुई बैठक के बाद सीएम ने कहा कि हाई पावर परचेज कमेटी की बैठक में कुल 23 एजेंडे रखे गए, जिसमें लगभग 1 हजार करोड़ रुपए की परचेज से संबंधित फैसले लिए.

किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन देने के लिए खरीदे जाएंगे उपकरण – खट्टर
बता दें कि सीएम खट्टर ने बताया कि किसानों को जल्द ट्यूबवेल कनेक्शन देने के लिए कनेक्शन के लिए वायर, ट्रांसफार्मर व अन्य उपकरणों की खरीद की जाएगी. इससे दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम और उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम से जुड़े हजारों किसानों को लाभ मिलेगा. उन्होंने कहा कि हमने नेगोशिएट करके कम से कम रेट में खरीद की है. वहीं, MSME को भी बुलाया है और 50 प्रतिशत समान उनसे खरीदा जाता है.

राजस्व बचाना बैठक का अहम उद्देश्य- CM
वहीं, इस बैठक में सीएम ने कहा कि सरकार के राजस्व को बचाना हाई पावर परचेज कमेटी की बैठक का मुख्य एजेंडा है. इस कमेटी के सदस्य परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, शिक्षा मंत्री कंवरपाल और श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री अनूप धानक कमेटी के स्थाई सदस्य हैं. वहीं, मुख्य सचिव, निदेशक आपूर्ति और निपटान व संबंधित विभाग के एसीएस भी सदस्य होते हैं. जिस भी सामान की खरीद करनी होती है, उसका टेंडर भरने वाले व्यक्ति से आमने-सामने बैठकर बातचीत करके फैसला लिया जाता है. इस ओपन खरीद प्रक्रिया से पारदर्शिता आती है और राजस्व भी बचाया जाता है.

प्रोजेक्ट सफल रहने पर अन्य कक्षाओं के विद्यार्थियों को दिए जाएंगे टैब
गौरतलब है कि हरियाणा सरकार ने पहले 8वीं कक्षा से टैबलेट देने की घोषणा की थी. वहीं, शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने बताया कि 11वीं 12वीं कक्षा के विद्यार्थी समझदार होते हैं. ऐसे में यदि इन पर यह प्रोजेक्ट सफल रहा तो अन्य कक्षाओं के विद्यार्थियों को भी टैब देंगे. वहीं, 12वीं कक्षा पास करने के बाद विद्यार्थियों को इसे वापस स्कूल को लौटाना होगा.

 

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING14 mins ago

नासा ने किया दावा: चांद के ऑक्सीजन से लाखों साल तक सांस ले सकते हैं लोग…

ऑस्ट्रेलियन अंतरिक्ष एजेंसी का मुख्य उद्देश्य है कि वह अपने लूनर रोवर के जरिए चांद की सतह से पत्थर जमा...

BREAKING29 mins ago

आश्रम अधीक्षक ने पढ़ने आए बच्चों को कराई मजदूरी

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में बाल मजदूरी का मामला सामने आया है। आश्रम अधीक्षक खुद के खेत में आश्रम के...

BREAKING46 mins ago

कंगना रनौत ने दर्ज कराई FIR, जाने क्या है पूरा मामला…

अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है, जिसके जरिए एक्ट्रेस ने बताया कि उन्होंने उन...

BREAKING58 mins ago

CG News: निर्वाचन आयोग ने इन 103 लोगों के चुनाव लड़ने पर लगाई रोक

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के नगरीय निकायों में आम और उप चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। इस बीच राज्य...

BREAKING1 hour ago

Cm योगी ने दिए निर्देश, विदेश से आने वालों की पड़ताल हो और कहा- हर स्तर पर बरतें सावधानी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्चाधिकारियों को कोविड के ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर हर स्तर पर सावधानी बरतने के निर्देश दिए...

Advertisement
Advertisement