बड़ी खबर: भारत ने ईरान से मिलाया हाथ, चीन के मुंह पर मारा करारा तमाचा!! – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

बड़ी खबर: भारत ने ईरान से मिलाया हाथ, चीन के मुंह पर मारा करारा तमाचा!!

Published

on

बड़ी खबर: भारत ने ईरान से मिलाया हाथ, चीन के मुंह पर मारा करारा तमाचा!! channelindia.news

तेहरान (चैनल इंडिया)-  लद्दाख में चीन की चालबाजी कम होने का नाम नहीं ले रही हैं, ऐसे में भारत ने भी उसको घेरने की पूरी तैयारी कर ली है। मास्को से लौटते समय अचानक ईरान दौरे पर पहुंचे भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को तेहरान में ईरान के रक्षा मंत्री ब्रिगेडियर जनरल अमीर हातमी के साथ एक बैठक की। इस दौरान दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बैठक में क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा हुई, जिसमें अफगानिस्तान में शांति और स्थिरता बहाल करने का मुद्दा शामिल था। सौहार्दपूर्ण वातावरण में हुई इस बैठक में दोनों नेताओं ने भारत-ईरान के वर्षों पुराने सांस्कृतिक, भाषाई और सामाजिक संबंधों को मजबूत करने पर जोर दिया। इस दौरान दोनों देशों के संबंधों को अगले स्तर तक ले जाने के तरीकों पर भी चर्चा हुई।

इसे भी पढ़े   प्रदेश मे कोरोना का कहर जारी: रात 11 बजे स्वास्थ्य विभाग ने जारी की अपडेटेड मेडिकल बुलेटिन, छतीसगढ़ मे अब ऐक्टिव मरीजो का आकड़ा पहुंचा 12600 के पार

बता दें कि रक्षा मंत्री एससीओ की बैठक में हिस्सा लेने के लिए मास्को गए थे। जहां चीन के रक्षा मंत्री वेई फांगे ने उनसे मिलने का आग्रह किया। उस बैठक में राजनाथ सिंह ने चीनी पक्ष की आलोचना की और उन्हें लद्दाख में फिर से पुरानी स्थिति को बहाल करने के लिए कहा। वहां से लौटते समय राजनाथ सिंह शनिवार को अचानक ईरान के लिए रवाना हो गए। चीन लगातार अफगानिस्तान में अपना दबदबा बढ़ाने की कोशिश कर रहा है। ऐसे में भारत-ईरान समझौता होने के बाद चीन को झटका माना जा रहा है।

इसे भी पढ़े   पढ़ना-लिखना अभियान के क्रियान्वयन के लिए जिला साक्षरता मिशन का होगा गठन, पांच वर्ष में प्रदेश के एक तिहाई असाक्षरों को साक्षर किए जाने का लक्ष्य

चीन अफगानिस्तान संबंध

आर्थिक मोर्चे पर चीन, अफगानिस्तान में सबसे बड़ा विदेशी निवेशक है, जिसने तांबे के निष्कर्षण, तेल, गैस क्षेत्र और सड़क और रेल बुनियादी ढांचे में निवेश किया है। राज्य के स्वामित्व वाली चाइना नेशनल पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन का लक्ष्य तुर्कमेनिस्तान से शिनजियांग तक एक नई प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का निर्माण करना है, जो ताजिकिस्तान और उत्तरी अफगानिस्तान को काटती है। इसका नाम टीएसीटी- “तुर्कमेनिस्तान, अफगानिस्तान, ताजिकिस्तान और चीन प्रोजेक्ट” रखा गया है। इसे मध्य एशिया- चीन पाइपलाइन के विकल्प के रूप में परिकल्पित किया गया है जो उजबेकिस्तान और कजाकिस्तान से होकर गुजरती है। चीन उत्तरी अफगानिस्तान से चीन-अफगानिस्तान विशेष रेलवे परिवहन परियोजना और पांच राष्ट्र रेलवे परियोजना से जुड़ा हुआ है और सीपीईसी के माध्यम से दक्षिणी अफगानिस्तान तक पहुंचने की इसकी मंशा है।

इसे भी पढ़े   राजनाथ सिंह ने किया पाक- चीन से लगती बार्डर पर बने 44 पुलों का किया उद्घाटन, लद्दाख में खुले 7 पुल
Advertisement



Advertisement
Advertisement

CG Trending News

balrampur5 hours ago

एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में प्रवेश के लिए तृतीय काउंसलिंग 31 अक्टूबर को

बलरामपुर 27 अक्टूबर 2020।  शैक्षणिक सत्र 2020-21 अंतर्गत बलरामपुर-रामानुजगंज जिले में संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों में कक्षा 6वीं में...

balrampur5 hours ago

समय-सीमा की बैठक सम्पन्न, लंबित प्रकरणों को प्राथमिकता के साथ निराकरण करने कलेक्टर का निर्देश

बलरामपुर 27 अक्टूबर 2020। कलेक्टर श्याम धावड़े ने समय-सीमा की बैठक में विभिन्न विभागों में लंबित प्रकरणों की समीक्षा की।...

ambikapur5 hours ago

वर्मी कम्पोष्ट खाद बनाने में लापरवाही पर जनपद सीईओ को कारण बताओ नोटिस, साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक सम्पन्न

अम्बिकापुर 27 अक्टूबर 2020। कलेक्टर संजीव कुमार झा ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में...

ambikapur5 hours ago

ई-मेगा कैम्प में बड़े पैमाने पर किया जाएगा प्रकरणों का निराकरण,31 अक्टूबर को होगा आयोजन

अम्बिकापुर 27 अक्टूबर 2020। जिला एवं सत्र न्यायाधीश बी.पी. वर्मा के निर्देशानुसार राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 31 अक्टूबर को...

channel india5 hours ago

मुख्यमंत्री का निर्देश हुआ बेअसर ,पटवारी मस्त,, किसान त्रस्त

रिपोर्टर एसके द्विवेदी की रिपोर्ट बलरामपुर   | जिले के वाड्रफनगर विकासखंड में पटवारियों का दबदबा देखते ही बन रहा है...

खबरे अब तक

Advertisement