4 महीने में भारतीयों को मिल जाएगी कोरोना वैक्सीन, अदार पूनावाला ने बताई कीमत – Channelindia News
Connect with us

channel india

4 महीने में भारतीयों को मिल जाएगी कोरोना वैक्सीन, अदार पूनावाला ने बताई कीमत

Published

on


दुनिया भर से अब कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबरें आने लगी हैं। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) के CEO अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) का कहना है कि भारत में आम लोगों को ऑक्सफोर्ड की COVID-19 वैक्सीन अप्रैल से मिलने लगेगी।

पूनावाला ने ये जानकारी Hindustan Times Leadership Summit 2020 में दी..

पूनावाला ने कहा कि ऑक्सफोर्ड वैक्सीन (Oxford Vaccine) 2021 के फरवरी तक बुजुर्गों और हेल्थ केयर वर्कर्स को दी जाएगी जबकि अप्रैल तक ये आम लोगों तक पहुंच जाएगी। उन्होंने कहा कि संभावना है कि 2024 तक हर भारतीय को वैक्सीन लग जाएगी।

पूनावाला ने कहा, ‘भारत के हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाने में दो से तीन साल तक का समय लगेगा। इसकी वजह वैक्सीन की आपूर्ति में कमी नहीं बल्कि जरूरी बजट, सही व्यव्स्था और बुनियादी ढांचे की जरूरत होगी। इसके अलावा ये लोगों की वैक्सीन लगवाने की इच्छा पर भी निर्भर करता है। पूरी आबादी के 80-90 फीसदी लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए ये सारी चीजें होनी जरूरी हैं।’

इसे भी पढ़े   बड़ी खबर : पूर्व राष्ट्रपति की हालत बेहद नाजुक….सेहत में कोई भी सुधार नहीं….आर्मी अस्पताल ने हेल्थ को लेकर कही ये बातें

वैक्सीन की कीमतों पर पूनावाला ने कहा कि लोगों को इस वैक्सीन की दो डोज के लिए अधिकतम एक हजार रूपए देने होंगे, ये फाइनल ट्रायल के नतीजों और रेगुलेटरी मंजूरी पर भी निर्भर करेगा। वहीं वैक्सीन की क्षमता पर पूनावाला ने कहा कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन बुजुर्गों पर बहुत असरदार साबित हुई है।

पूनावाला ने कहा, ‘ये वैक्सीन टी सेल  (T-cell) पर अच्छा काम करती है, जो लॉन्ग टर्म इम्यूनिटी और एंटीबॉडी रिस्पॉन्स के लिए जरूरी माना जाता है। हालांकि ये समय ही बताएगा कि ये वैक्सीन लंबे समय तक कितनी सुरक्षा देगी। वैक्सीन पर इस तरह के सवालों का जवाब अभी किसी के पास नहीं है।’

इसे भी पढ़े   बेरहम पुलिस: पुलिसवालों ने बीमार महिला को नहीं ले जाने दिया अस्पताल, रास्ते में तोड़ा दम...

सुरक्षा से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि फिलहाल वैक्सीन से जुड़ी कोई बड़ी शिकायत, गंभीर दुष्प्रभाव नहीं देखे गए हैं। हमें इंतजार करने की जरूरत है। भारत में चल रहे इसके ट्रायल के नतीजे एक-डेढ़ महीने में सामने आ जाएंगे, जिससे इसकी क्षमता और प्रभाव के बारे में और ज्यादा जानकारी मिल सकेगी।

वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल पर सीरम इंस्टीट्यूट के प्रमुख ने कहा कि UK में अधिकारियों और यूरोपियन दवा मूल्यांकन एजेंसी (EMEA) से इसके इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिलती है, हम ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया में वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए अप्लाई करेंगे। हालांकि ये सिर्फ फ्रंटलाइन वर्कर्स, हेल्थकेयर वर्कर्स और बुजुर्गों तक सीमित होगा।

पूनावाला ने कहा कि बच्चों को वैक्सीन के लिए थोड़ा ज्यादा इंतजार करना होगा, जब तक कि इसका सेफ्टी डेटा नहीं आ जाता। उन्होंने कहा कि अच्छी बात ये है कि बच्चों के लिए COVID-19 ज्यादा खतरनाक नहीं है।

इसे भी पढ़े   किसान हमारे अन्नदाता उनके सामने झुकना फक्र होता है ,  भूपेश सरकार की है पहचान, सुखी और समृद्धि हो किसान - कांग्रेस

पूनावाला ने कहा, ‘कोरोना वायरस की तुलना में खसरा, निमोनिया जैसी बीमारियां बच्चों के लिए ज्यादा घातक हैं। हालांकि बच्चे कोरोना का संक्रमण दूसरों में फैला सकते हैं। हम बुजुर्गो और ऐसे लोगों को पहले वैक्सीन लगाना चाहते हैं जिनमें संक्रमण होने का खतरा ज्यादा है।’

पूनावाला ने कहा कि ऑक्सफोर्ड वैक्सीन सस्ती और सुरक्षित है साथ ही इसे 2 से 8 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर स्टोर किया जा सकता है। इस तापमान पर भारत के ठंडे इलाकों में इस वैक्सीन को स्टोर किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट की योजना फरवरी से हर माह लगभग 10 करोड़ डोज बनाने की है।

Advertisement
Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india4 hours ago

कलेक्टर श्याम धावड़े ने जनचैपाल में सुनी आमजनों की समस्याएं, कहा- ‘नौनिहालो को स्वस्थ एवं सुपोषित जीवन प्रदान करना हमारा नैतिक दायित्व’

बलरामपुर: विकासखण्ड बलरामपुर के ग्राम पंचायत बरदर में अनुविभागीय स्तर पर जनचैपाल आयोजित कर शासकीय योजनाओं की जानकारी तथा विभिन्न...

channel india4 hours ago

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक खरीदी पूर्व उपार्जन केन्द्रों का दौरा कर वस्तुस्थिति का लिया जायजा, उपार्जन केन्द्र के कर्मचारियों को दिये आवश्यक निर्देश

बलरामपुर: राज्य शासन द्वारा आगामी 1 दिसम्बर से छत्तीसगढ़ के कृषकों से समर्थन मूल्य में उपार्जन केंद्रों के माध्यम से...

channel india4 hours ago

जनप्रतिनिधियों ने पुलिस पर अवैध कारोबारियों के ऊपर कार्यवाही नहीं करने का लगाया आरोप, पुलिस ने कहा- ‘अवैध कारोबार करते पकड़ा गया तो करेंगे सख्त कार्यवाही’

रायपुर ( धरसीवा )। औद्योगिक क्षेत्र पर नशे का कारोबार करने वाले लोगों पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने कार्यवाही नहीं करने...

channel india5 hours ago

SKS उद्योग द्वारा पर्यावरण जनसुनवाई का हुआ आयोजन: जनप्रतिनिधि व स्थानीय लोग हुए नाराज, बिना सूचना दिए किया गया था आयोजन

धरसीवां- (चैनल इंडिया)। औद्योगिक क्षेत्र सिलतरा के फेस2 में एसकेएस इस्पात एंड पावर लिमिटेड द्वारा पर्यावरण जनसुनवाई का आयोजन किया...

channel india5 hours ago

धरसीवा पुलिस ने नशा मुक्ति अभियान के तहत 2 लोगों पर कार्यवाही कर भेजा जेल

धरसीवा- (चैनल इंडिया)। रायपुर पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नशामुक्ति अभियान…संभव है? के तहत पुलिस सहायता केंद्र सिलतरा थाना धरसीवां...

खबरे अब तक

Advertisement