राज्य में जशपुर कलेक्ट्रेट को लोक प्रशासन गतिविधियों के लिए पहला आईएसओ 9001-2015 प्रमाण पत्र प्रदान किया गया – Channelindia News
Connect with us

channel india

राज्य में जशपुर कलेक्ट्रेट को लोक प्रशासन गतिविधियों के लिए पहला आईएसओ 9001-2015 प्रमाण पत्र प्रदान किया गया

Published

on



जशपुर| गणतंत्र दिवस के दिन जशपुर जिला कलेक्ट्रेट ने राज्य में सार्वजनिक प्रशासनिक सेवाएं प्रदान करने के लिए पहला आईएसओ 9001-2015 प्रमाण पत्र प्राप्त किया है। शीघ्र शिकायत निवारण एवं क्रियान्वयन हेतु जनता को प्रदान की जाने वाली सेवाओं को प्रमाण पत्र में आधार माना गया है।

कलेक्टर श्री महादेव कावरे ने गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर संसदीय सचिव चिंतामणि महाराज के हाथों यह प्रमाण पत्र प्राप्त किए। कलेक्टर ने कहा कि श्री राहुल शर्मा के नेतृत्व वाली आईएसओ टीम ने कलेक्ट्रेट का दौरा किया और कानून व्यवस्था, लोक कल्याण से संबंधित मामलों का समय पर निपटारा, सरकारी कर्तव्यों का निर्वहन और अन्य कार्य का निरीक्षण किया। आईएसओ की टीम ने बताया कि कुछ कलेक्ट्रेट को किसी विशेष क्षेत्र के लिए आईएसओ प्रमाण पत्र प्रदान किए गए थे, लेकिन जशपुर कलेक्ट्रेट को सम्पूर्ण क्षेत्र के लिए आईएसओ प्रमाण पत्र प्रदान किया गया है।

इसे भी पढ़े   ऐसे बनाएँ पनीर खीर, जीतें मेहमानों का दिल

अपर कलेक्टर ठाकुर, और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने टीम को पूर्ण सहयोग प्रदान किया। विश्व बैंक और अन्य राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों से ऋण प्राप्त करने के लिए आईएसओ प्रमाण पत्र आवश्यक है। जशपुर जिला प्रशासन ने नागरिकों को गुणवत्तापूर्ण सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से ई गवर्नेंस को अपनाया है। ऑफिस कार्य और प्रक्रियाओं का कंप्यूटरीकरण होने से बेहतर योजना के क्रियान्वयन में और तेजी से निर्णय लेने में मदद करता है। जशपुर कलेक्टर महादेव कावरे ने कहा कि कंप्यूटरीकृत डेटा की उपलब्धता आसान और प्रभावी होती है, जिला प्रशासन जशपुर ने अब तक कई ई गवर्नेंस की पहल की है, जो जशपुर कलेक्ट्रेट को लोक प्रशासन गतिविधियों के लिए आईएसओ 9001-2015 प्रमाण-पत्र प्रदान करने में सहायक हुआ है। अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए गुणवता नीति और उसमें सुधार के लिए नियमित प्रशिक्षण आयोजन किए जा रहे हैं। आईएसओ टीम निरंतर कार्यालय में निरीक्षण करती है और सुनिश्चित करती है कि आईएसओ मापदंड बनाए रखा गया है, इससे नागरिकों को गुणवत्ता वितरण सेवा सुनिश्चित करने में मदद मिलती है।

इसे भी पढ़े   बॉलीवुड: परेश रावल ने जताई नाराज़गी, किया Tweet, बोले- Ban TikTok....
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

खबरे अब तक

Advertisement
Advertisement