Connect with us

देश-विदेश

35 के बाद मां बनने पर शिशु को हो सकता है इस बड़ी बीमारी का खतरा, बेटा होगा तो बढ़ेगी मुश्किलें

Published

on



ज्यादा उम्र की महिलाओं से जन्मे लड़कों में दिल संबंधी बीमारियों का खतरा ज्यादा होता है। एक हालिया शोध में यह दावा किया गया है। यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज द्वारा किए गए शोध में पाया गया कि उम्रदराज माताओं के गर्भनाल में होने वाले बदलाव के कारण उनसे जन्मे लड़कों के स्वास्थ्य को आगे चलकर नुकसान पहुंच सकता है।

 

35 के बाद मां बनने से मुश्किल: यह शोध चूहों पर किया गया और पाया गया कि 35 की उम्र के ऊपर मां बनने वाली महिलाओं के बेटों के साथ ऐसी समस्या हो सकती है। हालांकि, शोध में पाया गया कि देर से मां बनने वाली महिलाओं के बेटों को तो इसके नकारात्मक परिणाम भुगतने पड़ें लेकिन बेटियों में ऐसा कुछ भी देखने को नहीं मिला, बल्कि उनमें कुछ फायदा ही देखा गया। शोधकर्ताओं ने कहा कि माताओं की उम्र ज्यादा होने से गर्भनाल द्वारा बच्चे तक पोषण और ऑक्सीजन पहुंचाने की क्षमता कम हो जाती है।

READ  सरायपाली के वार्ड क्रमांक 6 से मोबिन शेख के अचानक दावेदारी से समीकरण बदला 

पहली गर्भावस्था की उम्र बढ़ती जा रही है:

शोधकर्ता डॉक्टर अमांडा पेरी ने कहा, महिलाओं में पहली गर्भावस्था की औसत आयु दिनों-दिन बढ़ती जा रही है, इसलिए यह समझना जरूरी है कि ज्यादा उम्र में मां बनने वाली महिलाओं के बच्चों में वयस्क होने पर किस तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

READ  धनतेरस पर न बनें बेवकूफ, चांदी के सिक्के खरीदने से पहले बरतें ये सावधानी

शोधकर्ताओं ने कहा कि मां को गर्भ में पल रहे बच्चे से जोड़ने वाली गर्भनाल बेहद गतिशील होती है। महिलाओं की उम्र बढ़ने से होने वाले जेनेटिक बदलावों के कारण गर्भनाल के कार्य करने की क्षमता भी प्रभावित होती है।

बढ़ती उम्र में पोषण का बंटवारा करना मुश्किल
शोधकर्ता डॉक्टर टीना नापसो ने कहा, ज्यादा उम्र में गर्भधारण करना मां के लिए काफी महंगा साबित होता है क्योंकि उसके शरीर के लिए बच्चों के साथ पोषण का बंटवारा करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

READ  समाज भवन निर्माण के लिए विधायक रेखचंद ने की पांच लाख रुपये देने की घोषणा

वैज्ञानिकों का कहना है कि शोध के दौरान देखा गया कि उम्रदराज मां और मादा भ्रूण के मामले में गर्भनाल फायदे देता हुए पाया गया। इस दौरान गर्भनाल में सकारात्मक बदलाव देखे गए जो भ्रूण के विकास को ज्यादा फायदा पहुंचाते हैं।

वहीं शोध में पता चला कि नर भ्रूण के मामले में उम्रदराज माताओं का गर्भनाल कमजोर हो जाता है और ठीक से अपना काम नहीं कर पाता।

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

खबरे छत्तीसगढ़3 hours ago

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने किया ध्वजारोहण

रायपुर ।मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती रीना बाबासाहेब कंगाले ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में ध्वजारोहण...

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर 100% मतदान वाले मतदान केन्द्र की बी.एल.ओ. श्रीमती गौरी सारथी को पुरस्कार*

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर 100% मतदान वाले मतदान केन्द्र की बी.एल.ओ. श्रीमती गौरी सारथी को पुरस्कार रायपुर। राष्ट्रीय मतदाता दिवस...

खबरे छत्तीसगढ़7 hours ago

*राष्ट्रीय मतदाता दिवस : रोचक खेलों, प्रदर्शनी, ईवीएम और वीवीपैट के जरिए युवाओं ने जाना निर्वाचन प्रक्रियाओं के बारे में*

*राष्ट्रीय मतदाता दिवस : रोचक खेलों, प्रदर्शनी, ईवीएम और वीवीपैट के जरिए युवाओं ने जाना निर्वाचन प्रक्रियाओं के बारे में*...

खबरे छत्तीसगढ़8 hours ago

*लोकसभा निर्वाचन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 10 अधिकारी पुरस्कृत*

  *निर्वाचन कार्यों के समग्र संपादन के लिए बीजापुर और ‘स्वीप’ में अच्छे कार्य के लिए धमतरी को पुरस्कार* *100%...

खबरे छत्तीसगढ़8 hours ago

‘मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदाता साक्षरता’ की थीम पर मनाया गया 10वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस*

  *रोचक खेलों, प्रदर्शनी और लघु फिल्मों के जरिए मतदाताओं को किया गया जागरूक, उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी सम्मानित*...

खबरे अब तक