जरा हटके: बूढ़े हो रहे सूर्य की कब और कैसे होगी मृत्यु? – Channelindia News
Connect with us

BREAKING

जरा हटके: बूढ़े हो रहे सूर्य की कब और कैसे होगी मृत्यु?

Published

on

अंतरिक्ष में कई ऐसी रहस्यमयी चीजें हैं जिनके बारे में वैज्ञानिक जानने की कोशिश कर रहे हैं। अब इस बीच वैज्ञानिकों के हाथ एक ऐसी तस्वीर लगी है जिससे उन्हें सूर्य को लेकर नई जानकारियां मिली हैं। इस तस्वीर को वॉशिंगटन नासा के हबल टेलीस्कोप ने ली है। आखिर सूर्य की मौत कैसे होगी इसका अनुमान इस तस्वीर से लग सकता है।

सूर्य का अंत कैसे होगा? यह एक महत्तवपूर्ण प्रश्न है जिसके बारे में वैज्ञानिक लगातार रिसर्च कर रहे हैं। यह सभी को पता है कि सूर्य आखिरी में एक व्हाइट ड्वार्फ में बदल जाएगा।  इसका मतलब यह है कि एक जल चुके तारे का अवशेष जिसका प्रकाश मंद होते होते अंधकार में तब्दील हो जाएगा। सूर्य 4.5 अरब साल पहले बना था। यह हाइड्रोजन और हीलियम गैसों की एक गर्म गेंद है। सूर्य ने अपने जीवनकाल की आधी उम्र पूरी कर ली है। सूर्य का व्यास करीब 864,000 मील और इसकी सतह का तापमान करीब 10,000 डिग्री फारेनहाइट है। आईए जानते हैं आखिर सूर्य की मौत कैसे होगी?

सूर्य की तरह ही एनजीसी 2438 प्लैनेटरी नेब्युला एक तारा है। यह पृथ्वी से करीब 1,370 प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। प्लैनेटरी नेब्युला एक विशाल गैस का बादल है। यह सूर्य जैसे समाप्त होने वाले तारों से निकलता है। रिपोर्ट्स  में बताया गया है कि सूर्य का हाइड्रोजन उसके जीवनकाल के आखिरी समय में समाप्त हो जाएगा। इसकी वजह से सूर्य अस्थिर हो जाएगा और सफेद गोले के रूप में खत्म हो जाएगा। वॉशिंगटन नासा के हबल टेलीस्कोप द्वारा ली गई तस्वीर में कई रंग नजर आए हैं जो सनस्पॉट और अन्य घटनाओं की वजह से सूर्य की चमक अन्य तारों की तुलना में बहुत कम सक्रिय मालूम पड़ती है। इस फोटो में नीले रंग का मतलब ऑक्सीजन है, हरे का हाइड्रोजन, नारंगी का नाइट्रोजन और लाल रंग का मतलब सल्फर है। नासा ने हबल स्पेस टेलीस्कोप को साल 1990 में लॉन्च किया था। इसको पृथ्वी की निचली कक्षा में भेजा गया था। अक्सर हबल टेलीस्कोप द्वारा ली गई स्पेस की अद्भुत तस्वीरें सामने आती रहती हैं। इन तस्वीरों को नासा के आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट पर देखा जा सकता है।

Advertisment

Advertisement

Advertisment

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

CG Trending News

BREAKING8 hours ago

भाजपा जिला संगठन में नेतृत्व परिवर्तन होना चाहिए: संतु दास

बीजापुर(चैनल इंडिया)|भाजपा संगठन में अन्तकर्लह और बयानबाजी सोशल मीडिया में जोरो पर बढ़ता जा रहा है ठंडी के मौसम राजनीति...

BREAKING10 hours ago

ISRO दे रहा है फ्री ऑनलाइन कोर्स करने का मौका, जानिए कैसे करें रजिस्ट्रेशन…

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन  छात्रों के लिए एक फ्री ऑनलाइन कोर्स की पेशकश कर रहा है. 12-दिवसीय पाठ्यक्रम ‘देहरादून स्थित...

BREAKING10 hours ago

वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा- देश की अर्थव्यवस्था विकास के स्थिर पथ पर है, GDP संख्या उत्साजनक होगी…

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण  ने आज की साझेदारी में शनिवार को आयोजित एचटी लीडरशिप समिट में कहा कि...

BREAKING10 hours ago

गोदावरी पावर एंड इस्पात लिमिटेड अब “ग्रेट प्लेस टू वर्क” -प्रमाणित

रायपुर(चैनल इंडिया)| गोदावरी पावर एंड इस्पात लिमिटेड (हीरा ग्रुप की इकाई ) अब “ग्रेट प्लेस टू वर्क” से प्रमाणित है।...

BREAKING10 hours ago

कमजोर पड़ा चक्रवात ‘जवाद’, छग में टला बारिश का खतरा

रायपुर(चैनल इंडिया)| समुद्री चक्रवात जवाद के रूप में मंडरा रहा खतरा टलता दिख रहा है। मौसम विभाग ने बताया है,...

Advertisement
Advertisement