तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने किया प्रदर्शन,महंगाई भत्ता और 10 सूत्रीय मांग

तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने किया प्रदर्शन,महंगाई भत्ता और 10 सूत्रीय मांग

घरघोड़ा से संवाददाता गौरीशंकर गुप्ता की रिपोर्ट 

पटवारी संघ एवं राजस्व अधिकारी आंदोलन का समर्थन

घरघोड़ा। पूरे प्रांत में आज छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के द्वारा कर्मचारियों की ज्वलंत  समस्याओं के निराकरण के लिए ध्यानाकर्षण ज्ञापन अनुविभागीय  अधिकारी राजस्व घरघोड़ा के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव के नाम भी ज्ञापन सौंपा गया।

प्रमुख मांगों में केंद्र के समान कर्मचारी एवं पेंशनरों को 50% महंगाई भत्ता देय तिथि से दिया जाए, केंद्रीय कर्मचारी एवं मध्य प्रदेश की भांति छत्तीसगढ़ के कर्मचारियों को भी 300 दिन का अवकाश नगदी करण का आदेश जारी किया जाए, पिंगुआ समिति का गठन शिक्षक ,लिपिक, स्वास्थ्य एवं अन्य संवर्गों के कर्मचारियों की वेतन विसंगति सुधार हेतु किया गया था, की रिपोर्ट जारी कर वेतन विसंगति मैं सुधार करना , लिपिक के अनुकंपा नियुक्ति में दिए गए शर्तों के पालन हेतु दक्षता परीक्षा 6 माह में आयोजित किए जाने संबंधी आदेश जारी किया जाए, अनियमित, दैनिक वेतन भोगी, कार्यभारित कर्मचारियों के नियमितीकरण संबंधी गठित समिति का प्रतिवेदन प्राप्त कर नियतिकरण किया जाए, प्रदेश के सभी संवर्गों के कर्मचारियों का लंबित पदोन्नति प्रक्रिया तत्काल प्रारंभ किया जाए, 
उपरोक्त मांगों के साथ पटवारी संघ का  आंदोलन का एवं राजस्व अधिकारी जो 3 दिन के  सामूहिक अवकाश पर हैं उनका भी समर्थन किया गया। उपरोक्त मांगों के समर्थन में आज पुरा तहसील प्रांगण कर्मचारियों से भर गया था कर्मचारियों में अपनी मांगों को लेकर आक्रोश दिख रहा था। 

इस अवसर पर जिला रायगढ़ शाखा अध्यक्ष,विकासखंड शाखा अध्यक्ष,प्रांतीय सचिव,जिला शाखा उपाध्यक्षएवं सभी विभाग के कर्मचारी उपस्थित थे। पटवारी संघ एवं तहसीलदार संघ के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।