BCCI का बड़ा फैसला, 87 साल में पहली बार नहीं होगा रणजी ट्रॉफी का आयोजन, बोर्ड सचिव ने पत्र लिखकर दी जानकारी – Channelindia News
Connect with us

(BCCI

BCCI का बड़ा फैसला, 87 साल में पहली बार नहीं होगा रणजी ट्रॉफी का आयोजन, बोर्ड सचिव ने पत्र लिखकर दी जानकारी

Published

on



नई दिल्ली| बीसीसीआई यानी  बोर्ड ऑफ कंट्रोल फॉर क्रिकेट इन इंडिया ने फैसला कर लिया है कि इस सीजन में रणजी ट्रॉफी की जगह विजय हजारे ट्रॉफी खेली जाएगी। दरअसल, कोरोना ने देश में खेल की दशा और दिशा दोनों बदल दी। अप्रैल में आईपीएल के 14वें सीजन का आयोजन तय है, ऐसे में बीसीसीआई के पास किसी भी घरेलू टूर्नामेंट के आयोजन के लिए सिर्फ दो महीने का ही समय बाकी है। इन सबको ध्यान में रखते हुए बीसीसीआई ने सभी संघों से विजय हजारे ट्रॉफी और रणजी ट्रॉफी में से किसी एक के आयोजन पर राय मांगी थी।

इसे भी पढ़े   Corona Vaccine Price: कोरोना वैक्सीन की कीमत कितनी होगी ? सीरम इंस्टिट्यूट के CEO ने दिया जवाब

 

बोर्ड सचिव जय शाह के मांगे गए सुझाव पर विभिन्न राज्य क्रिकेट संघों ने अपनी राय दे दी है, जिसके आधार पर इस सीजन विजय हजारे के अलावा सीनियर महिला एकदिवसीय और अंडर-19 वीनू मांकड़ ट्रॉफी का ही आयोजन करेगा। अभी किसी भी टूर्नामेंट की तारीखों का एलान नहीं हुआ है, लेकिन अनुमान के मुताबिक फरवरी के दूसरे और तीसरे हफ्ते हजारे ट्रॉफी की शुरुआत हो सकती है।

इसे भी पढ़े   दंतेवाड़ा के कन्या आवासीय विद्यालय कारली में हुई आगजनी की घटना, कलेक्टर ने लिया संज्ञान

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आंध्र प्रदेश को छोड़कर अधिकतर राज्य संघ विजय हजारे ट्रॉफी के पक्ष में है। अधिकतर संघ छोटे फॉर्मेट के टूर्नामेंट पर सहमति जाता रहे हैं। बोर्ड सचिव ने राज्य संघों को खत लिखकर इस फैसले की सूचना दी। यह हमारे लिए बेहद अहम है कि महिलाओं की प्रतियोगिता हो। आप सभी को बताते हुए अत्यंत हर्ष हो रहा है कि हम सीनियर महिला एकदिवसीय टूर्नामेंट के साथ-साथ वीनू मांकड़ अंडर-19 टी-20 ट्रॉफी का आयोजन कर रहे हैं। घरेलू सत्र 2020-21 के लिए प्राप्त आपकी प्रतिक्रियाओँ के आधार पर ही इसला फैसला लिया गया है।

इसे भी पढ़े   Job Alert: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में इन पदों पर निकली वैकेंसी, जानें भर्ती संबंधी अहम बातें, 12 फरवरी तक करें अप्लाई
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement