खबरे अब तक

channel indiaCHANNEL INDIA NEWSखबरे छत्तीसगढ़रायपुर

छत्तीसगढ़ क्रांति सेना और ग्रामीणों का धरना नहीं लगने देंगे उद्योग, ग्रामसभा पारित निर्णय को उद्योगपति का मानने से इनकार



तिल्दा| तिल्दा स्थित ग्राम किरना में बड़ी संख्या में क्रांति सेना व ग्रामीणों ने उद्योग नहीं लगने देने का विरोध कर धरना प्रदर्शन किया गया| आपको बता दें कि कुछ महीना पहले ग्राम पंचायत वाला सौर्या स्पात फैक्ट्री लगाने पंचायत द्वारा एनओसी जारी किया गया बाद में ग्रामीणों ने प्रदूषण व फसल बर्बाद होने के डर से ग्राम सभा कर एनओसी निरस्त करने का प्रस्ताव पास किया जिसमें बड़ी संख्या में ग्रामीण व  राज्यसभा सांसद व आसपास के स्थानीय जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे| लेकिन अब शौर्या इस्पात के डायरेक्टर द्वारा इसे मानने से इंकार कर निर्माण कार्य किया जा रहा है|

इसे भी पढ़े   शैक्षणिक व आवासीय शुल्क को लेकर छात्रों के ऊपर दबाव ना बनाय जाए- अभाविप.......

उनका कहना है कि, पंचायत द्वारा जो एनओसी जारी किया गया वह निरस्त नहीं किया जा सकता जिसे पंचायत द्वारा एनओसी जारी किया गया हैं| ऐसे में ग्रामीण व छत्तीसगढ़ी क्रांति सेना के द्वारा धरना स्थल पर बड़ी संख्या पर पहुंचे| छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना के प्रदेश अध्यक्ष अमित बघेल ने कहा कि जो पंचायत द्वारा एनओसी जारी किया गया था उसे ग्राम सभा में निरस्त कर उद्योग नहीं लगाने को लेकर प्रस्ताव पारित किया गया है और इसे उन्हें मानना होगा|
छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना द्वारा तहसीलदार व सीईओ को ज्ञापन सौंपकर कहां की अगर ग्राम सभा द्वारा प्रस्ताव पारित निर्णय नहीं माने जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गई| वहीं स्थानीय सरपंच का कहना है कि एनओसी ग्राम पंचायत में सर्वसम्मति से पारित किया गया है लेकिन ग्रामीणों द्वारा ग्राम सभा में एनओसी निरस्त कर उद्योग नहीं लगाने का प्रस्ताव पारित किया गया| फिर भी सौर्या इस्पात के डायरेक्टर द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है जिस पर ग्रामीणों का छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना बड़ी संख्या में धरना स्थल पर पहुंचकर निर्माण कार्य रोकने को लेकर ज्ञापन दिया व उग्र आंदोलन की चेतावनी दी|

छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना व ग्रामीणों को नाराजगी देखते हुए पुलिस फोर्स दल बल के साथ शौर्य स्पात फैक्ट्री में पहुंच गए थे अब आगे देखना है कि ग्राम सभा के प्रस्ताव को लेकर तहसीलदार क्या निर्णय लेते हैं उस स्थिति में छत्तीसगढ़ क्रांति सेना और ग्रामीण का अगला कदम क्या होगा।

इसे भी पढ़े   महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का किया गया आयोजन,कार्यक्रम में शामिल होकर महिला जनप्रतिनिधियों ने रखे अपने विचार