कबीरधाम के सरकारी कर्मियों के द्वारा अपने मूलकार्यो के बजाए अन्य कार्यो में रहते हैं  व्यस्त, कार्यवाही का अभाव  – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

कबीरधाम के सरकारी कर्मियों के द्वारा अपने मूलकार्यो के बजाए अन्य कार्यो में रहते हैं  व्यस्त, कार्यवाही का अभाव 

Published

on

कवर्धा(चैनल इंडिया)| शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को अपने कार्यो के बजाए अन्य कार्यो में कुछ ज्यादा ही रुचि लेते देखे जाते है । जिसकी शिकायत हमेशा होते रहते हैं लेकिन कार्यवाही के नाम पर कोरम पूर्ति करते रहते हैं ।जब जिला शिक्षाधिकारी राकेश पाण्डेय  कवर्धा में पदस्थ हुए तब काफी सुर्खियों में थे और शिक्षा विभाग में कार्यरत शिक्षकों में दहशत का महौल रहता था लेकिन अब  सभी पुराने ढर्रे शुरू हो गई । कोई शिक्षक अपने पत्नी व बच्चों के नाम से जीवन बीमा तो कोई जमीन दलाली करते पंजीयक कार्यालय में देखे जा सकते हैं और वो भी बिना छुट्टी लिए । यह माजरा के केवल शिक्षा विभाग का ही नही बल्कि अन्य विभागीय अधिकारियों – कर्मचारियों के फितरत में है ।

कार्यदिवस पर अपने कर्तव्य से रहते हैं नदारद
जिले के सभी विकासखंड के स्कूलों में पदस्थ शिक्षक अपने मूल कार्य शिक्षकीय को छोड़कर कुछ शिक्षक पूरे विभाग को बदनाम कर रहे हैं । कुछ चिन्हाकित शिक्षक भारतीय जीवन बीमा निगम  , कोई परिवहन विभाग ,  कोई  जमीन खरीदी बिक्री , कोई तो राशन दुकान , कोई तो जनप्रतिनिधियों की भी जिम्मेदारी निभाते हुए जिला , जनपद पंचायत  सहित अन्य  सरकारी -निजी विभागों में देखा जा सकता है यह कार्य अन्य विभागों के अधिकारियों -कर्मचारियों के द्वारा भी किया जाता है । इनके द्वारा अपने बच्चे व पत्नि के नाम से अन्य कार्य करते हैं लेकिन यह कार्य स्वयं करते हैं ।

CCTV कैमरे में भी होते हैं कैद 
उक्त कार्य मे लगे नामचीन कुछ अधिकारियों -कर्मचारियों ने अपने मूल पदस्थापना स्थल के उपस्थित पंजी में हस्ताक्षर कर अन्य कार्यो के बहाना से  अपने कार्यस्थल से निकल कर अपने बीबी बच्चे के नाम से कार्य मे लगकर स्वयं करते रहते हैं ये लोग ये भी भूल जाते हैं कि वहाँ पर लगे सीसीटीवी कैमरे में उनके तसवीर कैद हो रहे हैं ।  सभी तरह के नियम कायदों को जेब मे लेकर चलते हैं ।

जनप्रतिनिधियों के कार्य भी रूप में 
कुछ अधिकारियों-कर्मचारियों को जनप्रतिनिधियों के रूप में भी देखे जा सकते हैं दरसल पंचायतीराज अधिनियम में महिलाओं को भी पचास फीसदी आरक्षण दिया गया हैं जिसके चलते पंच ,सरपंच ,जनपद ,जिलापंचायत सदस्यों के रूप में निर्वाचित हो गए है तो उनके द्वारा पत्नी के कार्यो में  भी हाथ बटाते हुए देखे जा सकते हैं ऐसा नही कि यह जानकारी  उच्चाधिकारियों  को नही है सबको पता  हैं बावजूद उनपर कार्यवाही करने के बजाए उन्हें प्रोत्साहित करते हैं । कुछ लोग उचित मूल्य की दुकान में बैठकर राशन भी बेचते देखे जा सकते हैं साथ ही कुछ लोग चिटफंड और नेटवर्किंग कम्पनियों में जुड़कर लोगो से पैसा वसूल रहे हैं ।

अधिकारियों का डर नही 
कबीरधाम जिला शिक्षाधिकारी श्री राकेश पाण्डेय पदस्थ हुए तब उनके द्वारा औचक निरीक्षण , जांच  करते थे तब अनेक प्रकार की कमजोरी सामने आने लगे थे । जिसका विभाग के  संघ ने विरोध करने लगे । उनके दबाव के चलते अधिकारी भी शांत हो गए । इसी प्रकार अन्य विभागों के अधिकारियों के द्वारा भी कार्यवाही करते तो शायद इसतरह का कार्य नही हो पाता और व्यवस्था में सुधार हो जाता ।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING3 mins ago

CG News: निर्वाचन आयोग ने इन 103 लोगों के चुनाव लड़ने पर लगाई रोक

रायपुर (चैनल इंडिया)| छत्तीसगढ़ के नगरीय निकायों में आम और उप चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। इस बीच राज्य...

BREAKING6 mins ago

Cm योगी ने दिए निर्देश, विदेश से आने वालों की पड़ताल हो और कहा- हर स्तर पर बरतें सावधानी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्चाधिकारियों को कोविड के ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर हर स्तर पर सावधानी बरतने के निर्देश दिए...

BREAKING3 hours ago

यहां के फैक्टरी में लगी भीषण आग, जवानों ने मौके पर पहुँचकर बचाई लोगों की जान…

पुलवामा में सोमवार देर रात एक फैक्टरी में आग लग गई। काम कर रहे कई मजदूर अंदर फंस गए। सूचना...

bilaspur3 hours ago

बाघ और बाघिन के बीच कातिलाना प्यार! जानिए क्या है पूरा मामला

लोरमी (चैनल इंडिया)| इंसानी रिश्तों में इश्क और फिर कत्ल की कहानी तो सभी ने खूब सुनी होगी, लेकिन छत्तीसगढ़...

BREAKING3 hours ago

कृषि कानूनों की वापसी के बाद आंदोलन में शामिल किसान लौटना चाहते हैं घर, संयुक्त किसान मोर्चा के फैसले का इंतजार…

कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली से सटे सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि वे अब घर...

Advertisement
Advertisement