भाजपा नेता बतायें कि 15 साल में रमन सरकार ने धान के सुरक्षित भंडारण के लिये कितने गोदामों का निर्माण कराया है? – कांग्रेस – Channelindia News
Connect with us

channel india

भाजपा नेता बतायें कि 15 साल में रमन सरकार ने धान के सुरक्षित भंडारण के लिये कितने गोदामों का निर्माण कराया है? – कांग्रेस

Published

on


रायपुर(चैनल इण्डिया)। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि धान की बर्बादी पर घड़ियाली आंसू बहाने वाले भाजपा नेता जवाब दें कि छत्तीसगढ़ में 15 साल सरकार चलाने के दौरान भाजपा सरकार ने धान को सुरक्षित भंडारण के लिये कितने गोडाउन का निर्माण करवाया था? 15 साल में कमीशनखोरी के लिये बिना आवश्यकता के सिर्फ कमीशनखोरी की नियत से बड़ी-बड़ी अट्टालिकायें बनाने वाली तत्कालीन रमन सरकार ने धान के सुरक्षित भंडारण के लिये कोई योजना क्यों नहीं बनाया?

धान की रक्षा के लिये कोई निर्माण क्यों नहीं करवाया? भाजपा की रमन सिंह सरकार ने 15 साल धान को संरक्षित करने और धान खरीदी को सुव्यवस्थित करने की कोई व्यवस्था क्यों नहीं बनाई? कांग्रेस सरकार तो धान को सुरक्षित करने के लिये चबूतरे बना रही है। कांग्रेस सरकार में तो स्थिति बहुत बेहतर है। भाजपा शासनकाल में तो इससे ज्यादा धान बारिश में भीगने और सड़ने से खराब हो जाता था। रमन सिंह के शासनकाल में उपार्जित धान के खराब होने का विवरण जारी करते हुये संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि वर्ष 2019-20 में कुल उपार्जित 83.94 लाख मे.टन धान में से 78.80 लाख मे. टन (94.3 प्रतिशत) धान का निराकरण किया जा चुका है। शेष 5.14 लाख मे.टन धान का निराकरण जारी है, जिसे 15 दिसंबर 2020, तक निराकृत कर लिया जायेगा। संपूर्ण धान के निराकरण हुये बिना ही सूखत अथवा खराब धान की मात्रा को लेकर भाजपा नेताओं का बयान आधारहीन और कोरी बयानबाजी है। कांग्रेस सरकार का प्रयास है कि खराब धान की मात्रा न्यूनतम रहे। विगत सत्र के धान का निराकरण लगातार जारी है। आधी अधूरी जानकारी को लेकर लगाये जा रहे भाजपा के आरोप गलत एवं निराधार है।

इसे भी पढ़े   जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम हुई मुस्तैद, ईलाकों को किया गया सील, संक्रमित मरीजों का ईलाज जारी, हालत स्थिर

 

क्र. खरीफ वर्ष उपार्जित धान की मात्रा (लाख टन में) खराब हुये धान की मात्रा (टन में)

 

  1. 2011-12        59.72               50841
  2. 2012-13        71.36              100381
  3. 2013-14        79.72              78161

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में कुल 83.94 लाख मे.टन धान का उपार्जन किया गया जिसमें से 51.70 लाख में. टन धान सीधे समितियों से मिलर को प्रदाय किया जो कुल धान उपार्जन का 62 प्रतिशत है। विगत वर्षो में कुल उपार्जित धान के विरूद्व मिलरो द्वारा उठाव का प्रतिशत एवं धान की मात्रा जारी करते हुये प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि समितियों से सर्वाधिक मात्रा में धान का सीधा उठाव इस वर्ष किया गया है, जिसके कारण शासन को परिवहन राशि की बचत भी हुई है। कांग्रेस सरकार द्वारा सफलतापूर्वक सुव्यवस्थित रूप से धान की खरीदी से भाजपा नेताओं को स्वाभाविक रूप से पेट में पीड़ा हो रही है। अगर भाजपा की सोच सही होती तो भाजपा आगे आकर कांग्रेस सरकार की सफलता को स्वीकार करने का नैतिक साहस प्रदर्शित कर लें।

इसे भी पढ़े   सहकारिता एवं उद्योग समिति की बैठक 17 जून को

क्रं. खरीफ वर्ष उपार्जित धान की मात्रा (लाख टन में ) समितियों से सीधे उठाव की मात्रा (लाख टन में )

1    2016-17    69.59     41.25

2   2017-18    56.88      41.45

3   2018-19    80.38      47.40

इसे भी पढ़े   सभी विभागों में पदोन्नति की प्रक्रिया शुरू करें: उपासने

4  2019-20    83.94      51.70

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि 2500 रू. धान का दाम देने वाली कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार के खिलाफ भाजपा नेताओं का दुष्प्रचार सीधे-सीधे जनता की आंखो में धूल झोकने की कोशिश है। धान खरीदी पर भाजपा किस मुंह से बोल रही है? भाजपा को किसानों और ग्रामीण मतदाताओं से अब कोई  समर्थन इसलिये नहीं मिलेगा क्योंकि छत्तीसगढ़ के लोग भाजपा के किसान विरोधी, गरीब विरोधी चरित्र, मजदूर विरोधी चरित्र को बखूबी समझ चुके है।

किसान और धान का सम्मान की बड़ी बड़ी बाते करने वाले भाजपा नेताओं से प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर अनुमानित धान उपार्जन हेतु लगभग 3.50 लाख गठन नये बारदानों की आवश्यकता के विरूद्ध जूट कमिश्नर, कोलकाता के माध्यम से भारत सरकार द्वारा केवल 1.45 लाख गठन नये बारदाने ही क्यो उपलब्ध कराये जा रहे है? शेष बारदानों की व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा की जा रही है।

Advertisement
Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

channel india3 mins ago

कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों के बीच किया कार्य विभाजन, जाने किसे बनाया गया कौन से विभाग का प्रभारी अधिकारी

बलरामपुर: बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में पदस्थ प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के मध्य कलेक्टर श्याम धावडे़ ने आगामी आदेश पर्यन्त के लिये...

channel india6 mins ago

पुलिस कस्टडी में हुई जूनियर इंजीनियर की मौत, हत्या के मामले में पूछताछ के लिए पुलिस ने पकड़ा था

सूरजपुर(चैनल इंडिया)। लगातार विवादों में रहने वाली सूरजपुर पुलिस फिर से एक बार विवादों में है। इस बार वज़ह है...

channel india26 mins ago

IND vs AUS : सिराज से कोहली ने कहा – मियां तनाव मत लो और मजबूत बनो

चैनल इंडिया। अपने पिता के निधन के बावजूद परिवार से दूर भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया...

channel india29 mins ago

कोविड अस्पताल में 39 कोरोना संक्रमित मरीजों का ईलाज जारी, चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ द्वारा रखा जा रहा हैं सतत् निगरानी

अम्बिकापुर: संयुक्त संचालक एवं मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक ने बताया है कि कोविड अस्पताल अम्बिकापुर में 24 नवम्बर की स्थिति...

channel india36 mins ago

प्रभारी कलेक्टर कुलदीप शर्मा ने विभागीय कार्यो की समीक्षा की, कहा- सभी गोठानो मे वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाना शुरू करें… बैठक में वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी के अनुपस्थित रहने पर कारण बताओ नोटिस जारी

अम्बिकापुर: प्रभारी कलेक्टर एवं जिला पंचायत के सीईओ कुलदीप शर्मा ने आज जिला पंचायत सभा कक्ष में साप्ताहिक समय सीमा...

खबरे अब तक

Advertisement